1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. Video: देखते ही देखते गायब हो गया सड़क का बड़ा हिस्सा, हिमाचल के सिरमौर में भयंकर लैंडस्लाइड

Video: देखते ही देखते गायब हो गया सड़क का बड़ा हिस्सा, हिमाचल के सिरमौर में भयंकर लैंडस्लाइड

हिमाचल प्रदेश में सिरमौर ज़िले के बरवास में भूस्खलन की वजह से नेशनल हाइवे-707 ब्लॉक हो गया है। यहां बारिश के बाद भूस्खलन की वजह से पहाड़ में दरार पड़ गई और चट्‌टानें टूटकर गिरने लगीं।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: July 30, 2021 19:56 IST
Video: देखते ही देखते गायब हो गया सड़क का बड़ा हिस्सा, हिमाचल के सिरमौर में भयंकर लैंडस्लाइड- India TV Hindi
Image Source : ANI Video: देखते ही देखते गायब हो गया सड़क का बड़ा हिस्सा, हिमाचल के सिरमौर में भयंकर लैंडस्लाइड

नई दिल्ली। देश के कई राज्यों में जारी बारिश से जन-जीवन अस्तव्यस्त हो गया है। हिमाचल प्रदेश में सिरमौर ज़िले के बरवास में भूस्खलन की वजह से नेशनल हाइवे-707 ब्लॉक हो गया है। यहां बारिश के बाद भूस्खलन की वजह से पहाड़ में दरार पड़ गई और चट्‌टानें टूटकर गिरने लगीं। हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले के बरवास में भूस्खलन का वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। 

हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले के बरवास में भूस्खलन के वायरल वीडियो में देखा जा सकता है कि सड़क का बड़ा हिस्सा टूट गया। बताया जा रहा है कि सैकड़ों की संख्या में लोग रास्ते में फंसे हुए हैं और लंबा जाम लगा हुआ है। पोंटा साहब को कनेक्ट करने वाले नेशनल हाइवे-707 को उत्तराखंड वाले भी इस्तेमाल करते हैं। भूस्खलन की वजह से कई लोगों ने भागकर अपनी जान बचाई। 

हिमाचल में भारी बारिश ने तबाही मचा दी है। इससे 387 सड़कें बंद करनी पड़ी हैं। नदी नाले उफ़ान पर हैं। अगले 36 घंटो में भी भारी बारिश की चेतावनी दी गई है। शिमला मौसम विज्ञान केंद्र ने लोगों को किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए आने वाले दिनों में पहाड़ी राज्य में नदियों और अन्य जल निकायों के पास नहीं जाने की सलाह दी है। केन्द्र ने अगले कुछ दिनों में भारी बारिश के कारण अचानक बाढ़, भूस्खलन और पेड़ों के उखड़ने की चेतावनी भी दी।

हिमाचल प्रदेश के लाहौल-स्पीति में तीन पर्वतारोही लापता

हिमाचल प्रदेश के लाहौल-स्पीति जिले में तीन पर्वतारोही लापता हो गए हैं। एक वरिष्ठ अधिकारी ने शुक्रवार को यहां यह जानकारी दी। राज्य आपदा प्रबंधन निदेशक सुदेश कुमार मोख्ता ने कहा कि राजस्थान के पर्वतारोही निकुंज जायसवाल और उनके दो साथी घेपान पर्वत पर लापता हो गए हैं। उन्होंने कहा कि दो अन्य की जानकारी अभी तक नहीं मिली है। सिसू थाना चौकी को मिली जानकारी के अनुसार राजस्थान के बीकानेर के निवासी जायसवाल और उनके दो साथी गांव में होटल त्रिवेणी में ठहरे हुए थे। उन्होंने कहा कि वे सोमवार को घेपान पर्वत पर चढ़ाई के लिये निकले थे और 29 जुलाई को उन्हें वापस आना था। हालांकि वे अपने गंतव्य वापस नहीं लौटे। लापता पर्वतारोहियों की तलाश जारी है।

हिमाचल प्रदेश के जनजातीय विकास मंत्री और लाहौल और स्पीति से विधायक रामलाल मारकंडा ने शांशा गांव में एक नाले को पार किया, जहां क्षेत्र में बाढ़ के कारण एक पुल क्षतिग्रस्त हो गया है।

1 अगस्त तक भारी बारिश की संभावना

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के मुताबिक, 1 अगस्त तक देश के पूर्वी, पश्चिमी और मध्य भागों में तेज बारिश होने की संभावना है। इसके अलावा शुक्रवार को बिहार, राजस्थान, उत्तराखंड, छत्तीसगढ़ और झारखंड समेत कई इलाकों में भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया गया है। (इनपुट- भाषा)

Click Mania
Modi Us Visit 2021