1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. चीन के टैंकों का पीछे हटना शुरू, देखिए लद्दाख से आए वीडियो

चीन के टैंकों का पीछे हटना शुरू, देखिए लद्दाख से आए वीडियो

पूर्वी लद्दाख से बड़ी खबर आयी है। भारत और चीन के बीच समझौते के बाद दोनों तरफ की सेनाओं के पीछे हटने का क्रम शुरू हो गया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: February 11, 2021 20:40 IST
LAC standoff, India china LAC standoff, Rajnath Singh Rajya Sabha, Rajnath Singh statement in Rajya - India TV Hindi
Image Source : INDIAN ARMY पूर्वी लद्दाख में चीन के टैंक वापस जाते हुए दिखाई दे रहे हैं।

नई दिल्ली। पूर्वी लद्दाख से बड़ी खबर आयी है। भारत और चीन के बीच समझौते के बाद दोनों तरफ की सेनाओं के पीछे हटने का क्रम शुरू हो गया है। ताजा वीडियो पैंगोंग झील से सटे इलाके का है। जहां चीन के टैंक पीछे हटते हुए नजर आ रहे हैं। अब तक चीन के 3 टैंक पीछे जा चुके हैं। सेना की तरफ से वीडियो जारी किया गया है। वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर डिसइंजेमेंट की प्रक्रिया शुरू हो गई है। LAC पर आखिरकार 9 महीने बाद चीन की सेना पीछे हट रही है।

एलएसी पर डिसइंजेमेंट की प्रक्रिया शुरू

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को बजट सत्र 2021 के दौरान देश को अवगत कराया कि पूर्वी लद्दाख के पैंगोंग झील के उत्तरी और दक्षिणी किनारों से सेनाओं को पीछे हटाए जाने को लेकर भारत और चीन के बीच सहमति बन गई है। सिंह ने बताया कि पैंगोंग झील क्षेत्र में चीन के साथ सेनाओं को पीछे हटाने का जो समझौता हुआ है उसके अनुसार दोनों पक्ष अग्रिम तैनाती चरणबद्ध, समन्वय और सत्यापन के तरीके से हटाएंगे। 

chinese tank move back eastern ladakh galwan valley lac video

Image Source : INDIA TV
chinese tank move back eastern ladakh galwan valley lac video

ये भी पढ़ें: पैंगोंग लेक से सैनिकों को पीछे हटाने पर भारत-चीन के बीच समझौता

भारत ने कुछ भी खोया नहीं- राजनाथ सिंह

राज्यसभा में दिए एक बयान में रक्षा मंत्री ने यह आश्वासन भी दिया कि इस प्रक्रिया के दौरान भारत ने ‘‘कुछ भी खोया नहीं है’’। उन्होंने कहा कि पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के अन्य क्षेत्रों में तैनाती और निगरानी के बारे में ‘‘कुछ लंबित मुद्दे’’ बचे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘इन पर हमारा ध्यान आगे की बातचीत में रहेगा ।’’ सिंह ने कहा, ‘‘मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि हमारे रुख और अनवरत वार्ताओं के फलस्वरूप चीन के साथ पैंगोंग झील के उत्तर एवं दक्षिण किनारों पर सेनाओं के पीछे हटने का समझौता हो गया है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ इस बात पर भी सहमति हो गई है कि पैंगोंग झील से पूर्ण तरीके से सेनाओं के पीछे हटने के 48 घंटे के अंदर वरिष्ठ कमांडर स्तर की बातचीत हो तथा बाकी बचे हुए मुद्दों पर भी हल निकाला जाए।’’ 

जानिए भारत और चीन के बीच कब से और क्या था विवाद?

आपको बता दें कि भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख इलाके में मार्च-अप्रैल 2020 में विवाद शुरू हुआ था। तब पूर्वी लद्दाख के इलाके में चीन सैनिकों ने घुसपैठ की थी और तय एलएसी पार की थी। चीन ने उस वक्त इस इलाके से पीछे हटने से मना कर दिया था। उसके बाद से ही दोनों देशों की सेनाओं के बीच सीमा पर सैन्य गतिरोध जारी है। जून 2020 में भारत चीन के बीच हुई हिंसक झड़प में 20 भारतीय जवान गलवन घाटी में शहीद हो गए। उसके बाद से दोनों देशों के बीच तनाव जारी था। इस बीच, दोनों देशों के बीच नौ दौर की सैन्य वार्ता भी हुई।

ये भी पढ़ें: लद्दाख में भारत चीन विवाद के बीच अमेरिका का बयान, कहा- हालात पर पैनी नजर

Click Mania