Tuesday, February 27, 2024
Advertisement

"यदि हमने यूक्रेन में स्वतंत्रता के मुद्दे से मुंह मोड़ लिया तो इतिहास हमारे साथ कठोरता से न्याय करेगा, हम पुतिन को जीतने नहीं दे सकते": बाइडेन

अमेरिकी राष्ट्रपति ने यूक्रेन को हौसला बढ़ाने और उसे निरंतर सपोर्ट जारी रखने कि लिए अमेरिकी कांग्रेस से बड़ी अपील की है। उन्होंने कहा है कि यूक्रेन के लोगों के लिए और स्वतंत्रता के लिए साथ खड़े होइये। हम पुतिन को जीतने नहीं दे सकते। अगर हमने यूक्रेन की स्वतंत्रता का साथ नहीं दिया तो इतिहास हमारे साथ कठोर न्याय करेगा।

Dharmendra Kumar Mishra Written By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Updated on: December 07, 2023 23:30 IST
जो बाइडेन, अमेरिकी राष्ट्रपति।- India TV Hindi
Image Source : AP जो बाइडेन, अमेरिकी राष्ट्रपति।

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने रूस-यूक्रेन युद्ध को लेकर बड़ी बात कही है। बाइडेन ने यूक्रेन का सपोर्ट करने के लिए यूएस कांग्रेस से कहा कि "कोई गलती न करें, आज का वोट लंबे समय तक याद रखा जाएगा और इतिहास उन लोगों का कठोरता से न्याय करेगा जो स्वतंत्रता के उद्देश्य से मुंह मोड़ लेंगे। हम पुतिन को जीतने नहीं दे सकते। मैं इसे फिर से कहूंगा: हम पुतिन को जीतने नहीं दे सकते। यह हमारे व्यापक राष्ट्रीय हित और हमारे सभी मित्रों के अंतर्राष्ट्रीय हित में है। बाइडेन ने कहा कि हमारी जिम्मेदारी वर्ल्ड लीडर की है। पूरी दुनिया देख रही है कि अमेरिका यूक्रेन के लिए क्या कर रहा है। 

बाइ़डेन ने कहा "जरा सोचिये अगर हम यूक्रेन का सपोर्ट नहीं करते तो पूरी दुनिया क्या करने वाली है, जापान क्या करने वाला है, यूक्रेन को अभी कौन सपोर्ट कर रहा है, जी-7 देश यूक्रेन के लिए क्या कुछ करने जा रहे हैं, नाटो के सहयोगी देश क्या करने जा रहे हैं, वह सब क्या करने वाले हैं?... यदि अभी हम पीछे हट जाएं तो यह केवल दूसरों (रूस) की आक्रामकता बढ़ाएगा। इसलिए हम कांग्रेस से कह रहे हैं कि सही कदम उठाओ, यूक्रेन के लोगों के साथ खड़े हो, पुतिन के अत्याचारों के खिलाफ खड़े हो, स्वतंत्रता के साथ खड़े हो और इस लक्ष्य को पूरा करने दो।"

नमस्ते से की भाषण की शुरुआत

बाइडेन ने अपने भाषण की शुरुआत सबको दोपहर की नमस्ते से की। कहा कि मैं आज आपसे उस तत्काल जिम्मेदारी के बारे में बात करना चाहता हूं जो कांग्रेस को संयुक्त राज्य अमेरिका और स्पष्ट रूप से हमारे सहयोगियों की राष्ट्रीय सुरक्षा जरूरतों को बनाए रखने की है। अवकाश से पहले कांग्रेस को यूक्रेन के लिए पूरक वित्त पोषण पारित करने की आवश्यकता है। इसका इंतजार नहीं किया जा सकता। यह इतना सरल है। सच कहूं तो, मुझे लगता है कि यह आश्चर्यजनक है कि हम पहली बार इस बिंदु पर पहुंचे हैं। जबकि  कांग्रेस में रिपब्लिकन - पुतिन को सबसे बड़ा उपहार देने के लिए तैयार है, जिसकी वह उम्मीद कर सकते हैं और हमारे वैश्विक नेतृत्व को न केवल यूक्रेन के लिए, बल्कि उससे भी आगे छोड़ देंगे।

