1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. भारत-चीन तनाव: PM मोदी ने बुलाई ऑल पार्टी मीटिंग, राजनीतिक दलों के अध्यक्ष होंगे शामिल

भारत-चीन तनाव: PM मोदी ने बुलाई ऑल पार्टी मीटिंग, राजनीतिक दलों के अध्यक्ष होंगे शामिल

लद्दाख में LAC पर भारत और चीन की सेनाओं के बीच हुई खूनी झड़प के बाद पैदा हुए हालातों के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी राजनीतिक दलों की बैठक बुलाई है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: June 17, 2020 13:54 IST
PM Modi called all party meeting to discuss India China border situation- India TV Hindi
Image Source : PTI PM Modi called all party meeting to discuss India China border situation

नई दिल्ली: लद्दाख में LAC पर भारत और चीन की सेनाओं के बीच हुई खूनी झड़प के बाद पैदा हुए हालातों के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी राजनीतिक दलों की बैठक बुलाई है। प्रधानमंत्री के दफ्तर की ओर से यह जानकारी दी गई है। PMO ने ट्वीट कर कहा, "भारत-चीन सीमा क्षेत्रों में स्थिति पर चर्चा करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 19 जून को शाम 5 बजे सर्वदलीय बैठक बुलाई है। विभिन्न राजनीतिक दलों के अध्यक्ष इस वर्चुअल मीटिंग में हिस्सा लेंगे।"

बता दें कि विपक्षी दल भारत-चीन के तनाव पर पीएम मोदी को घेर रहे हैं। राहुल गांधी ने बुधवार को कहा, ‘‘दो दिन पहले हिंदुस्तान के 20 सैनिक शहीद हुए। उन्हें उनके परिवारों से छीना गया है। चीन ने हमारी जमीन हड़पी है। प्रधानमंत्री जी, आप चुप क्यों हैं? आप कहां छिप गए हैं?’’ कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री जी, आप बाहर आइए। पूरा देश, हम सब आपके साथ खड़े हैं। देश को सच्चाई बताइए। डरिए मत।’’

इससे पहले, उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘प्रधानमंत्री चुप क्यों हैं? वह छिपे हुए क्यों हैं? अब बहुत हो चुका। हमें यह जानने की जरूरत है कि क्या हुआ है। हमारे सैनिकों की हत्या करने की चीन की हिम्मत कैसे हुई? हमारी भूमि पर कब्जा करने की उनकी हिम्मत कैसे हुई?’’ वहीं, शिवसेना ने भी पीएम मोदी से इस मामले पर बोलने की अपील की है। 

संजय राउत ने कहा, "सीमा पर जो कुछ भी हुआ उसके लिए हम जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी या राहुल गांधी को जिम्मेदार नहीं ठहरा सकते। हम सभी 20 जवानों की शहादत के लिए जिम्मेदार हैं। पीएम जो भी फैसला लेंगे, सभी पार्टियां उनका समर्थन करेंगी। लेकिन उन्हें बताना चाहिए कि क्या गलत हुआ?"

ऐसे में अब पीएम मोदी ने मामले के बारे में सभी राजनीतिक दलों को जानकारी देने के लिए ऑल पार्टी मीटिंग बुलाई है। वहीं, हालातों के बार में बुधवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बयान में कहा कि गलवान में सैनिकों की क्षति परेशान करने वाली और दर्दनाक है। हमारे सैनिकों ने अनुकरणीय साहस और वीरता का प्रदर्शन किया और भारतीय सेना की सर्वोच्च परंपराओं में अपने जीवन का बलिदान दिया।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि राष्ट्र जवानों की बहादुरी और बलिदान को कभी नहीं भूलेगा। मेरी संवेदनाएं जान गंवाने वाले सैनिकों के परिवारों के साथ हैं। राष्ट्र इस कठिन घड़ी में उनके साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है। हमें भारत के बहादुरों की बहादुरी और साहस पर गर्व है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment