1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. Campus एक्टिववियर के IPO को शानदार रिस्पॉन्स, पहले ही दिन पूरी तरह हुआ सब्सक्राइब

Campus एक्टिववियर के IPO को शानदार रिस्पॉन्स, पहले ही दिन पूरी तरह हुआ सब्सक्राइब

बीएसई के अनुसार कैम्पस ने 3,36,25,000 इक्विटी शेयर ऑफर किए थे। जब​कि इश्यू के पहले दिन कंपनी को दोपहर 4.30 बजे तक 3,93,04,782 इक्विटी शेयरों या 1.17 गुना ज्यादा बोलियां प्राप्त हुई हैं।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: April 26, 2022 20:13 IST
Campus IPO- India TV Paisa
Photo:FILE

Campus IPO

नई दिल्‍ली। कैजुअल शूज बनाने वाली कंपनी कैंपस एक्टिववियर (Campus Activewear) के IPO को पहले दिन शानदार रिस्पॉन्स मिला है। बीएसई के आंकड़ों के अनुसार इश्यू खुलने के पहले ही दिन पूरी तरह से सब्सक्राइब हो गया है। कंपनी अपने शेयर 278-292 रुपये के दायरे में बेच रही है। ऑफर गुरुवार, 28 अप्रैल, 2022 को बंद हो जाएगा।

बीएसई के अनुसार कैम्पस ने 3,36,25,000 इक्विटी शेयर ऑफर किए थे। जब​कि इश्यू के पहले दिन कंपनी को दोपहर 4.30 बजे तक 3,93,04,782 इक्विटी शेयरों या 1.17 गुना ज्‍यादा बोलियां प्राप्त हुई हैं। रिटेल निवेशकों का हिस्‍सा अब तक 1.81 गुना सबस्‍क्राइब हुआ है। जबकि गैर-संस्थागत निवेशकों के हिस्‍से में 1.14 गुना बोलियां मिलीं। योग्य संस्थागत निवेशकों के हिस्‍से को 9 फीसद सबस्‍क्राइब किया गया है। जबकि कर्मचारियों के हिस्‍से में 64 फीसदी बोली मिली हैं। 

कैंपस एक्टिववियर आईपीओ: लॉट साइज

कंपनी इस इश्यू के जरिए 1,400 करोड़ रुपये जुटाएगी, जो पूरी तरह से कंपनी के प्रमोटरों और मौजूदा शेयरधारकों की ओर से ऑफर-फॉर-सेल (ओएफएस) है। वे ओएफएस में 4,79,50,000 शेयरों को 5 रुपये के अंकित मूल्य के साथ बेचेंगे। बता दें कि कंपनी को इश्यू से कोई आय नहीं मिलेगी।

कैंपस एक्टिववियर आईपीओ: लिस्टिंग और आवंटन तिथि

आईपीओ शेयरों के आवंटन को 4 मई को अंतिम रूप दिया जाएगा, जबकि रिफंड की शुरुआत 5 मई से शुरू होगी। शेयरों को 6 मई को डीमैट खातों में जमा किया जाएगा। आईपीओ लिस्टिंग 9 मई तक होने की संभावना है।

कंपनी का पोर्टफोलिया 

कैंपस एक्टिववियर का मुख्यालय दिल्ली में है। यह कंपनी 1995 में एक्शन शूज की एक शाखा के रूप में शुरू हुई थी। 2005 में कंपनी के प्रमोटर्स ने इसे एक्शन से पूरी तरह अलग कर नए ब्रांड के रूप में स्थापित किया। यह कंपनी किफायती कीमतों पर कई रंगों और शैलियों में जूते, फ्लोटर्स, चप्पल, फ्लिप फ्लॉप और सैंडल जैसे विभिन्न प्रकार के जूते का निर्माण करती है। कैंपस एक्टिववियर अपने उत्पादों को ऑनलाइन प्लेटफॉर्म और ऑफलाइन स्टोर के जरिए बेचता है। इसका अखिल भारतीय व्यापार वितरण नेटवर्क है, जिसके 28 राज्यों और 625 शहरों में 400 से अधिक वितरक हैं। कंपनी के पूरे भारत में 18,200 रिटेलर भी हैं।

कैंपस एक्टिववियर आईपीओ: फाइनेंशियल्स

कंपनी ने वित्तीय 2020-21 में 26.86 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ दर्ज किया, जो पिछले वर्ष के 62.37 करोड़ रुपये के बॉटमलाइन की तुलना में 57 प्रतिशत कम है। कंपनी के मुताबिक लाभ में यह कमी कोरोना लॉकडाउन के कारण आई है। इस अवधि में राजस्व लगभग 3 प्रतिशत घटकर 715.08 करोड़ रुपये हो गया। 31 दिसंबर, 2021 को समाप्त नौ महीनों के लिए, कंपनी ने 843.94 करोड़ रुपये के कुल राजस्व के साथ 84.80 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ दर्ज किया।

कैंपस एक्टिववियर आईपीओ: ग्रे मार्केट में सकारात्मक

आईपीओ से पहले ग्रे मार्केट का रुझान काफी सकारात्मक दिख रहा है। आज कैंपस का जीएमपी 60 रुपये है। एक दिन पहले कैंपस का जीएमपी 53 रुपये था। यानी ग्रे मार्केट में कंपनी का प्रदर्शन अब तक अच्छा रहा है। बाजार पर नजर रखने वाले विश्लेषकों का कहना है कि आज का कैंपस आईपीओ जीएमपी 60 रुपये का है। जो कल के मुकाबले 7 रुपये ज्यादा है। ग्रे मार्केट में कीमतों में पिछले तीन दिनों में 18 से 20 फीसदी का उछाल देखा गया है। इससे पता चलता है कि आईपीओ को अच्छे ग्राहक मिलेंगे।

एकंर राउंड में आए ये निवेशक

बीएसई के आंकड़ों के मुताबिक एंकर राउंड में भाग लेने वाले निवेशकों में अबू धाबी इन्वेस्टमेंट अथॉरिटी, फिडेलिटी फंड्स, नोमुरा, सोसाइटी जनरल, बीएनपी परिबास आर्बिट्रेज और गोल्डमैन सैक्स (सिंगापुर) और कई घरेलू म्यूचुअल फंड शामिल थे।

Write a comment
erussia-ukraine-news