1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. पीओके का चीन से कटा कनेक्शन, हीटवेव के कारण टूटा हुंजा वैली में झील पर चीन का बनाया पुल

POK disconnected from China: पीओके का चीन से कटा कनेक्शन, हीटवेव के कारण टूटा हुंजा वैली में झील पर चीन का बनाया पुल

पाकिस्तान में गर्मी ने 61 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। भीषण गर्मी की वजह से शिस्पर ग्लेशियर तेजी से पिघल रहा है और इसी वजह से हिमनद झील में बाढ़ आ गई। POK के गिलगिट-बाल्टिस्तान इलाके में चीन का बनाया एक पुल हिमनद झील की बाढ़ को झेल नहीं पाया और टूट गया। 

Shashi Rai Written by: Shashi Rai @km_shashi
Published on: May 12, 2022 13:00 IST
हीटवेव के कारण टूटा हुंजा वैली में झील पर चीन का बनाया पुल- India TV Hindi
Image Source : TWITTER हीटवेव के कारण टूटा हुंजा वैली में झील पर चीन का बनाया पुल  

Highlights

  • हीटवेव के कारण टूटा हुंजा वैली में झील पर चीन का बनाया पुल
  • पीओके का चीन से कटा कनेक्शन
  • पाकिस्तान के लिए काफी खास था यह पुल

POK disconnected from China: हीटवेव के कारण पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (POK) के हुंजा वैली में झील पर बना पुल टूट गया है। इसका वीडियो वायरल हो रहा है । वीडियो में पुल को गिरते हुए देखा जा सकता है। वीडियो में सुरक्षाकर्मी लोगों को इसके बारे में चेतावनी देते हुए भी दिखाई दे रहे हैं। जानकारी के मुताबिक यह घटना पाकिस्तान के हसनाबाद गांव में हुई। यहां शिस्पर ग्लेशियर पिघलने की वजह से झील का जलस्तर बढ़ गया। जिसके बाद बाढ़ आ गई और देखते ही देखते पुल पूरी तरह से ढह गया। 

भीषण गर्मी की वजह से पिघला ग्लेशियर

 पाकिस्तान में गर्मी ने 61 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। भीषण गर्मी की वजह से शिस्पर ग्लेशियर तेजी से पिघल रहा है और इसी वजह से हिमनद झील में बाढ़ आ गई। POK के गिलगिट-बाल्टिस्तान इलाके में चीन का बनाया एक पुल हिमनद झील की बाढ़ को झेल नहीं पाया और टूट गया। पाकिस्तान के मंत्री शेरी रहमान ने एक ट्वीट में बताया कि जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने पहले ही इसकी चेतावनी दी थी। शिस्पर ग्लेशियर से तेज बहाव की वजह से पिलर के नीचे कटाव होने लगा इस वजह से पुल ढह गया। उन्होंने 48 घंटे में यहां फिर से एक अस्थाई पुल बनाया जाएगा। 

पाकिस्तान के लिए यह पुल काफी खास था

पाकिस्तान के लिए यह पुल इसलिए खास था क्योंकि पीओके से काराकोराम वैली होकर चीन जाने वाला रास्ता इसी पुल से जुड़ता था। चीन ने इस पुल का निर्माण करवाया था। इसके गिर जाने से POK और चीन का संपर्क टूट गया है। छोटे वाहनों को सास वैली रोड की ओर मोड़ा गया है। ये दुनिया की सबसे ऊंची सड़कों में से एक है। 

erussia-ukraine-news