Wednesday, April 24, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. मेरा पैसा
  4. FD के पीछे क्यों मरना? इन 5 सरकारी स्कीम में निवेश पर मिल रहा ज्यादा ब्याज

FD के पीछे क्यों मरना? इन 5 सरकारी स्कीम में निवेश पर मिल रहा ज्यादा ब्याज

कई ऐसे सरकारी स्कीम हैं जो एफडी से ज्यादा ब्याज दे रहें हैं। आइए जानते हैं कि ऐसे ही 5 सरकारी स्कीम, जिसपर एफडी से ज्यादा मिल रहा है ब्याज।

Alok Kumar Edited By: Alok Kumar @alocksone
Updated on: May 27, 2023 13:27 IST
FD- India TV Paisa
Photo:FILE एफडी

बैंकों की ओर से ब्याज दरों में बढ़ोतरी के बाद लोगों में फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) कराने की होड़ है। आम लोग सरकारी से लेकर प्राइवेट बैंक में ज्यादा ब्याज पाने के लिए एफडी करा रहें हैं। हालांकि, कई ऐसे सरकारी स्कीम हैं जो एफडी से ज्यादा ब्याज दे रहें हैं। आइए जानते हैं कि ऐसे ही 5 सरकारी स्कीम, जिसपर एफडी से ज्यादा मिल रहा है ब्याज। 

वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (एससीएसएस)

ब्याज दर: 8% 

सरकार द्वारा समर्थित वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (एससीएसएस), जिसमें 60 वर्ष से अधिक आयु के लोग निवेश करते हैं, उसपर 8 फीसदी की दर से ब्याज मिल रहा है। SCSS की मैच्योरिटी अवधि पांच साल है। 

सुकन्या समृद्धि योजना
ब्याज दर: 7.6%

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) एक सरकार समर्थित लघु बचत योजना है, जो एक बेटियों के नाम पर खोला जा सकता है। इस पर 7.6% की दर से ब्याज मिल रहा है। साथ ही इनकम टैक्स में भी छूट मिलती है। 

किसान विकास पत्र (केवीपी)
ब्याज दर: 7.2%

किसान विकास पत्र योजना भारतीय डाकघर द्वारा दिया जाने वाला एक निवेश विकल्प है, जो देश में बहुत सारे लोगों के लिए एक पसंदीदा विकल्प है। लंबी अवधि के निवेश की तलाश करने वालों के लिए यह एक अच्छा विकल्प है। इस स्कीम में निवेश करने पर 7.2% की दर से ब्याज मिल रहा है। 

सार्वजनिक भविष्य निधि (पीपीएफ) 
ब्याज दर: 7.1%

सार्वजनिक भविष्य निधि (पीपीएफ) अपनी कई आकर्षक विशेषताओं और लाभों के कारण एक लोकप्रिय निवेश योजना है। इस पर 7.1% की दर से ब्याज मिल रहा है। 

राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (एनएससी)
ब्याज दर: 7%

एनएससी एक निश्चित आय योजना है जिसे डाकघर में खोला जा सकता है। यह योजना कम जोखिम वाला उत्पाद है और सुरक्षित है। इस पर 7 फीसदी की दर से ब्याज मिल रहा है। 

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Personal Finance News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement