1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. क्रिकेट
  5. 2 साल पहले स्टोरकीपर बनने गया था दुबई अब CSK में धोनी के साथ खेलेगा ये खिलाड़ी

2 साल पहले स्टोरकीपर बनने गया था दुबई अब CSK में धोनी के साथ खेलेगा ये खिलाड़ी

चेन्नई सुपर किंग्स की टीम IPL 2020 का खिताब जीतने के मकसद से संयुक्त अरब अमीरात (UAE) पहुंच चुकी है, लेकिन चेन्नई की टीम में एक ऐसा खिलाड़ी है जिसकी किस्मत उसे दोबोरा UAE में लेकर आई है।

India TV Sports Desk India TV Sports Desk
Updated on: August 28, 2020 14:03 IST
2 साल पहले स्टोरकीपर...- India TV Hindi
Image Source : TWITTER 2 साल पहले स्टोरकीपर बनने गया था दुबई अब CSK में धोनी के साथ खेलेगा ये खिलाड़ी

चेन्नई सुपर किंग्स की टीम IPL 2020 का खिताब जीतने के मकसद से संयुक्त अरब अमीरात (UAE) पहुंच चुकी है, लेकिन चेन्नई की टीम में एक ऐसा खिलाड़ी है जिसकी किस्मत उसे दोबोरा UAE में लेकर आई है। बस फर्क इतना है आज से 2 साल ये खिलाड़ी जब UAE आया था, तो उसे एक छोटे से कमरे में 7 लोगों के साथ रहने को मजबूर होना पड़ा था जबकि इस बार ये खिलाड़ी एक आलीशान होटल के कमरे में रह रहा है। हम बात कर रहे हैं 23 साल के केएम आसिफ की जो इस सीजन चेन्नई सुपर किंग्स की टीम का हिस्सा है।

केरल के एक गरीब परिवार से ताल्लुक रखने वाले केएम आसिफ मार्च 2016 में अच्छे जीवन की तलाश में यूएई काम करने आये थे। क्रिकेट आसिफ का पहला प्यार था लेकिन आर्थिक दिक्कतों ने उन्हें एक बोटलिंग प्लांट में स्टोरकीपर के तौर पर काम करने के लिए मजबूर कर दिया। उस वक्त किसी ने भी नहीं सोचा था कि ये केएम आसिफ 2 साल बाद धोनी के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चेन्नई की टीम में अपना जलवा बिखेरता नजर आएगा।

यह भी पढ़ें- सुनील गावस्कर ने माना, क्रिकेट के इतिहास में सचिन तेंदुलकर जैसा कोई नही

केएम आसिफ के मेंटर और केरल क्रिकेट सर्कल के जाने-माने कोच बीजू जॉर्ज के मुताबिक आसिफ एक परंपरागत तेज गेंदबाज नहीं है। बीजू जॉर्ज कहते हैं, "आसिफ जब 2014 में मेरे पास आया था तब उसके पास विशिष्ट तेज गेंदबाज का शरीर नहीं था, लेकिन उसके पास गति और शानदार बाउंसर था।"

जॉर्ज कहते हैं, "आसिफ ने आयु वर्ग में किसी तरह का क्रिकेट नहीं खेला था और समय निकलता जा रहा था। ऐसे में उसे क्रिकेट और अपने परिवार के लिए कमाने के बीच फैसला करना था। आसिफ बहुत विनम्र पृष्ठभूमि से आता हैं। उसे पता नहीं था कि सिर्फ जुनून के लिए खेलना कब तक जारी रखना है।"

यह भी पढ़ें- हार्दिक पांड्या और नताशा की पुरानी तस्वीरों ने सोशल मीडिया पर मचाई सनसनी

आसिफ के पिता एक मजदूर हैं और उनकी माँ घर पर ही काम करती हैं। उनका छोटा भाई बौद्धिक रूप से अक्षम है। ऐसे में आसिफ परिवार के लिए कमाने इकलौते हैं। UAE में पहली तनख्वाह मिलने के बाद आसिफ ने अप्रैल 2016 के आसपास घर लौटने का फैसला किया। इसके बाद  भारतीय बैंक आईडीबीआई ने ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज जेफ थॉमसन के साथ मिलकर देश भर में तेज गेंदबाजों को खोजने के लिए ट्रॉयल कराए। इसी के जरिए आसिफ का चयन हुआ और उन्हें चेन्नई की एमआरएफ पेस फाउंडेशन में ग्लेन मैकग्राथ की कोचिंग में गेंदबाजी के गुर सीखने का मौका मिला। यहीं से उनकी किस्मत पलटी और चेन्नई सुपर किंग्स टीम में शामिल होने में सफल रहे।

गौरतलब है कि केएम आसिफ को आईपीएल 2018 की हुई नीलामी में चेन्नई सुपर किंग की टीम ने 40 लाख में खरीदा था। आसिफ ने अब तक खेले 10 T20 मुकाबलों में 10 विकेट हासिल किये हैं, जबकि 8 लिस्ट ए मैचों में उन्होने 17 विकेट हासिल किये है। IPL में उन्हें अभी तक सिर्फ 2 मैच खेलने का मौका मिला है जिसमं उन्होंने 3 विकेट चटकाए हैं।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Write a comment

लाइव स्कोरकार्ड