1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. सोने पर दो प्रतिशत विशेष जीएसटी लगाने के पक्ष में सर्राफा कारोबारी, ऊंची दर से कारोबार पर पड़ेगा असर

सोने पर दो प्रतिशत विशेष जीएसटी लगाने के पक्ष में सर्राफा कारोबारी, ऊंची दर से कारोबार पर पड़ेगा असर

सर्राफा कारोबारियों ने कहा कि सरकार वास्तव में सोने के कारोबार में पारदर्शिता कायम रखना चाहती है तो उसे इस सोने के लिए ऊंची जीएसटी दर तय नहीं करनी चाहिए।

Dharmender Chaudhary Dharmender Chaudhary
Published on: May 22, 2017 17:17 IST
सोने पर दो प्रतिशत विशेष जीएसटी लगाने के पक्ष में सर्राफा कारोबारी, ऊंची दर से कारोबार पर पड़ेगा असर- India TV Paisa
सोने पर दो प्रतिशत विशेष जीएसटी लगाने के पक्ष में सर्राफा कारोबारी, ऊंची दर से कारोबार पर पड़ेगा असर

वित्त मंत्री अरुण जेटली की अगुवाई वाली वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) परिषद ने जीएसटी प्रणाली के तहत ज्यादातर वस्तुओं के लिए कर दरें तय कर दी हैं। लेकिन सोने और आभूषणों पर दर को अभी अंतिम रूप नहीं दिया जा सका। माना जा रहा है कि परिषद की अगली बैठक में सोने पर जीएसटी दर को अंतिम रूप दिया जाएगा। सोने पर चार से पांच प्रतिशत की विशेष दर से जीएसटी लगाए जाने की चर्चा है। सोेने पर फिलहाल एक प्रतिशत मूल्यवर्धित कर (वैट), एक प्रतिशत उत्पाद शुल्क लगता है। वहीं दस प्रतिशत सीमा शुल्क भी यदि इसमें जोड़ा जाए, तो कर की कुल दर 12 प्रतिशत हो जाती है।

ऑल इंडिया जेम्स एंड ज्वेलरी फेडरेशन के पूर्व अध्यक्ष एवं नेमीचंद बमाल्वा एंड संस, कोलकाता के संस्थापक बच्छराज बमाल्वा ने कहा, हम वित्त मंत्री से सोने पर जीएसटी दर 2 प्रतिशत के आसपास रखने की मांग कर रहे हैं। यदि इससे ऊंची दर रखी जाती है, तो सर्राफा का संगठित क्षेत्र प्रभावित होगा, साथ ही इस क्षेत्र में पारदर्शिता भी प्रभावित होगी।

Write a comment
bigg-boss-13