Saturday, June 15, 2024
Advertisement

दिल्ली में कोरोना विस्फोट, आज आए 5 हजार से ज्यादा नए मामले, 17 लोगों की मौत

दिल्ली में मंगलवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 5100 नए पॉजिटिव केस मिले जबकि 2340 लोग कोरोना वायरस को हराकर ठीक हो गए। इस दौरान 18 मरीजों की मौत हुई है। दिल्ली में अभी तक कुल 6,85,062 कोरोना वायरस के केस सामने आए चुके हैं, इनमें से 6,56,617 लोग ठीक हो गए हैं।

Edited by: IndiaTV Hindi Desk
Updated on: April 06, 2021 23:35 IST
Delhi reports over 5 thousand new Coronavirus cases, 17 fatalities- India TV Hindi
Image Source : PTI दिल्ली में मंगलवार को कोरोना वायरस के 5100 नए पॉजिटिव केस मिले जबकि 2340 लोग कोरोना वायरस को हराकर ठीक हो गए। 

नई दिल्ली: दिल्ली में मंगलवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 5100 नए पॉजिटिव केस मिले जबकि 2340 लोग कोरोना वायरस को हराकर ठीक हो गए। इस दौरान 18 मरीजों की मौत हुई है। दिल्ली में अभी तक कुल 6,85,062 कोरोना वायरस के केस सामने आए चुके हैं, इनमें से 6,56,617 लोग ठीक हो गए हैं। दिल्ली में कोरोना वायरस से कुल 11,113 मौतें हुई हैं। फिलहाल, दिल्ली में कुल 17,332 कोरोना के एक्टिव केस हैं। दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी।

कोविड-19 के मामले तेजी से बढ़ने के बीच दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि आप सरकार महामारी की स्थिति को लेकर सतर्क है और स्थिति नजर रख रही है। उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि अब तक दिल्ली में 12 लाख से अधिक लोगों को टीका लगाया जा चुका है। शहर में सोमवार को कोरोना वायरस के 3,548 नये मामले सामने आये तथा 15 और मरीजों की जान चली गयी। 

जैन ने कहा, ‘‘कल संक्रमण दर 5.54 प्रतिशत थी और करीब 65000 परीक्षण कराये गये। निजी एवं सरकारी अस्पतालों में बिस्तर बढ़ाने के लिए आदेश जारी किये गये हैं। करीब 5000 बिस्तर कोविड-19 मरीजों के लिए जोड़े जा रहे हैं। ’’ उन्होंने कहा कि इस साल बस एक दिन ऐसा रहा जब संक्रमण दर पांच प्रतिशत से अधिक हो गयी। उन्होंने कहा, ‘‘ रूख की निगरानी करने की जरूरत है और हम उस पर नजर बनाये हुए हैं। फिलहाल संक्रमण दर पूरे देश के लिए पांच प्रतिशत के पार चली गयी है। लेकिन दिल्ली में हम चौकन्ने और सतर्क हैं।’’

इस बीच अरविंद केजरीवाल सरकार ने कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए तत्काल प्रभाव से सात घंटे का रात्रि कर्फ्यू लगा दिया है। हालांकि कुछ व्यवसायों से जुड़े लोगों को इसमें छूट दी गयी है। दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) ने दिल्ली में कोविड-19 के हालात की समीक्षा की जिसके बाद यह फैसला लिया गया। डीडीएमए का रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक के रात्रि कर्फ्यू का आदेश 30 अप्रैल तक प्रभाव में रहेगा। कोविड-19 टीकाकरण के लिए कर्फ्यू की अवधि में यात्रा करने वाले लोगों को एक ई-पास की सॉफ्ट या हार्ड कॉपी अपने साथ रखनी होगी जो दिल्ली सरकार की वेबसाइट से प्राप्त की जा सकती है। 

मुख्य सचिव और डीडीएमए के कार्यकारी मंडल के अध्यक्ष द्वारा जारी आदेश के अनुसार, पिछले कुछ दिनों में राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 के मामलों में अचानक तेजी आई है और संक्रमण की उच्च दर देखी जा रही है। आदेश के अनुसार, ‘‘ऐसा महसूस किया गया कि दिल्ली के राष्ट्रीय राजधानी परिक्षेत्र (एनसीटी) में रात्रि 10 बजे से सुबह 5 बजे तक रात्रि कर्फ्यू लगाने की जरूरत है और केवल आपातकालीन कदम के तौर पर आवश्यक गतिविधियों और सेवाओं की अनुमति होगी।’’ 

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा था कि दिल्ली में कोविड-19 की चौथी लहर दिखाई दे रही है लेकिन लॉकडाउन लगाने के संबंध में कोई फैसला सार्वजनिक विचार-विमर्श के बाद ही लिया जाएगा। दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, राजधानी में सोमवार को कोविड-19 के 3,548 नये मामले सामने आये जबकि 15 और लोगों की कोरोना वायरस संक्रमण से मृत्यु हो जाने के बाद मरने वालों की संख्या बढ़ कर 11,096 पर पहुंच गयी। दिल्ली में पिछले कुछ सप्ताह में संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ने के साथ ही लोगों के संक्रमित होने की दर भी बढ़कर 5.54 प्रतिशत हो गयी है।

ये भी पढ़ें

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें दिल्ली सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement