Sunday, April 14, 2024
Advertisement

हिंद-प्रशांत क्षेत्र में चीन को सिखाएंगे सबक, जो बाइडन और पीएम मोदी की बातचीत का होगा यह अहम एजेंडा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अमेरिका की आगामी यात्रा के दौरान उनके और राष्ट्रपति जो बाइडन के बीच होने वाली चर्चा एक मुक्त, खुले, समृद्ध और सुरक्षित हिंद-प्रशांत क्षेत्र के प्रति उनकी प्रतिबद्धता को मजबूत करने पर केंद्रित होगी।

Deepak Vyas Written By: Deepak Vyas @deepakvyas9826
Updated on: June 08, 2023 7:11 IST
पीएम मोदी की अमेरिका विजिट को लेकर चर्चा करतीं व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव काराइन जीन पियरे।- India TV Hindi
Image Source : ANI पीएम मोदी की अमेरिका विजिट को लेकर चर्चा करतीं व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव काराइन जीन पियरे।

America-India: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 22 जून को अमेरिका की यात्रा पर जाने वाले हैं। इससे पहले व्हाइट हाउस ने जानकारी दी है कि भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के बीच कई मुद्दों पर द्विपक्षीय बातचीत होगी। इसमें सबसे खास है हिंद प्रशांत क्षेत्र में शांति और सुरक्षा बनाए रखना। इस क्षेत्र में चीन ने हाल के समय में अनावश्यक दखलअंदाजी की है। ऐसे में चीन को सबक सिखाने के लिए नई स्ट्रेटेजी बनाने और इस समुद्री क्षेत्र में शांति स्थापित करने की दिशा में पीएम मोदी और जो बाइडन की यह बैठक अहम होगी। 

'बाइडन और पीएम मोदी की बातचीत में रक्षा क्षेत्र पर रहेगा खास फोकस'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अमेरिका की आगामी यात्रा के दौरान उनके और राष्ट्रपति जो बाइडन के बीच होने वाली चर्चा एक मुक्त, खुले, समृद्ध और सुरक्षित हिंद-प्रशांत क्षेत्र के प्रति उनकी प्रतिबद्धता को मजबूत करने पर केंद्रित होगी। व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव काराइन जीन पियरे ने बुधवार को कहा कि दोनों नेता रक्षा क्षेत्र पर खास ध्यान देंगे। रणनीतिक तकनीकी साझेदारी बढ़ाने पर भी चर्चा होगी। बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन और प्रथम महिला जिल बाइडन के निमंत्रण के बाद पीएम मोदी 22 जून को राजकीय यात्रा पर अमेरिका जाने वाले हैं।

हिंद प्रशांत क्षेत्र में खुले वातावरण और सुरक्षा बातचीत का अहम एजेंडा

यह पूछे जाने पर कि क्या रक्षा दोनों नेताओं के बीच चर्चा का एक प्रमुख हिस्सा होगी। काराइन जीन पियरे ने कहा, 'प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति हमारे दोनों देशों को मजबूत करने के तरीकों, स्वतंत्र, खुले, समृद्ध और सुरक्षित हिंद-प्रशांत के लिए साझा प्रतिबद्धता और रक्षा सहित हमारी रणनीतिक तकनीकी साझेदारी को बढ़ाने के हमारे साझा संकल्प पर चर्चा करेंगे।' उन्होंने कहा कि 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले भारतीय प्रधान मंत्री हैं जो 21 से 24 जून तक अमेरिका की अपनी आगामी आधिकारिक यात्रा के दौरान दूसरी बार अमेरिकी कांग्रेस की संयुक्त बैठक को संबोधित करेंगे।

उन्होंने कहा कि मेरे पास इस समय यात्रा के बारे में कहने के लिए और कुछ नहीं है। जैसे-जैसे हम करीब आते हैं, निश्चित रूप से हमारे पास साझा करने के लिए और कुछ होगा।' पियरे ने कहा कि 'भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आगामी यात्रा अमेरिका के बीच गहरी और करीबी साझेदारी की पुष्टि करेगी।'  

'अमेरिका और भारत में है स्ट्रेटेजिक पार्टनरशिप'

उन्होंने बताया कि अमेरिका और भारत के बीच रणनीतिक गठबंधन है। जो बाइडन और पीएम मोदी की इससे पहले इंडोनेशिया में अंतिम बार व्यक्तिगत बैठक हुई थी। इस बैठक में पीएम मोदी और राष्ट्रपति बाइडन ने आर्टिफि​शियल इंटेलिजेंसी, नई टेक्नोलॉजी जैसे क्षेत्रों में भविष्य में आपसी सहयोग का अधिक आदान प्रदान हो, इस पर बातचीत हुई थी। 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement