पीएम मोदी ने कहा, टीकों की पर्याप्त उपलब्धता के लिए सरकार प्रतिबद्ध

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को देश भर में कोरोना वायरस से संक्रमण के बढ़ते मामलों और कोविड-19 रोधी टीकाकरण अभियान के मद्देनजर सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के राज्यपालों व उपराज्यपालों से संवाद किया।

IndiaTV Hindi Desk Edited by: IndiaTV Hindi Desk
Published on: April 14, 2021 22:28 IST
Narendra Modi, Narendra Modi Corona Vaccines, Modi Corona Vaccines, Narendra Modi Vaccine- India TV Hindi News
Image Source : PTI प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि टीकाकरण के साथ-साथ कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में मूल्य और दायित्व सबसे बड़ी ताकत हैं।

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को देश भर में कोरोना वायरस से संक्रमण के बढ़ते मामलों और कोविड-19 रोधी टीकाकरण अभियान के मद्देनजर सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के राज्यपालों व उपराज्यपालों से संवाद किया। प्रधानमंत्री मोदी ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के राज्यपालों व उपराज्यपालों को इस लड़ाई में जनभागीदारी में वृद्धि का एक महत्वपूर्ण स्तंभ करार दिया। एक बार फिर (कोविड-19 मरीज की) जांच, संपर्क और उपचार करने के फार्मूले के महत्व पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि सरकार टीकों की पर्याप्त उपलब्धता के लिए प्रतिबद्ध है।

वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए संपन्न हुए इस संवाद में प्रधानमंत्री के अलावा उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी हिस्सा लिया। प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान के मुताबिक मोदी ने कहा कि टीकाकरण के साथ-साथ कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में मूल्य और दायित्व सबसे बड़ी ताकत हैं। पिछले साल इस महामारी से लड़ाई में लोगों की भागीदारी की सराहना करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि इस बार भी उसी तरह जनभागीदारी को बढ़ावा देने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा, ‘ऐसे में राज्यपालों की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण हो जाती है। राज्य सरकारों और समाज के बीच बेहतर समन्वय सुनिश्चित करने का वह बेहतर माध्यम बन सकते हैं।’

मोदी ने कहा, ‘सभी सामुदायिक संस्थाओं, राजनीतिक दलों, गैर सरकारी संगठनों (NGO) और सामजिक संस्थानों की संयुक्त शक्ति का उपयोग करना जरूरी है।’ प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत के पास कोरोना के खिलाफ लड़ाई का पिछले साल का अनुभव है और साथ ही एक बेहतर स्वास्थ्य व्यवस्था भी। उन्होंने आरटी-पीसीआर जांच पर जोर दिया और कहा कि आज पीपीई किट और अन्य जरूरी उपकरणों के मामले में देश आत्मनिर्भर है। बता दें कि बुधवार को देश में कोरोना वायरस संक्रमण के एक दिन में अब तक के सर्वाधिक 1,84,372 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 1,027 लोगों की मौत हुई है। पिछले कुछ दिनों से नए मामलों में लगातार बढ़ोत्तरी देखने को मिल रही है।

Latest India News

navratri-2022