1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. धर्म
  4. त्योहार
  5. Shanivar Ke Upay: शनिवार के दिन करें ये अचूक उपाय, दुर्भाग्य होगा दूर और चमक जाएगी किस्मत

Shanivar Ke Upay: शनिवार के दिन करें ये अचूक उपाय, दुर्भाग्य होगा दूर और चमक जाएगी किस्मत

Shanivar Ke Upay: जानिए मनोवांछित फल पाने के लिए शनिवार के दिन आपको कौन से विशेष उपाय करने चाहिए?

Poonam Shukla Written By: Poonam Shukla
Updated on: August 05, 2022 22:45 IST
indiatv- India TV Hindi News
Shanivar Ke Upay

Highlights

  • आज के दिन भगवान विष्णु को चन्दन का तिलक लगाएं।
  • स्वास्थ्य की बेहतरी के लिये आज के दिन बेसन से कोई मीठी चीज़ बनाएं।

Shanivar Ke Upay: आज श्रावण शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि और शनिवार का दिन है। नवमी तिथि आज का पूरा दिन पार कर के देर रात 2 बजकर 11 मिनट तक रहेगी। आज दोपहर 12 बजकर 42 मिनट तक शुक्ल योग रहेगा। शुक्ल पक्ष का नाम तो आपने सुना ही होगा । जब तक आसमान में बढ़ता हुआ चंद्र दिखाई देता है तब तक शुक्ल पक्ष होता है। इस योग को मधुर चांदनी रात की तरह माना गया है जैसे चांदनी की किरणें स्पष्ट बरसती हैं वैसे ही कार्य में सफलता जरूर मिलती है। इस योग में गुरु या प्रभु की कृपा अवश्य बरसती है मंत्र भी सिद्ध होते हैं। साथ ही आज शाम 5 बजकर 52 मिनट तक विशाखा नक्षत्र रहेगा। आकाशमंडल में स्थित 27 नक्षत्रों में से विशाखा 16वां नक्षत्र है।

विशाखा का अर्थ होता है विभाजित या एक से अधिक शाखाओं वाला। विवाह आदि के समय सजाये गए घर के द्वार को विशाखा नक्षत्र का प्रतीक चिन्ह माना जाता है। विशाखा नक्षत्र के स्वामी देवगुरु बृहस्पति हैं। इसके तीन चरण तुला राशि में आते हैं और इसका चौथा चरण वृश्चिक राशि में आता है। साथ ही विकंकत के पेड़ का संबंध विशाखा नक्षत्र से बताया गया है। विकंकत बेर जाति के अंतर्गत आने वाला एक कँटीला झाड़ीदार वृक्ष है। इसे कई स्थानों पर पिण्डारा के नाम से भी जाना जाता है। जिन लोगों का जन्म विशाखा नक्षत्र में हुआ हो उन लोगों को आज के दिन विकंकत के पेड़ की उपासना करनी चाहिए और उसे किसी प्रकार की क्षति नहीं पहुंचानी चाहिए। 

Chanakya Niti: ऐसे स्वभाव वाले व्यक्तियों से आज ही बना लें दूरी, वरना जिंदगी पर होगा पछतावा

विशाखा नक्षत्र को शक्ति, समृद्धि, सुंदरता, उपलब्धियों और खुशियों के साथ जोड़कर देखा जाता है। इस नक्षत्र में कारीगरी, चित्रकारी और औषधी से सबंधित कार्य आरंभ करना शुभ माना जाता है। आज के दिन अलग-अलग शुभ फलों की प्राप्ति के लिए, घर-परिवार की सुख-समृद्धि में बढ़ोतरी के लिए, अपने बिजनेस को अनजाने खतरों से बचाये रखने के लिए, देवी मां की कृपा से जीवन में सफलता पाने के लिए, अपने हर काम में लाभ पाने के लिए और कामयाबी हासिल करने के लिए, किसी भी प्रकार के भय, रोग आदि से छुटकारा पाने के लिए, जीवन में तरक्की पाने के लिए, नौकरी में परेशानियों से छुटकारा पाने के लिए, जीवन से कड़वाहट को दूर करके मिठास घोलने के लिए, पापकर्म के बोध से छुटकारा पाने के लिए, अपनी दिन-दुगनी, रात-चौगनी तरक्की के लिए, अपने परिवार की खुशहाली को बनाए रखने के लिए, जीवनसाथी की परेशानियों को दूर करने के लिए, स्वास्थ्य को बेहतर करने के लिए और लंबी आयु का वरदान पाने के लिए क्या उपाय करने चाहिए हम इन सब की चर्चा करेंगे।

