Thursday, July 18, 2024
Advertisement

दलाई लामा के मुद्दे पर भारत की चीन को दो टूक, कहा- भारत के लोग उनका...

भारत ने दलाई लामा की स्थिति पर अपना रुख दोहराया है और भारतीय लोगों द्वारा उन्हें दिए गए सम्मान पर जोर दिया है। विदेश मंत्रालय ने चीन को दो टूक जवाब दिया है।

Written By: Subhash Kumar @ImSubhashojha
Updated on: June 21, 2024 21:59 IST
दलाई लामा ,से मिला अमेरिकी डेलिगेशन।- India TV Hindi
Image Source : ANI दलाई लामा ,से मिला अमेरिकी डेलिगेशन।

हाल ही में एक एक अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में तिब्बती आध्यात्मिक नेता दलाई लामा से मुलाकात की थी। दलाई लामा से मुलाकात करने वाले दल में पूर्व यूएस हाउस स्पीकर नैन्सी पेलोसी भी शामिल थी। इस मुलाकात को लेकर चीन की सरकार ने कड़ी आपत्ति जाहिर की थी। हालांकि, आज शुक्रवार को भारत ने चीन को दलाई लामा के मामले में दो टूक जवाब दे दिया है। भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा है कि दलाई लामा एक सम्मानित धार्मिक नेता हैं। 

क्या बोला भारत?

शुक्रवार को भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रणधीर जायसवाल ने कहा कि मैं परम पावन दलाई लामा पर भारत की स्थिति को दोहराना चाहूंगा। वह एक सम्मानित धार्मिक नेता हैं और भारत के लोग उनका गहरा सम्मान करते हैं। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि दलाई लामा को उनकी धार्मिक और आध्यात्मिक गतिविधियों के संचालन के लिए उचित शिष्टाचार और स्वतंत्रता दी गई है।

क्यों शुरू हुआ विवाद?

दलाई लामा से मुलाकात करने वाले अमेरिकी संसद की विदेश मामलों की समिति के अध्यक्ष माइकल मैककॉल ने कहा था कि तिब्बती लोगों को आत्मनिर्णय का अधिकार है। उन्होंने जोर देकर यह भी कहा कि उनकी (तिब्बतियों की) एक अनूठी संस्कृति और धर्म है और उन्हें अपने धर्म का स्वतंत्र रूप से पालन करने में सक्षम होना चाहिए। यही कारण है कि हम आज ‘चीन की कम्युनिस्ट पार्टी’ की अवहेलना करते हुए यहां पहुंचे हैं। 

ये भी पढ़ें- हरियाणा समेत इन राज्यों के मतदाता सूची में अपडेशन प्रक्रिया एक जुलाई से होगी शुरू, जानिए डिटेल्स

संजय राउत ने बताया दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल को किसने फंसाया? खड़े किए अहम सवाल

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement