पाकिस्तान के नए सेना प्रमुख बने जनरल आसिम मुनीर, इमरान खान के हैं कट्टर विरोधी

Pakistan New Army Chief General ASim Munir: पाकिस्तान में आखिरकार नए सेना प्रमुख की आज 29 नवंबर को नियुक्ति कर दी गई है। पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आइएसआइ के पूर्व प्रमुख जनरल आसिम मुनीर ने मंगलवार को देश के नए सेना प्रमुख के तौर पर कार्यभार संभाल लिया। मुनीर ने जनरल कमर जावेद बाजवा की जगह ली है।

Dharmendra Kumar Mishra Edited By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Published on: November 29, 2022 13:06 IST
पाकिस्तान के नये सेनाध्यक्ष आसिम मुनीर- India TV Hindi
Image Source : AP पाकिस्तान के नये सेनाध्यक्ष आसिम मुनीर

Pakistan New Army Chief General ASim Munir: पाकिस्तान में आखिरकार नए सेना प्रमुख की आज 29 नवंबर को नियुक्ति कर दी गई है। पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आइएसआइ के पूर्व प्रमुख जनरल आसिम मुनीर ने मंगलवार को देश के नए सेना प्रमुख के तौर पर कार्यभार संभाल लिया। मुनीर ने जनरल कमर जावेद बाजवा की जगह ली है। जनरल बाजवा आज ही सेवानिवृत्त हो गए। इसके बाद उन्होंने सेना की परंपरा के मुताबिक रावलपिंडी के आर्मी हेडक्वार्टर में मुनीर को सेना की कमान सौंपी। पाकिस्तान के नए सेना प्रमुख पूर्व पीएम इमरान खान के कट्टर विरोधी बताए जाते हैं। जबकि वह मौजूदा पीएम शहबाज शरीफ के करीब हैं।

2016 में बाजपा को मिला था सेना प्रमुख का जिम्मा

पाकिस्तान के पूर्व आर्मी जनरल बाजवा को 2016 में तीन साल के लिए सेना प्रमुख नियुक्त किया गया था। साल 2019 में उन्हें तीन साल का सेवा विस्तार दिया गया था। मुनीर ने ‘जनरल हैडक्वार्टर’ में आयोजित एक समारोह में कार्यभार संभाला और इसी के साथ वह ‘आर्मी स्टाफ’ के 17वें प्रमुख बन गए। देश के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने मुनीर को 24 नवंबर को सेना प्रमुख नामित किया था। पाकिस्तान में पूर्व में कई बार तख्तापलट हुआ है, जहां सुरक्षा एवं विदेशी नीति के मामलों में सेना के पास काफी ताकत है। मुनीर पहले ऐसे सेना प्रमुख है, जिन्होंने दो सबसे शक्तिशाली खुफिया एजेंसी इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) और मिलिट्री इंटेलिजेंस (एमआई) के प्रमुख के रूप में सेवाएं दी हैं। हालांकि वह अब तक सबसे कम समय के लिए आईएसआई प्रमुख रहे। आठ महीने के अंदर 2019 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इमरान खान के कहने पर उनकी जगह लेफ्टिनेंट जनरल फैज हामिद को आईएसआई प्रमुख नियुक्त किया गया था। पाकिस्तान को अस्तित्व में आए 75 से ज्यादा साल हो चुके हैं और देश में आधे से अधिक समय तक सेना का शासन रहा है। ऐसे में देश के सुरक्षा और विदेश नीति मामलों में सेना का काफी दखल रहा है।

पाकिस्तान में सेनाध्यक्ष को लेकर लंबे समय से थी खींचातानी

पाकिस्तान में सेनाध्यक्ष के चयन को लेकर प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ और पूर्व पीएम इमरान खान के बीच कई महीने से वाद-विवाद का दौर चल रहा था। पूर्व पीएम इमरान खान की ओर से शहबाज शरीफ पर सेनाध्यक्ष की नियुक्ति में मनमानी करने का आरोप भी लगाया गया था। मगर अब जाकर आसिम मुनीर का नाम फाइनल हुआ है। इसके बाद आज मंगलवार को रावलपिंडी के 6आर्मी हेडक्वार्टर में चेंड ऑफ बैटन कमांड सेरेमनी का आयोजन कर नए सेनाध्यक्ष को कमान सौंपने की प्रक्रिया को पूरा किया जा रहा है।

मुनीर के चयन से भड़के कई सेनाधिकारी
आसिम मुनीर को पाकिस्तानी सेना का नया अध्यक्ष बनाए जाने से सेना के दो वरिष्ठ जनरलों ने बगावत का ऐलान कर दिया है। इनमें  ले. जनरल फैज हमीद और ले. जनरल अजहर अब्बास का नाम शामिल है। वह दोनों पूर्व पीएम इमरानखान के करीबी हैं। इमरान खान की सरकार में फैज हमीद पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आइएसआइ के चीफ रह चुके हैं। इनमें से फैज अहमद फैज ने आज ही जल्द सेवानिवृत्त के लिए सेना मुख्यालय को आवेदन भेज दिया है। अजहर अब्बास के बारे में भी कुछ ऐसी ही सूचना है।

मुनीर को क्यों मिला इनाम
पाकिस्तान में जिस आसिम मुनीर को नया सेनाध्यक्ष बनाया जा रहा है, वह पिछले 27 नवंबर को ही सेवानिवृत्त होने जा रहे थे। मगर पाकिस्तान की सरकार ने उन्हें तीन वर्ष का एक्टेंशन देते हुए सेनाध्यक्ष की कुर्सी पर बैठा दिया है। आसिम मुनीर को इमरान खान का सख्त विरोधी माना जाता है। इसीलिए वह पीएम शहबाज शरीफ की पहली पसंद बन सके। शहबाज शरीफ के इस दांव से इमरान खान के चारों खाने चित्त हो गए हैं। क्योंकि मुनीर के सेनाध्यथक्ष बनने के बाद इमरान की मुश्किलें बढ़ेंगी।

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन