Thursday, May 16, 2024
Advertisement

Lok Sabha Elections 2024: 'राहुल गांधी की कुंडली में प्रधानमंत्री बनने का योग नहीं', कौशांबी में गरजे केशव मौर्या, अखिलेश पर भी साधा निशाना

Lok Sabha Elections 2024: उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या ने कौशांबी में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी और अखिलेश यादव पर जमकर निशाना साधा।

Niraj Kumar Edited By: Niraj Kumar @nirajkavikumar1
Published on: May 15, 2024 20:22 IST
Keshav Prasad Mourya, Lok sabha Elections- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV केशव प्रसाद मौर्या, डिप्टी सीएम, यूपी

Lok Sabha Elections 2024: उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या बुधवार को राहुल गांधी पर जमकर बरसे और कहा कि उनकी कुंडली में प्रधानमंत्री बनने का योग नहीं है। उन्होंने राहुल गांधी को भगोड़ा भी बताया। केशव मौर्या ने दावा किया कि उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी का खाता भी नहीं खुलेगा। उन्होंने कहा कि अखिलेश खुद अपना चुनाव हार रहे हैं। चार जून को नतीजे आने तो दीजिए। केशव मौर्या ने भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी विनोद सोनकर के पक्ष में  सिराथू के सैनी कृषि मैदान में जनसभा को संबोधित करते हुए यह बात कही। 

कांग्रेस, सपा, बसपा का खाता नहीं खुलेगा

उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने कांग्रेस, सपा बसपा पर निशाना साधा और कहा कि उनका खाता भी नहीं खुलगेगा। वहीं उन्होंने सरकार के कामों को भी गिनाया। उन्होंने कहा कि सरकार ने नारी शक्ति वन्दन अधिनियम 2023 बनाया है इसके तहत महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण दिया गया है।उन्होंने कहा कि आने वाले समय मे हो सकता है कि लोकसभा और विधानसभा में महिलाओं के लिए सीटें आरक्षित हो जाए। मौर्या ने कहा कि बीजेपी किसानों, नौजवानों और महिलाओं की पार्टी है।  मोदी जी कहते है कि महिलाएं हमारी स्टार प्रचारक है।

राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा में नहीं आए

मौर्या ने राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह को लेकर भी कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के रवैये की आलोचना की। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और सपा को राम मंदिर का न्योता दिया गया था। उन्होंने कहा हम नही आएंगे। क्योंकि उनका वोट बैंक नाराज़ हो जाएगा। उनके वोटर कौन हैं? जो बंग्लादेशी घुसपैठिये हैं, जो टुकड़े-टुकड़े गैंग हैं, जो रामलला के मंदिर के स्थान पर बाबरी मस्जिद चाहता है, जो भगवान श्री कृष्ण के जन्म भूमि पर ईदगाह चाहता है। 

राम भक्तों पर गोलियां चलवाई

इसके बाद उन्होंने अखिलेश यादव पर निशाना साधा और कहा-'अखिलेश यादव के पिता जी की सरकार थी तो राम भक्तों पर गोली चलाई गई थी। उनके लिए तो यह प्रायश्चित करने का मौका था, राम भक्त माफ कर देते। लेकिन वे नहीं आए। 6 दिसम्बर 92 को जब ढांचा ढहा था तब मुख्यमंत्री कल्याण सिंह थे। कल्याण सिंह की मौत के बाद जब उनका पार्थीव शरीर विधानसभा में अंतिम दर्शन के लिए रखा गया तो अखिलेश यादव 5 सौ मीटर की दूरी तय करके अंतिम दर्शन के लिए नहीं आए लेकिन माफिया मुख्तार अंसारी जिसकी मौत हार्ट अटैक से मौत हुई तो 5 सौ किलोमीटर चले गए और वहां जा कर फातिहा पढ़ रहे थे।

(रिपोर्ट-अयमान अहमद, कौशांबी)

 

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें उत्तर प्रदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement