1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. हेल्थ
  4. प्रेगनेंसी के दौरान नहीं बढ़ रहा वजन? इन चीजों को अपनी डाइट में करें शामिल

प्रेगनेंसी के दौरान नहीं बढ़ रहा वजन? इन चीजों को अपनी डाइट में करें शामिल

कुछ महिलाएं वजन बढ़ने को लेकर परेशान रहती हैं। गर्भावस्था के दौरान महिलाओं का वजन संतुलित होना चाहिए।

India TV Health Desk Written by: India TV Health Desk
Published on: January 27, 2022 14:05 IST
pregnant woman- India TV Hindi
Image Source : FREEPIK pregnant woman

Highlights

  • गर्भावस्था के दौरान महिलाओं का वजन संतुलित होना चाहिए
  • ना ज्यादा कम होना चाहिए और ना ज्यादा ज्यादा होना चाहिए
  • गर्भावस्था में आपका योग्य वजन भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है

गर्भावस्था के दौरान महिलाएं अपना पूरा ख्याल रखने की कोशिश करती हैं। इस दौरान वे कोशिश करती हैं वे सब पौष्टिक चीजों का सेवन करें। गर्भवती होने के दौरान के 9 महीने यादगार होते हैं। हालांकि इस दौरान आपको कई सारी बातों का ध्यान रखते हुए सावधानियां रखनी पड़ती हैं। इसमें आपका योग्य वजन भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।  कुछ महिलाएं वजन बढ़ने को लेकर परेशान रहती हैं। गर्भावस्था के दौरान महिलाओं का वजन संतुलित होना चाहिए। अर्थात वजन ना ज्यादा कम होना चाहिए और ना ज्यादा ज्यादा होना चाहिए। ऐसे में कम वजन वाली महिलाएं गर्भावस्था के दौरान कुछ घरेलू उपाय को अपनाकर अपने वजन को बढ़ा सकती हैं, तो चलिए जानते हैं कुछ ऐसे ही घरेलू उपाय-

हेल्दी फैट्स का करें सेवन-

महिलाओं को अपनी डाइट में कुछ हेल्दी फैट्स जोड़ने चाहिए। उदाहरण के तौर पर जैसे- काजू, बादाम, अखरोट, फैटी फिश, एवोकाडो, ऑलिव ऑयल आदि चीजों के अंदर फैट मौजूद होता है जो महिलाओं के वजन को बढ़ाने में उपयोगी है। ध्यान रहें कि ज्यादा कैलोरी और ज्यादा फैट एक साथ वजन को बढ़ा सकते हैं ऐसे में सही मात्रा के लिए डाइटीशियन की मदद लें।

दूध, अंडा, दही और टोफू-
इन सभी चीजों में उच्‍च मात्रा में प्रोटीन होता है। प्रेग्‍नेंसी के दौरान पर्याप्‍त प्रोटीन लेना बहुत जरूरी है। इस समय आप जो भी प्रोटीन लेती हैं, वो सारा बच्‍चे के विकास में लग जाता है।

पीयें हेल्दी ड्रिंक्स-
गर्भवती महिलाओं को इस दौरान कुछ हेल्दी ड्रिंक्स पीनी चाहिए जिससे उनका वजन संतुलित रहेगा। इन ड्रिंक्स में संतरे का जूस, गाजर का जूस या पपीते के जूस आदि शामिल हैं। इन ड्रिंक्स के अंदर भरपूर मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है। साथ ही यह जूस कैरोटीन के भी मुख्य स्रोतों में से हैं। ऐसे में महिलाएं अपनी डाइट में इन जूस को जोड़कर सकारात्मक रूप से वजन को बढ़ा सकते हैं।

क्या डायबिटीज वालों को फायदा करेगा लाल केले का सेवन? जानिए इसके अचूक फायदे

थोड़े- थोड़े समय में कुछ खाएं-
गर्भावस्था के दौरान हमें किस समय क्या खाना है इसका ध्यान रखना चाहिए। यह हमारे वजन को बढ़ाने में काफी सहायक होता है। इसीलिए एक ही समय में ज्यादा मात्रा में भोजन करने से अच्छा है कि महिलाएं दिन में चार से पांच बार थोड़ी-थोड़ी मात्रा में भोजन करें। ऐसा करने से न केवल मेटाबॉलिज्म ठीक रहता है बल्कि वजन को बढ़ाने में भी मदद मिलती है। 

उच्‍च कैलोरी वाली चीजें खाएं-
इस दौरान मां को जैसे उच्‍च कैलोरी वाली चीजें खानी चाहिए। जैसे अंकुरित अनाज, बीन्स आदि चीजें लेते रहें।

रिच प्रोटीन फूड्स को डाइट में करें शामिल-
रिच प्रोटीन फूड्स महिलाओं में सकारात्मक रूप से वजन बढ़ाने में उपयोगी है। उदाहरण के तौर पर महिलाएं अपनी डाइट में मूंगफली, बींस, राजमा, दाल, पनीर, सोयाबींस, ब्रोकली, चिया सीड्स आदि को अपनी डाइट में जोड़ सकती हैं, लेकिन इसके सेवन से पहले भी मात्रा की जानकारी डाइटीशियन से ले लें।

डायबिटीज के मरीज धड़ल्ले से करें चने के साग का सेवन, कंट्रोल में रहेगा शुगर लेवल

गर्भावस्‍था में कितना होना चाहिए वजन-
वजन कम होना यानी अंडरवेट और गर्भावस्‍था का मेल सही नहीं है। कंसीव करने से पहले महिला का कम से कम 45 कि.ग्रा वजन होना सही है। इससे कम वजन को प्रेग्‍नेंसी के लिए अंडरवेट कहा जाता है। जिन महिलाओं का 45 कि.ग्रा से कम वजन है उन्‍हें गर्भवती होने से पहले 12 सा 18 कि.ग्रा वजन बढ़ा लेना चाहिए।

Disclaimer: यह जानकारी आयुर्वेदिक नुस्खों के आधार पर लिखी गई है। इंडिया टीवी इनके सफल होने या इसकी सत्यता की पुष्टि नहीं करता है। इनके इस्तेमाल से पहले चिकित्सक का परामर्श जरूर लें।

erussia-ukraine-news