1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. दिल्ली
  4. दिल्ली में सामने आए कोविड-19 के 38 नए मामले, कोई मौत नहीं

दिल्ली में सामने आए कोविड-19 के 38 नए मामले, कोई मौत नहीं

स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी दैनिक बुलेटिन के मुताबिक कोविड-19 के नए मामलों के साथ दिल्ली में अबतक संक्रमित हुए लोगों की कुल संख्या 14,38,288 हो गई है जिनमें से 14.12 लाख रोगी संक्रमण मुक्त हो चुके हैं।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: September 14, 2021 21:04 IST
38 fresh COVID-19 cases in Delhi, no new fatality- India TV Hindi
Image Source : PTI दिल्ली में मंगलवार को कोविड-19 से 38 और लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई जबकि कोई मौत दर्ज नहीं की गई।

नयी दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में मंगलवार को कोविड-19 से 38 और लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई जबकि कोई मौत दर्ज नहीं की गई। दिल्ली में संक्रमण दर 0.05 प्रतिशत रही। यह जानकारी स्वास्थ्य विभाग द्वारा साझा किए गए आंकड़ों से मिली। दिल्ली में पिछले साल 28 मार्च के बाद सोमवार को सबसे कम 17 संक्रमण के मामले आए थे और कोई मौत दर्ज नहीं की गई थी जबकि संक्रमण की दर 0.04 प्रतिशत रही थी। राष्ट्रीय राजधानी में इस महीने अबतक केवल एक व्यक्ति की कोविड-19 से मौत दर्ज की गई है। 

स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी दैनिक बुलेटिन के मुताबिक कोविड-19 के नए मामलों के साथ दिल्ली में अबतक संक्रमित हुए लोगों की कुल संख्या 14,38,288 हो गई है जिनमें से 14.12 लाख रोगी संक्रमण मुक्त हो चुके हैं और 25,083 लोगों की जान गई है। बुलेटिन के मुताबिक राष्ट्रीय राजधानी में इस समय 400 मरीज उपचाराधीन हैं जिनमें से 98 गृह पृथकवास में रहकर अपना इलाज करा रहे हैं। इससे एक दिन पहले दिल्ली में कुल उपचाराधीन मरीजों की संख्या 377 मरीजों थी। 

राष्ट्रीय राजधानी में इस समय 93 निषिद्ध क्षेत्र हैं जो सोमवार के 92 के मुकाबले एक अधिक है। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक दिल्ली में अबतक 1,51,71,146 लाभार्थियों को कोविड-19 से बचाव के लिए वैक्सीन की कम से कम एक खुराक दी जा चुकी है। इस बीच कोरोना के घटते मामलों को देखते हुए दिल्ली विश्वविद्यालय से संबद्ध महाविद्यालय बुधवार से स्नातक और परास्नातक पाठ्यक्रम के अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों के वास्ते प्रायोगिक विषयों के लिए प्रयोगशाला सत्र शुरू करने को तैयार हैं। 

इसी कड़ी में गूगल फॉर्म पर अभिभावकों की सहमति, प्रयोगशालाओं को रोगाणु मुक्त करने और विद्यार्थियों से वैक्सीनेशन की स्थिति की जानकरी लेने जैसे कुछ कदम है, जो उठाए गए हैं। महाविद्यालयों के प्राचार्यों ने कहा कि वे बुधवार को कम संख्या में विद्यार्थियों के उपस्थित होने की उम्मीद कर रहे हैं, क्योंकि अधिकतर विद्यार्थी दिल्ली से बाहर हैं और वे आ नहीं पाएंगे।

ये भी पढ़ें

Click Mania
Modi Us Visit 2021