1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. Himachal Pradesh: हिमाचल में एंट्री करनी है तो 16 अप्रैल से कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट दिखाना होगा

Himachal Pradesh: हिमाचल में एंट्री करनी है तो 16 अप्रैल से कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट दिखाना होगा

हिमाचल प्रदेश ने रविवार को 16 अप्रैल से सात अधिकतम कोरोना मामलों वाले राज्यों से आने वाले लोगों को प्रवेश के लिए 72 घंटों के भीतर कराए गए आरटी-पीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य कर दिया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: April 11, 2021 20:02 IST
हिमाचल में एंट्री करनी है तो 16 अप्रैल से कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट दिखाना होगा- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO हिमाचल में एंट्री करनी है तो 16 अप्रैल से कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट दिखाना होगा

शिमला। हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने रविवार को कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर प्रदेशवासियों से अपील करते हुए कहा कि उन राज्यों से आने वाले सभी लोगों के लिए एक एडवाइजरी जारी की गई है जो ज्यादा कोरोना संक्रमण वाले राज्यों से आ रहे हैं वो अपने पिछले 72 घंटे की आरटी-पीसीआर रिपोर्ट के साथ ही राज्य में प्रवेश करें। सीएम जयराम ठाकुर ने ये जानकारी एक ट्वीट के जरिए दी है।

साथ ही सीएम जयराम ठाकुर ने लोगों से मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने की भी अपील की है। अनावश्यक रूप से भीड़ वाली जगहों पर जाने से परहेज करना चाहिए। सीएम ने कहा कि हिमाचल प्रदेश के स्कूल कॉलेज 21 अप्रैल तक बंद रहेंगे। साथ ही शादियों में गाइडलाइंस का पालन करें साथ ही नवरात्र में भी सावधानी बरतें।

देश में कोविड-19 मामलों में बढ़ोतरी के बीच हिमाचल प्रदेश ने रविवार को 16 अप्रैल से सात अधिकतम कोरोना मामलों वाले राज्यों से आने वाले लोगों को प्रवेश के लिए 72 घंटों के भीतर कराए गए आरटी-पीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य कर दिया है। अधिकतम मामलों वाले राज्य पंजाब, दिल्ली, महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक, राजस्थान और उत्तर प्रदेश हैं।

उन्होंने कहा, "अभी के लिए , सरकार ने पर्यटकों को राज्य में आने की अनुमति देने का फैसला किया है, लेकिन साथ ही, होटल मालिकों और पर्यटकों को सरकार द्वारा जारी मानक संचालन प्रक्रियाओं का सख्ती से पालन करने के लिए कहा है।"

माइक्रो कंटेनमेंट जोन की प्रभावी निगरानी के साथ टेस्टिंग, ट्रेसिंग और ट्रीटमेंट की रणनीति पर जोर देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि 70 प्रतिशत परीक्षणों के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए आरटी-पीसीआर परीक्षणों पर भी अधिक जोर दिया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि किसी भी घटना को पूरा करने के लिए राज्य के स्वास्थ्य विभाग को भी बिस्तर की क्षमता बढ़ाने के लिए कदम उठाने चाहिए। इसके अलावा, यह टीका का न्यूनतम अपव्यय सुनिश्चित करना चाहिए। पिछले 45 दिनों के दौरान, राज्य ने कोरोना के कुल 10,690 नए मामले सामने आए हैं, जबकि इस दौरान 120 लोगों की मौत हुई हैं। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि बसों और सार्वजनिक परिवहन वाहनों में अधिक भीड़ नहीं होने दी जाएगी।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X