यूक्रेन पर सबने देखी है पुतिन की क्रूरता

बाइडेन ने कहा कि हम सभी ने पुतिन द्वारा यूक्रेन पर की गई क्रूरता देखी है। दूसरे देश पर आक्रमण करना; अपने पड़ोसियों को अपने लौह शासन के अधीन करने की कोशिश कर रहा है। अत्याचार करना - यूक्रेनी नागरिकों के खिलाफ अत्याचार; उनके विद्युत ग्रिड पर बमबारी करके उन्हें सर्दियों की ठंड और अंधेरे में डुबाने की कोशिश की जा रही है। ताकि उन्हें सर्दियों के दौरान कोई गर्मी  या बिजली न मिले। इसके अलावा हजारों यूक्रेनी बच्चों का उनके माता-पिता और परिवारों से अपहरण करना और उन्हें रूस में रखना शामिल है। रूसी सेनाएं युद्ध अपराध कर रही हैं। इस व्यवहार के लिए पुतिन को जिम्मेदार ठहराने से कौन पीछे हटने को तैयार है? हममें से कौन वास्तव में ऐसा करने के लिए तैयार है? आप जानते हैं, पिछले दो वर्षों से यूक्रेन के बहादुर लोगों ने रूस को युद्ध के मैदान में जीत से वंचित रखा है। उन्होंने व्लादिमीर पुतिन की यूक्रेन पर कब्ज़ा करने की महत्वाकांक्षा को हरा दिया है। 

यूक्रेन की मदद पर अमेरिका के लोग कर सकते हैं गर्व

बाइडेन ने कहा कि संयुक्त राज्य अमेरिका के लोग गर्व कर सकते हैं और उन्हें गर्व होना चाहिए - उन्हें इस बात पर गर्व होना चाहिए कि हमने यूक्रेन को हथियारों और गोला-बारूद की निरंतर आपूर्ति की है। इसके लिए यूक्रेन ने हमें धन्यवाद दिया है जो हमने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर उन्हें यह सब प्रदान किया है। मैंने अभी जी7 के साथ एक बैठक की, जो उन मुद्दों में से एक था जिन पर हमने सभी यूरोपीय नेताओं के साथ  चर्चा की। हम और हमारे यूरोपीय मित्र भी यूक्रेन का साथ देते रहने के लिए हैं।

नाटो पर पुतिन हमला करते हैं तो करेंगे रक्षा

बाइडेन ने कहा कि अगर पुतिन यूक्रेन ले लेते हैं, तो वह वहां नहीं रुकेंगे। यहां दीर्घावधि को देखना महत्वपूर्ण है। वह सब आगे भी चलता रहेगा। उन्होंने इसे बिल्कुल स्पष्ट कर दिया है। आगे यदि पुतिन नाटो सहयोगी पर हमला करते हैं, यदि वह आगे बढ़ते रहते हैं और फिर नाटो सहयोगी पर हमला करते हैं तो ठीक है, हमने नाटो सदस्य के रूप में खुद को प्रतिबद्ध किया है कि हम नाटो क्षेत्र के हर इंच की रक्षा करेंगे। तब हमारे पास कुछ ऐसा होगा जिसकी हमें तलाश नहीं है और जो आज हमारे पास नहीं है: अमेरिकी सैनिक रूसी सैनिकों से लड़ रहे हैं। 

यह भी पढ़ें

कनाडा में फिर भारत के खिलाफ दिखी नफरत, सिनेमाघरों में हिंदी फिल्में चलने से रोका

अमेरिका में खालिस्तानी आतंकी गुरपतवंत सिंह की हत्या की कोशिश का मामला, जांच के लिए FBI निदेशक क्रिस्टोफर रे आएंगे भारत

 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement