Thursday, June 20, 2024
Advertisement

तवांग झड़प के बाद ड्रैगन पर भारत का सबसे बड़ा एक्शन, चीन के 230 से अधिक सट्टेबाजी और लोन एप होंगे बंद

India Vs China: अरुणाचल प्रदेश के तवांग में भारत और चीन सेना के बीच दिसंबर में हुई झड़प के बाद केंद्र सरकार ड्रैगन के खिलाफ सबसे बड़ा एक्शन लेने जा रही है। इससे चीन के अर्थव्यवस्था की मकर टूट जाएगी।

Written By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Updated on: February 05, 2023 23:51 IST
नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री, भारत- India TV Hindi
Image Source : AP नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री, भारत

India Vs China: अरुणाचल प्रदेश के तवांग में भारत और चीन सेना के बीच दिसंबर में हुई झड़प के बाद केंद्र सरकार ड्रैगन के खिलाफ सबसे बड़ा एक्शन लेने जा रही है। इससे चीन के अर्थव्यवस्था की मकर टूट जाएगी। भारत के इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने चीनी लिंक वाले 138 सट्टेबाजी एप और 94 ऋण देने वाले एप को बंद करने का ऐलान किया है। इससे चीन के चारों खाने चित्त हो गए हैं। भारत ने सुरक्षा चिंताओं के बीच चीन से जुड़े सट्टेबाजी और उधार देने वाले ऐप पर प्रतिबंध लगाने का यह निर्णय किया है।

भारत ने यह फैसला ऐसे वक्त में किया है, जब सीमा पर दोनों देशों के संबंध बेहद नाजुक दौर से गुजर रहे हैं और हाल ही में भारत व अमेरिका के बीच राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार स्तर की वार्ता हुई है। ऐसे में चीन पर यह बड़ी गाज गिराना भारत के कड़े रुख के बारे में बहुत कुछ दर्शाता है। अमेरिका के बाद भारत ब्रिटेन के साथ भी सुरक्षा और सहयोग के मसले पर एनएसए लेवल की वार्ता कर रहा है। सीमा संघर्ष के बाद 2020 में चीन के साथ राजनीतिक तनाव शुरू होने के बाद से भारत ने देश में कई अन्य लोकप्रिय चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगा चुका है, जिसमें टिकटॉक समेत कई गेमिंग और अन्य एप शामिल थे।

लोन एप के जरिये भारत का पैसा खींचकर जा रहा था चीन

चीन ने लोन और सट्टेबाजी एप के जरिये देश में हजारों लोगों को ठगी का शिकार बनाया है। इससे भारतीयों का पैसा खींचकर चीन भेजा जा रहा है। इन चीनी एप का इस्तेमाल युवाओं को कम ब्याज और बिना गारंटी के लोन देने और कुछ ही समय में अंधाधुंध कमाई करने का लालच देकर किया जा रहा है। इससे लोगों के खातों का पैसा चीनी ऐप के जरिये धोखाधड़ी से खींचकर चीन भेजा जा रहा है। भारतीयों की मोटी कमाई पर चीनी एप के जरिये बड़ा डाका डाला जा रहा है। चीन ने इस एप के संचालन में कुछ भारतीय लोगों को भी ऐसे ग्रुप में शामिल किया है, जो लोगों को पहले विभिन्न तरह से कई गुना कमाई करने का लालच देते हैं, फिर उन्हें ठग लेते हैं। ठगी की इस रकम का कुछ पैसा इन भारतीयों लोगों को भी मिलता है, जो अपने ही लोगों को ठगने में चीन की मदद करवा रहे हैं।

भारत की अर्थव्यवस्था पर डाका
सट्टेबाजी और लोन चीनी ऐप के जरिये भारत की अर्थव्यवस्था पर चोरी-छिपे डाका डाला जा रहा है। आमजनों की कमाई को फर्जी लिंक और फर्जी एकाउंट के जरिये उनके खाते का पैसा चीनी ऐप में ट्रांसफर करवाकर लूटा जा रहा है। इतना ही नहीं चीनी एप के जरिये जिन लोगों को लोन या कमाई का ऑफर देने के लिए कोई लिंक भेजा जा रहा है, उसके बाद उनके मोबाइल का समस्त निजी डेटा, फोटो और वीडियो क्लिप भी चीन चोरी कर रहा है। इससे लोगों के साथ ही साथ देश की सुरक्षा को भी खतरा पैदा हो गया है।

इसलिए भारत के इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने 138 सट्टेबाजी एप्स और चीनी लिंक के 94 ऋण देने वाले ऐप्स पर प्रतिबंध लगाने और ब्लॉक करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। गृह मंत्रालय ने भारत के आईटी कानून की धारा 69 के तहत इन एप्स पर प्रतिबंध लगाने और आने वाले सप्ताह तक इन एप्स को ब्लॉक करने की सिफारिश की है। आईटी कानून सरकार को अन्य कारणों के अलावा राष्ट्रीय सुरक्षा के हित में सामग्री तक सार्वजनिक पहुंच को अवरुद्ध करने की अनुमति देता है। इस खंड के तहत जारी किए गए आदेश आम तौर पर प्रकृति में गोपनीय होते हैं।

यह भी पढ़ें...

माइनस 42 डिग्री सेल्सियस तापमान में कांपा पूर्वोत्तर अमेरिका, बर्फीले तूफान के कहर से जीना मुहाल

परमाणु बम का रिमोट लेकर चल रहे पुतिन, न्यूक्लियर जंग के लिए रूस तैयार, 24 फरवरी को होने वाला है कुछ 'बड़ा'!

 

 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement