1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. ट्रंप के मीडिया पर हमलों के खिलाफ खड़े हुए अमेरिका के 350 अखबार

ट्रंप के मीडिया पर हमलों के खिलाफ खड़े हुए अमेरिका के 350 अखबार

अमेरिका में कम से कम 350 समाचार संस्थानों ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा मीडिया पर हमले का सामना करने और स्वतंत्र मीडिया के पक्ष में एक अभियान शुरू किया है।

India TV News Desk India TV News Desk
Published on: August 17, 2018 8:29 IST
ट्रंप, मीडिया, अमेरिका, 350 अखबार- India TV Hindi
Image Source : एपी ट्रंप के मीडिया पर हमलों के खिलाफ खड़े हुए अमेरिका के 350 अखबार

वाशिंगटन: अमेरिका में कम से कम 350 समाचार संस्थानों ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा मीडिया पर हमले का सामना करने और स्वतंत्र मीडिया के पक्ष में एक अभियान शुरू किया है। सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक, मार्थाज विनयार्ड टाइम्स से लेकर डलास मॉर्निग न्यूज, साउथ डकोटा के यांक्तन काउंटी ऑबजर्वर से मैने के बैंगोर डेली न्यूज समेत सैकड़ों अमेरिकी समाचार पत्रों ने गुरुवार को देश में प्रेस की स्वतंत्रता की रक्षा के एक संयुक्त प्रयास में अपने-अपने अखबारों में खाली जगह छोड़ी।

यह कदम मीडिया के खिलाफ राष्ट्रपति के 'डर्टी वॉर' की राष्ट्रव्यापी निंदा के लिए बॉस्टन ग्लोब द्वारा शुरू किया गया, जिसमें हैशटैग एनेमीऑफनन का प्रयोग किया गया। इसने 'प्रशासन द्वारा प्रेस पर हमले के खतरों को लेकर' एक संपादकीय लिखने का संकल्प लिया और दूसरों से भी ऐसा करने को कहा।

यह अभियान इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि इसने ही वाशिंगटन और न्यूयॉर्क की सीमा से बाहर निकालकर देश भर के समुदायों को ट्रंप के हमलों को लेकर संवाद शुरू किया है। ट्रंप अक्सर मीडिया खबरों को 'झूठी खबरें' (फेक न्यूज) बताते हैं और पत्रकारों को लोगों का दुशमन करार देते हैं।

शुरू में 100 समाचार संगठनों से मिली सकरात्मक प्रतिक्रिया 350 संगठनों तक पहुंच गई, जिसमें अमेरिका के प्रमुख समाचार पत्रों से लेकर छोटे स्थानीय अखबारों ने ट्रंप के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद की। इसमें उन्हें अंतर्राष्ट्रीय प्रकाशक जैसे ब्रिटेन के समाचार पत्र द गार्डियन का भी समर्थन हासिल हुआ।

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
X