कैसे जीतोगे गर्म रजाई और पढ़ाई की जंग? ये पंचतंत्र हैं छात्रों के लिए ठंडी का विजयमंत्र

ठंड में सबसे ज्यादा परेशानी होती है रजाई से बाहर निकलने में, लेकिन अगर आप छात्र हैं तो आपको रजाई से बाहर निकलना ही होगा। आपको समझना होगा कि अगर आपको अपनी परीक्षा में अच्छे रिजल्ट चाहिए तो इस रजाई के मोह को त्यागना होगा।

India TV News Desk Edited By: India TV News Desk
Published on: November 20, 2022 8:43 IST
How to study in winter- India TV Hindi
Image Source : FILE सांकेतिक तस्वीर

ठंड की शुरुआत हो गई है। ऐसे में सबसे ज्यादा दिक्कत छात्रों को होती है। उनकी पढ़ाई कम हो जाती है। वह रजाई से बाहर पैर नहीं निकालना चाहते हैं और सोचते हैं कि रजाई के अंदर बैठे-बैठे ही पढ़ाई कर लें। हालांकि, यह गलत है। ऐसा करने से आप पढ़ाई पर पूरी तरह से फोकस नहीं कर पाते। इसलिए आज हम आपके लिए कुछ ऐसे तरकीब लेकर आए हैं जिन्हें अपना कर आप ठंड को मात देकर अपनी पढ़ाई बेहतर कर पाएंगे।

रजाई के गुरुत्वाकर्षण से बचें

ठंड में सबसे ज्यादा परेशानी होती है रजाई से बाहर निकलने में, लेकिन अगर आप छात्र हैं तो आपको रजाई से बाहर निकलना ही होगा। आपको समझना होगा कि अगर आपको अपनी परीक्षा में अच्छे रिजल्ट चाहिए तो इस रजाई के मोह को त्यागना होगा। छात्रों को चाहिए कि वह इस ठंड में सुबह की पढ़ाई के लिए रजाई से बाहर निकल कर गर्म कपड़े पहन कर कुर्सी मेज पर पढ़ाई करें। इससे होगा यह की आपका पूरा फोकस आपकी पढ़ाई पर होगा और आपको नींद भी नहीं आएगी।

चाय से जगेगी चेतना

चाय एक ऐसी बूटी है, जिसे ज्यादातर लोग नींद भगाने के लिए पीते हैं। अगर आपको सुबह सवेरे पढ़ाई करते हुए बार-बार नींद आ रही है तो आपके लिए चाय बढ़िया सहारा बन सकती है। पढ़ाई के दौरान आप एक दो कप चाय पी सकते हैं, अगर आप चाहें तो चाय की जगह कॉफी भी पी सकते हैं। हालांकि, अगर आप हेल्थ को लेकर चिंतित रहते हैं तो आपको चाहिए की चाय हो या कॉफी दोनों बिना दूध वाली लें।

ब्रह्म मुहूर्त को बनाए ब्रह्मास्त्र

छात्रों को हमेशा कहा जाता है कि वह अपनी पढ़ाई ब्रह्म मुहूर्त में करें। ऐसा करने से छात्रों को दे फायदे होंगे, एक तो आपकी ध्यान केंद्रित करने की शक्ति बढ़ेगी, दूसरा आपका स्वास्थ्य बेहतर रहेगा। इसके साथ ही ब्रह्म मुहूर्त में हर तरफ पिनड्रॉप साइलेंस रहता है, तो छात्रों को पढ़ाई करने में कोई डिस्टर्बेंस नहीं होती है। इसी लिए कहा गया है कि छात्रों के लिए ब्रह्म मुहूर्त ब्रह्मास्त्र के बराबर है।

अल्पाहार बनेगा हथियार

यह बहुत जरूरी मंत्र है। रात में अल्पाहार सभी के लिए बेहतर होता है। इससे आपका स्वास्थ्य तो बेहतर रहता ही है, साथ ही सुबह जल्दी उठने में भी यह आपको मदद करता है। जाहिर सी बात है, अगर आपने रात में ज्यादा भोजन कर लिया तो फिर सुबह आप जल्दी नहीं उठ पाएंगे। इसलिए कहा गया है कि रात में हमेशा अल्पाहार ही लेना चाहिए, ताकि आप सुबह जल्दी उठ सकें।

नॉटिफिकेशन नहीं नोटबुक देखें

छात्रों के लिए यह सबसे बड़ी समस्या है। नॉटिफिकेशन एक ऐसी विपदा है, जो छात्रों के करियर ग्रोथ में ग्रहण की तरह काम करती है। छात्र अगर इससे बचना सीख जाएं तो वह किसी भी परीक्षा में सफल हो सकते हैं। आपने ऐसे कई छात्रों को देखा होगा जो हर रोज़ सुबह ब्रह्म मुहूर्त में पढ़ाई के लिए उठ तो जाते हैं, लेकिन थोड़ी देर पढ़ने के बाद जैसे ही उनके फोन में नोटिफिकेशन की घंटी बजती है वह फोन में लग जाते हैं और देखते ही देखते वह अपने दो तीन घंटे इसी में बर्बाद कर दते हैं। इसलिए छात्रों को विशेष कहा जा रहा है कि वह नॉटिफिकेशन छोड़ कर नोटबुक देखना शुरू करें।

Latest Education News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें एजुकेशन सेक्‍शन