Friday, May 24, 2024
Advertisement

अब रूस के खिलाफ यूक्रेन ने शुरू किया छद्म युद्ध, मॉस्को भेजे विस्फोटकों से लैस GPS युक्त बैलून

हथियारों की कमी से जूझ रहे यूक्रेन ने अब रूस के खिलाफ छद्म युद्ध छेड़ दिया है। रूस ने दावा किया है कि यूक्रेन रूसी इलाकों में विस्फोटकों से लदे गुब्बारे छोड़ रहा है। यह ड्रोन से ज्यादा खतरनाक होते हैं और सुरक्षा एजेंसियों व ट्रैकिंग सिस्टम को चकमा देकर हमले को अंजाम दे सकते हैं। यह जीपीएस से लैस हैं।

Edited By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Published on: April 18, 2024 22:45 IST
यूक्रेन द्वारा रूस भेजे गए विस्फोटक बैलून की प्रतीकात्मक फोटो- India TV Hindi
Image Source : AP यूक्रेन द्वारा रूस भेजे गए विस्फोटक बैलून की प्रतीकात्मक फोटो

यूक्रेनः रूस से जंग में खुद को पिछड़ते देख यूक्रेन ने अब मॉस्को के खिलाफ छद्म युद्ध शुरू कर दिया है। यूक्रेन ने रूस में हमला करने के लिए अब ड्रोन के बजाय विस्फोटकों से युक्त जीपीस बैलून भेज रहा है। रूस के रक्षा मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को कहा कि रूसी वायु सैन्य बलों ने यूक्रेन के पांच ऐसे गुब्बारों को नष्ट कर दिया। हालांकि न तो रूसी और न ही यूक्रेनी अधिकारियों ने इन गुब्बारों के बारे में ज्यादा विवरण प्रदान किया है। रूस के अधिकारियों और मीडिया ने हाल के हफ्तों में युद्ध के मैदान में संदिग्ध गुब्बारों की उड़ान को लेकर जानकारी दी है। फरवरी 2022 में युद्ध शुरू होने के बाद से यूक्रेन की सेना युद्ध में नयी नयी तरकीब अपना रही है।

रूसी सेनाओं के खिलाफ यूक्रेन की ओर से ड्रोन का भी इस्तेमाल किया जा रहा है। रूसी मीडिया संस्थानों की खबरों के अनुसार, यूक्रेन के गुब्बारे जीपीएस मॉड्यूल और विस्फोटक से लैस होते हैं। इनका पता लगाना कठिन होता है और ये छोटे ड्रोन की तुलना में ज्यादा हथियार ढो सकते हैं। यह स्पष्ट नहीं है कि क्या हीलियम या गर्म हवा से इन गुब्बारों का संचालन होता है। ये गुब्बारे हवा में ज्यादा देर तक उड़ने में सक्षम नहीं हैं। यदि गुब्बारा किसी विशिष्ट क्षेत्र में छोड़ा जाता है, तो जीपीएस मॉड्यूल का उपयोग विस्फोटकों को गिराने के लिए किया जाता है, जिसका उद्देश्य जमीन पर दहशत फैलाना और रूसी वायु रक्षा प्रतिष्ठानों का ध्यान भटकाना है।

रूस ने मार गिराए यूक्रेनी गुब्बारे

रूस के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि यूक्रेन के तीन गुब्बारे और एक ड्रोन वोरोनिश क्षेत्र में नष्ट कर दिए गए। दो गुब्बारों को रूस के बेलगोरोड क्षेत्र में नष्ट कर दिया गया। रूस ने यह भी दावा किया कि उसने रात के दौरान यूक्रेन की दो मिसाइल, कई रॉकेट लॉन्चर से दागे गए 19 रॉकेट और 16 ड्रोन को गिरा दिया। रक्षा मंत्रालय ने यह भी कहा कि दक्षिणी रूस के रोस्तोव क्षेत्र में तीन ड्रोन नष्ट कर दिए गए। खबरों में कहा गया है कि इस सप्ताह की शुरुआत में लिपेत्स्क और कुर्स्क क्षेत्रों में रूसी वायु रक्षा बलों द्वारा गिराए गए गुब्बारे मोर्टार बम से लैस थे। यूक्रेन को रूस की मजबूत सेना के खिलाफ युद्ध के मैदान में कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है क्योंकि पश्चिमी देशों से उसे सैन्य हथियारों का सहयोग मिलना कम हो गया है।

यूक्रेन को हो गई है हथियारों की कमी

अमेरिकी संसद में भी यूक्रेन के लिए सैन्य हथियारों के संबंध में पैकेज को मंजूरी नहीं मिल पाई है। हथियारों की कमी से जूझ रहा यूक्रेन अग्रिम मोर्चे से दूर रूस के पीछे के ठिकानों और बुनियादी ढांचे पर हमला कर रहा है। अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को कहा कि उत्तरी यूक्रेन के शहर चेर्निहाइव के एक इलाके में रूसी मिसाइल हमले में मृतकों की संख्या बढ़कर 18 हो गई, जबकि 78 लोग घायल हो गए। यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने बुधवार रात यूरोपीय संघ के नेताओं से वायु रक्षा उपकरणों की आपूर्ति की अपील की। यूक्रेन के विदेश मंत्री दिमित्रो कुलेबा ने इटली में जी7 समूह के विदेश मंत्रियों की एक बैठक में यूक्रेन के लिए मदद की मांग दोहराई। (एपी)  

यह भी पढ़ें

पाकिस्तान को चुभ रहा "कश्मीर का तीर", राष्ट्रपति जरदारी ने संसद में फिर उठाया ये मुद्दा

कतर का दोहा हमद बना दुनिया का बेस्ट इंटरनेशनल एयरपोर्ट, जानें किसको मिला कौन सा स्थान

 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Europe News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement