Thursday, July 25, 2024
Advertisement

श्रीलंका में भारी बारिश और भूस्खलन ने मचाई तबाही, 10 की मौत; 6 लोग हैं लापता

श्रीलंका में भारी बारिश के चलते बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। बाढ़ और बारिश की वजह से अब तक 10 लोगों की मौत हो गई है। 400 मकान क्षतिग्रस्त हुए हैं।

Edited By: Amit Mishra @AmitMishra64927
Published on: June 03, 2024 13:41 IST
Sri Lanka Heavy rain- India TV Hindi
Image Source : AP Sri Lanka Heavy rain

कोलंबो: श्रीलंका में भारी बारिश ने कहर बरपा रखा है। भारी बारिश के कारण आई बाढ़ की वजह से सोमवार को स्कूल बंद कर दिए गए। कई स्थानों पर भूस्खलन की घटनाएं भी हुई हैं। अधिकारियों ने इस बारे में जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि बाढ़ और बारिश संबंधी अन्य घटनाओं में कम से कम 10 लोगों की मौत हो गई और छह अन्य लोग लापता हैं। शिक्षा मंत्रालय ने कहा कि स्कूलों को दोबारा खोलने को लेकर फैसला मौसम की स्थिति पर निर्भर करेगा। 

बारिश के चलते हुई भारी तबाही 

देश में रविवार से हुई मूसलाधार बारिश के कारण कई स्थानों पर भारी तबाही हुई है, जिसके चलते घरों, खेतों और सड़कों पर पानी भर गया है और अधिकारियों को ऐहतियात के तौर पर बिजली आपूर्ति रोकनी पड़ी है। आपदा प्रबंधन केंद्र के अनुसार रविवार को राजधानी कोलंबो और सुदूर रतनपुरा जिले में छह लोगों की बहने और डूबने से मौत हो गई जबकि पहाड़ों से मिट्टी कट कर मकानों पर गिरने से तीन अन्य लोगों की जान चली गई। पेड़ गिरने से एक व्यक्ति की मौत हुई। रविवार से छह लोग लापता हैं। 

तैनात किए गए नौसेना और थलसेना के जवान

केंद्र ने एक बयान में कहा कि सोमवार तक 5,000 से अधिक लोगों को बचाव केंद्र ले जाया गया है और 400 मकान क्षतिग्रस्त हुए हैं। पीड़ितों को बचाने और भोजन व अन्य जरूरी सामान पहुंचाने के लिए नौसेना और थलसेना के जवानों को तैनात किया गया है। श्रीलंका में मई के मध्य में भारी मानसूनी बारिश होने के बाद से मौसम प्रतिकूल है। इससे पहले कई इलाकों में तेज हवाओं के चलते पेड़ उखड़ गए, जिनमें नौ लोगों की मौत हो गई। (एपी)

यह भी पढ़ें:

इजराइल ने सीरिया में किए भीषण हवाई हमले, जानमाल का हुआ भारी नुकसान; मारे गए कई लोग

जापान के इशिकावा में महसूस किए गए भूकंप के तेज झटके, 2 मकान ढहे; लोगों से की गई सावधान रहने की अपील

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement