1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. बेटी के लिए सजा था जो मंडप, वहीं एक दिन पहले रचानी पड़ी पिता को अपनी तीसरी शादी

बेटी के लिए सजा था जो मंडप, वहीं एक दिन पहले रचानी पड़ी पिता को अपनी तीसरी शादी

वाकया गढ़वा जिले के डंडई थाना क्षेत्र का है। यहां के लवाही कला गांव के रहनेवाला 56 वर्षीय शिव प्रसाद वैद्य गांव की ही एक लड़की को ट्यूशन पढ़ाया करता था और इस दौरान लड़की के साथ उसके प्रेम संबंध हो गए।

Khushbu Rawal Edited by: Khushbu Rawal @khushburawal2
Published on: April 20, 2022 18:30 IST
Marriage- India TV Hindi
Image Source : REPRESENTATIONAL IMAGE Marriage

रांची (झारखंड): बेटी की बारात आने वाली थी और इसके ठीक एक दिन पहले पिता के इश्क का किस्सा सामने आ गया। जोरदार हंगामा हुआ और आखिरकार गांव-समाज के लोगों के दबाव पर आनन-फानन उस शख्स की शादी उसकी प्रेमिका से रचा दी गई। बेटी के लिए जो मंडप तैयार हुआ था, वहां पहले पिता की शादी हुई। बता दें कि इस शख्स की पहले ही दो शादियां हो चुकी हैं और उसकी चार संतानें भी हैं।

वाकया गढ़वा जिले के डंडई थाना क्षेत्र का है। यहां के लवाही कला गांव के रहनेवाला 56 वर्षीय शिव प्रसाद वैद्य गांव की ही एक लड़की को ट्यूशन पढ़ाया करता था और इस दौरान लड़की के साथ उसके प्रेम संबंध हो गए। बात यहीं तक नहीं रुकी। तीन साल पहले एक दिन लड़की घर से लापता हो गई। उसके पिता ने ट्यूटर शिव प्रसाद वैद्य पर संदेह जताते हुए स्थानीय थाने में शिकायत की, लेकिन तब पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।

तीन साल से लापता लड़की के परिवार वाले नाउम्मीद हो चुके थे। बीते सोमवार को किसी ने घरवालों को जानकारी दी कि लड़की छत्तीसगढ़ के एक गांव में है। शिव प्रसाद वैद्य ने उसे वहां किराये के मकान में रखा है। लड़की के घरवालों ने गांव-समाज के लोगों को इसकी जानकारी दी। पुलिस को भी सूचना दी गई। पुलिस ने शिव प्रसाद वैद्य को बुलाकर पूछताछ की। उसने सच कबूल लिया।

शिव प्रसाद ने यह भी बताया कि लड़की उसके एक बच्चे की मां भी बन चुकी है। इसके बाद लड़की को छत्तीसगढ़ से लाया गया। फिर मंगलवार को बारात निकाली गई और इलाके के बाबा मगरदह महादेव मंदिर में दोनों की शादी रचा दी गई इस दौरान पुलिस के साथ-साथ गांव-समाज के सैकड़ों लोग मौजूद रहे।

(इनपुट- IANS)