Thursday, May 23, 2024
Advertisement

रावलपिंडी में पाकिस्तानी महिला ने 1 घंटे में दिया 6 बच्चों को जन्म, जानें कैसे हुआ ये करिश्मा

पाकिस्तान के रावलपिंडी जिला अस्पताल में एक 27 वर्षीय महिला ने एक साथ 6 बच्चों को जन्म दिया है। इससे डॉक्टर भी हैरान रह गए हैं। महिला के जन्मे 6 बच्चों में से 4 लड़के और 2 लड़कियां हैं। जच्चा-बच्चा पूरी तरह स्वस्थ हैं। डॉक्टरों ने कहा कि अगले कुछ दिनों में उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी जाएगी।

Edited By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Updated on: April 21, 2024 15:05 IST
रावलपिंडी में पाकिस्तानी महिला ने दिया 6 बच्चों को जन्म।- India TV Hindi
Image Source : GEO NEWS PAKISTAN रावलपिंडी में पाकिस्तानी महिला ने दिया 6 बच्चों को जन्म।

रावलपिंडीः पाकिस्तान की एक महिला ने एक साथ 6 बच्चों को जन्म दिया है। सभी 6 बच्चे और प्रसूता जीवित हैं। महज 1 घंटे के अंतराल में पाकिस्तानी महिला जीनत वहीद ने एक के बाद एक छह बच्चों को जन्म दिया। इससे डॉक्टर भी हैरान रह गए। डॉन की रिपोर्ट के अनुसार 27 वर्षीय महिला ने शुक्रवार को पाकिस्तान के रावलपिंडी के जिला मुख्यालय अस्पताल में इन बच्चों को जन्म दिया है। नवजात शिशुओं में से चार लड़के हैं, जबकि दो लड़कियां हैं। प्रत्येक का वजन दो पाउंड से कम है।

अस्पताल की चिकित्सा अधीक्षक डॉ. फरजाना ने कहा कि सभी छह बच्चे और उनकी मां स्वस्थ हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि मोहम्मद वहीद की पत्नी ज़ीनत वहीद ने एक घंटे के भीतर एक के बाद एक छह बच्चों को जन्म दिया। यह ज़ीनत का पहला प्रसव था। गुरुवार रात उन्हें प्रसव पीड़ा हुई और इसके बाद अस्पताल लाया गया। डॉक्टरों ने बच्चों को इनक्यूबेटर में रख दिया है। डॉ. फरजाना ने बताया कि बच्चों को जन्म देने के बाद जीनत को जटिलताएं हो गईं थी। मगर अगले कुछ दिनों में उनकी स्थिति सामान्य होने की उम्मीद है। लेबर रूम में ड्यूटी ऑफिसर ने कहा, "यह सामान्य डिलीवरी नहीं थी। प्रसव क्रम में जन्म लेने वाले पहले दो बच्चे लड़के थे और तीसरे नंबर बच्ची पर थी।" इस बीच, मीडिया से बातचीत में जीनत के परिवार वालों ने बच्चों के जन्म पर खुशी जताई। 

कैसे हुआ चमत्कार

ऐसा माना जाता है कि सेक्स्टुपलेट्स का जन्म प्रत्येक 4.5 मिलियन गर्भधारण में से केवल एक में होता है। इतनी अधिक संख्या में शिशुओं का जीवित जन्म एक दुर्लभ घटना है। एक महिला एक ही समय में दो या दो से अधिक भ्रूणों से गर्भवती हो सकती है। जब एक निषेचित अंडा गर्भाशय में प्रत्यारोपित होने से पहले विभाजित हो जाता है (समान जुड़वां बच्चों के मामले में ऐसा होता है) या जब अलग-अलग अंडे अलग-अलग शुक्राणु द्वारा निषेचित होते हैं तो जुड़वां भाई बनाते हैं। 

हाल के वर्षों में, प्रजनन तकनीकों जैसे कि ओव्यूलेशन-उत्तेजक दवाएं और इन विट्रो फर्टिलाइजेशन (आईवीएफ) को कई गर्भधारण का कारण माना जाता है। ओव्यूलेशन-उत्तेजक दवाएं कई अंडे पैदा करने में मदद करती हैं। स्टैनफोर्ड मेडिसिन के अनुसार यदि उन्हें निषेचित किया जाता है, तो उनके परिणामस्वरूप कई बच्चे हो सकते हैं। यही वजह जीनत के मामले में भी हो सकती है। 

यह भी पढ़ें

Explainer: मालदीव में संसदीय चुनाव आज, भारत विरोधी रुख और भ्रष्टाचार के आरोप में घिरने के बाद क्या होगा मुइज्जू का भविष्य?

मध्य अफ़्रीकी गणराज्य में बंगुई नदी में पलटी नाव, दिल दहला देने वाले हादसे में 58 लोगों की डूबकर मौत

 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement