जानें पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान के पास कहां से आई ये बड़ी धमकी, 26 नवंबर बताई आखिरी तारीख

Pakistan Former PM Imran Khan Received Threats:पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान को फिर बड़ी धमकी मिली है। धमकी देने वाले ने इमरान के लिए 26 नवंबर को आखिरी तारीख बताया है। अब इसके बाद क्या होने वाला है?...यह धमकी सुनकर पाकिस्तान की सियासत में एक बार फिर से भूचाल आ गया है।

Dharmendra Kumar Mishra Edited By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Published on: November 20, 2022 15:08 IST
पाकिस्ताने के पूर्व पीएम इमरान खान- India TV Hindi
Image Source : AP पाकिस्ताने के पूर्व पीएम इमरान खान

Pakistan Former PM Imran Khan Received Threats:पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान को फिर बड़ी धमकी मिली है। धमकी देने वाले ने इमरान के लिए 26 नवंबर को आखिरी तारीख बताया है। अब इसके बाद क्या होने वाला है?...यह धमकी सुनकर पाकिस्तान की सियासत में एक बार फिर से भूचाल आ गया है। क्या इमरान खान के साथ 26 नवंबर को फिर से कोई बड़ी घटना होने वाली है, क्या इमरान को इस बार हमलावर उससे भी बड़ा सबक सिखाने वाले हैं, क्या इमरान की जान को खतरा बढ़ गया है ?...यह सब सवाल इसलिए उठ रहे हैं कि धमकी देने वाले ने 26 नवंबर को उनका पूरा खेल-तमाशा खत्म कर देने का दावा किया है। इस धमकी से इमरान खान भी हैरान हैं।

यह धमकी किसी और ने नहीं, बल्कि पाकिस्तान की सूचना एवं प्रसारण मंत्री मरियम औरंगजेब ने दी है। उन्होंने कहा कि 26 नवंबर को पीटीआइ के अध्यक्ष इमरान खान के 'तमाशा' के अंत की तारीख है। द न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, खान के लाहौर स्थित आवास से लॉन्ग मार्च के भाषण की प्रतिक्रिया में वह अपने समर्थकों को रावलपिंडी पहुंचने के लिए 26 नवंबर की तारीख का जिक्र कर रही थीं। मंत्री ने कहा, "इमरान खान, आपकी राजनीति, साजिश और तमाशा खत्म हो गया है। उनका झूठा आजादी मार्च 2014 के उनके धरने की तरह फ्लॉप सीन है। इमरान खान यह आपके लिए खत्म हो गया है, क्योंकि 26 नवंबर 'तमाशा' की समाप्ति की तारीख है।"

कहा दुबई या लंदन चले जाएं इमरान

औरंगजेब ने कहा कि अपने कार्यकर्ताओं से 26 नवंबर को रावलपिंडी पहुंचने का आग्रह करने के बजाय, खान को तोशखाना कांड को लेकर संयुक्त अरब अमीरात और ब्रिटेन में मामले दर्ज करने की तारीख की घोषणा करनी चाहिए थी। उन्होंने कहा कि इस्लामाबाद या रावलपिंडी पहुंचने के बजाय पूर्व प्रधानमंत्री को या तो यूएई या यूके के लिए अपनी फ्लाइट बुक करनी चाहिए। द न्यूज ने बताया, औरंगजेब ने कहा कि 26 नवंबर भी बीत जाएगा और खान को "किसी भी तरफ से" कोई समर्थन नहीं मिलेगा। इस बीच, पीएमएल-एन नेता उजमा बुखारी ने शनिवार को एक निजी समाचार चैनल से बात करते हुए कहा कि खान को तोशखाना घोटाले के बारे में देश को तथ्य बताना चाहिए क्योंकि उन्होंने कथित तौर पर "एक घड़ी को बहुत अधिक कीमत पर बेचा" था।

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन