Sun Explode Earth: सूरज से निकली एनर्जी से धरती पर होगा धमाका? इंसानों को मिलेंगी सुपरपावर्स, हैरान करने वाला खुलासा

अपने वीडियो में टिकटॉक यूजर ने चेतावनी दी है कि नवंबर 2022 में सूर्य धरती की तरफ एक दुर्लभ एनर्जी का विस्फोट करेगा, जो 10 लोगों को सुपरपावर देगी। ये दावा खुद को 'टाइम ट्रैवलर' बताने वाले एक टिकटॉक यूजर ने किया है।

Shilpa Written By: Shilpa
Updated on: July 27, 2022 18:07 IST
Sun Energy Explode Earth- India TV Hindi News
Image Source : TWITTER Sun Energy Explode Earth

Highlights

  • सूर्य की एनर्जी से धरती पर धमाके का दावा
  • खुद को टाइम ट्रैवलर बताने वाले ने दी जानकारी
  • नवंबर में एनर्जी से धरती पर विस्फोट की बात कही

Sun Explode Earth: अंतरिक्ष, एलियन और सूर्य सहित यूनिवर्स से जुड़ी तमाम चीजों को लेकर आए दिन नए खुलासे हो रहे हैं। अब एक ऐसी खबर सुर्खियां बटोर रही है, जिसमें कहा गया है कि सूरज से निकली एनर्जी से धरती पर धमाका हो सकता है। अगर ऐसा होता है, तो इंसानों को सुपरपावर्स मिल जाएंगी। ये दावा खुद को 'टाइम ट्रैवलर' बताने वाले एक टिकटॉक यूजर ने किया है। उसने ये भी दावा किया है कि सूर्य से निकलने वाली एनर्जी से धरती पर धमाका होगा और इससे यहां सुपरहीरो और सुपरविलन पैदा होंगे। अभी यह कहना मुश्किल होगा कि इन दावों में कितनी सच्चाई है लेकिन टाइम वोयागिंग नामक यूजर के इस वीडियो को काफी देखा जा रहा है। ये साफ है कि लोगों को भविष्य के बारे में जानकारी लेने में दिलचस्पी रहती है, फिर चाहे सामने वाला सच बता रहा हो या फिर झूठ।

डेली स्टार की रिपोर्ट के अनुसार, अपने वीडियो में टिकटॉक यूजर ने चेतावनी दी है कि नवंबर 2022 में सूर्य धरती की तरफ एक दुर्लभ एनर्जी का विस्फोट करेगा, जो 10 लोगों को सुपरपावर देगी। उसका दावा है कि विस्फोट से सबसे ज्यादा प्रभावित लोगों के पास टेलीकिनेसिस (मानसिक शक्ति या बिना किसी चीज को छुए दूरी पर स्थित वस्तुओं को हिलाने की क्षमता) से लेकर अनंत स्टैमिना तक की शक्तियां होंगी, लेकिन उनमें से सभी उनका इस्तेमाल अच्छे के लिए नहीं करेंगे। वीडियो में टिकटॉक यूजर बोलता है, 'सावधान रहें! हां, मैं एक वास्तविक टाइम ट्रैवलर हूं, जल्द ही 10 लोगों को सुपरपावर मिलेंगी। 14 नवंबर, 2022 को सूर्य से एक दुर्लभ एनर्जी की तरंगे निकलेंगी, जो पृथ्वी से टकराएंगी।' 

10 लोगों को पावर मिलने का दावा

उसने आगे कहा है, 'इससे बुरी तरह प्रभावित होने वाले 10 लोगों को सुपरपावर मिलेंगी। कुछ पावर अच्छी होंगी, जैसे कि बेहतर स्टैमिना और टेलिकिनेजीस लेकिन कुछ बेहद खराब होंगी और आपकी जिंदगी तबाह कर सकती हैं।' जैसे ही ये वीडियो शेयर किया गया, उसपर लोगों के कमेंट्स की बाढ़ आ गई। कुछ लोगों ने इन दावों से जुड़ी और जानकारी देने को कहा जबकि कई ने इन दावों पर विश्वास करने से ही इनकार कर दिया। एक यूजर ने पूछा, 'जिन लोगों को पावर मिलेंगी, उनके नाम क्या हैं।' एक अन्य यूजर ने पूछा, 'मैं अपनी पावर को पाने के लिए उस पूरे दिन बाहर रहूंगा। मैं उनका इस्तेमाल अच्छे के लिए नहीं करूंगी।' बेशक सोशल मीडिया पर इस अजीबो गरीब दावे को लेकर खूब चर्चा की जा रही है लेकिन हम इसकी पुष्टि नहीं कर सकते हैं।

 
धरती की तरफ आफत का खतरा

इससे कुछ दिन पहले सूर्य को लेकर ही एक और बड़ी खबर आई थी। जिसमें कहा गया कि आसमान से एक बड़ी आफत धरती की तरफ बढ़ रही है। इसमें कहा गया कि 19 जुलाई को एक बड़ा सौर तूफान धरती से टकरा सकता है। जिसके इतना अधिक ताकतवर होने का अनुमान है कि वह रेडियो सिग्नल और जीपीएस को प्रभावित कर सकता है। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के वैज्ञानिकों का कहना था कि तूफान के धरती से टकराने की आशंका है। अगर ऐसा हुआ तो इससे धरती पर ही कई तरह की परेशानियां खड़ी हो सकती हैं। सौरमंडल से संबंधित शोधकर्ताओं का कहना है कि तूफान की वजह से रेडियो ब्लैकआउट हो सकता है। अगर ऐसा होता है, तो जीपीएस तकनीक से चलने वाले उपकरण बंद हो जाएंगे। हालांकि इस दिन ऐसा कुछ नहीं हुआ। 

धरती पर इंसानों को नुकसान पहुंचा सकता है सौर तूफान?

सौर तूफान रेडिएशन के शक्तिशाली विस्फोट होते हैं। हालांकि तरंगों से निकलने वाले हानिकारक विकिरण पृथ्वी के वायुमंडल से जमीन पर मनुष्यों को प्रभावित नहीं कर सकते हैं। अगर ये अधिक घातक हुए, तो किसी परत में वातावरण पर असर डाल सकते हैं, जहां जीपीएस और संचार सिग्नल होते हैं। साल 2021 में कई सारी सौर गतिविधियां देखी गई थीं। क्योंकि सूर्य आग की ज्वाला फेंक रहा था। कई एस्टेरॉइड हमारे ग्रह से टकराए थे। हालांकि किसी से कोई नुकसान नहीं हुआ है। लोगों में सौर तूफान को लेकर डर इसलिए भी रहता है क्योंकि यह मोबाइल फोन के सिग्नल तक को प्रभावित कर सकता है। इससे ब्लैकआउट का खतरा बना रहता है। सौर तूफान अगर जी2 लेवल का हुआ, तो भी खतरनाक ही माना जाता है।

Latest World News

navratri-2022