  • अगर आप अपनी आर्थिक तरक्की की गति को भविष्य में निरंतर बनाये रखना चाहते हैं, तो आज के दिन हल्दी की पांच साबुत गाठें और एक रूपये का सिक्का लेकर, एक पीले रंग के कपड़े में रखकर बांध दें। फिर उस कपड़े को अपने घर के मन्दिर में रखें और अपने गुरु या अपने ईष्ट देव का ध्यान करते हुए एक घी का दीपक जलाएं। जब दीपक जलते –जलते अपने आप बुझ जाये, तब उस हल्दी और एक रुपये का सिक्का बंधे पीले रंग के कपड़े को मन्दिर से उठाकर अपनी तिजोरी या अलमारी में रख लें। 
  • अगर आप आज के दिन अपने किसी महत्वपूर्ण कार्य से बाहर जा रहे हैं या अपनी किसी बिजनेस मीटिंग के लिये जा रहे हैं, तो आज के दिन केसर का तिलक लगाकर जायें। अगर केसर उपलब्ध न हो तो हल्दी का तिलक मस्तक पर लगाकर जायें। 
  • अगर आप अपनी बौद्धिक क्षमता में बढ़ोतरी करना चाहते हैं, तो आज के दिन सुबह स्नान आदि के बाद, साफ कपड़े पहनकर देव गुरु बृहस्पति का ध्यान करते हुए उनके इस मंत्र का जाप करें। मंत्र है-‘ऊँ ऐं क्लीं बृहस्पतये नमः।
  • अगर आप अपने बिजनेस की बढ़ोतरी करना चाहते हैं, तो उसके लिये आज के दिन भगवान विष्णु को चन्दन का तिलक लगाएं। साथ ही भगवान विष्णु के सामने चन्दन की खुशबू वाली धूपबत्ती जलाएं और अपने बिजनेस की बढ़ोतरी के लिये प्रार्थना करें। 
  • अगर आपके दाम्पत्य जीवन में कुछ वैचारिक मतभेद चल रहे हैं, जिसकी वजह से अक्सर आपके और आपके जीवनसाथी के बीच तकरार होती रहती है, तो इस स्थिति से बाहर निकलने के लिये आज के दिन दूध, चावल की खीर बनाएं और हो सके तो उसमें थोड़ा-सा केसर भी डाल दें। अब श्री विष्णु को इस खीर का भोग लगाएं। साथ ही इस मंत्र का जाप करें- ‘माधवाय नमः।’
  • अगर आपके परिवार के किसी सदस्य की सेहत कुछ दिनों से ठीक नहीं चल रही है तो उनके स्वास्थ्य की बेहतरी के लिये आज के दिन बेसन से कोई मीठी चीज़ बनाएं। अब उसका भोग सबसे पहले भगवान को लगाएं। उसके बाद उस बचे हुए प्रसाद को छोटे बच्चों में बांट दें और बीमार व्यक्ति को भी थोड़ा-सा प्रसाद खाने के लिये दें
  • अगर आप अपने जीवन में समृद्धि पाना चाहते हैं, तो आज के दिन आंखें बंद करके विकंकत के पेड़ का ध्यान करते हुए, उसे प्रणाम करें और विकंकत के पेड़ का पांच बार नाम लें। इसके बाद ध्यान में ही उसकी जड़ में पानी डालें और अपने जीवन में समृद्धि पाने के लिए प्रार्थना करें । 
  • अगर आपको अपने घर-मकान बनवाने या उसमें सुधार करवाने से संबंधित कुछ दिक्कतें आ रही हैं, तो आज के दिन भगवान विश्वकर्मा की पूजा करें। भगवान विश्वकर्मा की तस्वीर बाजार में आपको आसानी से मिल जायेगी। अगर बाजार में न मिल पाये, तो इंटरनेट से भगवान की फोटो डाउनलोड करके, उसे अपने मन्दिर की दीवार पर लगा लें। अब विधि-पूर्वक पुष्प और धूप-दीप आदि से भगवान विश्वकर्मा की पूजा करें ।
  • अगर आप अपने किसी शत्रु से परेशान हैं और उस पर विजय पाना चाहते हैं, तो अपने शत्रु पर विजय पाने के लिये आज के दिन एक छोटा-सा पीले रंग का कपड़ा लें और साथ ही एक कटोरी में पानी की सहायता से थोड़ी-सी हल्दी घोल लें। अब उस पीले रंग के कपड़े पर घुली हुई हल्दी से अपने शत्रु का नाम लिखें और उस कपड़े को श्री विष्णु के मन्दिर में जाकर, भगवान के चरणों में रख दें । 
  • अगर आप पढ़ाई के सिलसिले में विदेश जाना चाहते हैं, लेकिन आपका काम नहीं बन पा रहा है तो आज के दिन अपने गुरु या अपने माता-पिता का आशीर्वाद लेकर देवगुरु बृहस्पति के इस मंत्र का जाप करें। मंत्र इस प्रकार है- 'ॐ ग्रां ग्रीं ग्रौं स: बृहस्पतये नम: ।'
  • अगर आप अपने घर की सुख-समृद्धि को बढ़ाना चाहते हैं, तो उसके लिये आज के दिन एक पीतल का बर्तन लेकर उसे अपने घर के मन्दिर में स्थापित करें । उसके बाद विधि-पूर्वक उस बर्तन की पूजा करें और पूजा के बाद उस बर्तन को अपने रसोईघर में रख लें और इस्तेमाल कर लें ।

Aaj Ka Panchang 6 August 2022: जानिए शनिवार का पंचांग, राहुकाल, शुभ मुहूर्त और सूर्योदय-सूर्यास्त का समय

Disclaimer: यहां दी गई जानकारियां धार्मिक आस्था और लोक मान्यताओं पर आधारित हैं। इसका कोई भी वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है। । इंडिया टीवी एक भी बात की सत्यता का प्रमाण नहीं देता है।