CDS Anil Chauhan: जानिए कौन हैं अनिल चौहान, जिन्हें मोदी सरकार ने सौंपी CDS की बड़ी जिम्मेदारी

CDS Anil Chauhan: अनिल चौहान मूल रूप से उत्तराखंड के पौड़ी जिले के रहने वाले हैं। अनिल चौहान के पूर्वी कमान के जनरल ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ रहने के दौरान पूर्वोत्तर क्षेत्र में उग्रवाद में बड़ी कमी आई थी।

Khushbu Rawal Edited By: Khushbu Rawal @khushburawal2
Updated on: September 28, 2022 21:50 IST
CDS Anil Chauhan- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV CDS Anil Chauhan

Highlights

  • बिपिन रावत के शहीद होने के बाद से CDS का पद खाली था
  • अब देश के नए CDS बनाए गए हैं अनिल चौहान
  • वह सैन्य मामलों के विभाग में सेक्रेटरी की भी जिम्मेदारी संभालेंगे

CDS Anil Chauhan: मोदी सरकार ने पूर्वी कमान के प्रमुख रहे लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान को देश का अगला CDS नियुक्ति किया है। पिछले साल दिसंबर में जनरल बिपिन रावत के शहीद होने के बाद से CDS का पद खाली था। जनरल रावत की जगह अब रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान को सेना की ये बड़ी जिम्मेदारी सौंपी गई है।

सैन्य मामलों के विभाग में सेक्रेटरी की जिम्मेदारी भी संभालेंगे चौहान

बता दें कि अपने 40 साल के शानदार करियर के बाद 31 मई 2021 को सेना की पूर्वी कमान के जनरल ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान रिटायर हो गए थे। अब देश के नये CDS बनाए गए हैं। वह CDS के साथ-साथ सैन्य मामलों के विभाग में सेक्रेटरी की भी जिम्मेदारी संभालेंगे।

जानिए, अनिल चौहान के बारे में
अनिल चौहान मूल रूप से उत्तराखंड के पौड़ी जिले के रहने वाले हैं। अनिल चौहान के पूर्वी कमान के जनरल ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ रहने के दौरान पूर्वोत्तर क्षेत्र में उग्रवाद में बड़ी कमी आई थी जिसके फलस्वरूप कई पूर्वोत्तर राज्यों में सेना की तैनाती में भी कमी आई। चौहान को उग्रवाद के खिलाफ अभियानों का खासा अनुभव है। वह सेना में कई अहम पदों पर काम कर चुके हैं। वह अंगोला में संयुक्त राष्ट्र शांतिवाहिनी मिशन में सैन्य पर्यवेक्षक भी रह चुके हैं।

कई मेडल से सम्मानित हैं अनिल चौहान
बतौर डीजीएमओ वह ऑपरेशन सनराइज के मुख्य शिल्पी थे जिसके तहत भारतीय और म्यांमार सेना ने दोनों देशों की सीमाओं के पास उग्रवादियों के विरूद्ध समन्वित अभियान चलाया। चौहान बालाकोट में सर्जिकल स्ट्राइक की योजना से भी जुड़े थे। इसके साथ ही पूर्वी कमान ने उनके नेतृत्व में भारत-चीन सीमा पर राष्ट्रीय हितों की रक्षा करने में अपना साहस दिखाया था।

देश के नए CDS को जानिए

  • ले.जन.(रि.)अनिल चौहान देश के नए CDS
  • ईस्टर्न कमान के कमांडर से 2021 में रिटायर हुए
  • चाइना एक्सपर्ट माने जाते हैं अनिल चौहान
  • बालाकोट एयरस्ट्राइक के वक़्त DGMO थे
  • अभी राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद में सलाहकार हैं
  • 40 साल तक आर्मी में काम करने का अनुभव

अनिल चौहान को राष्ट्र की सेवा के लिए समय-समय पर परम विशिष्ट सेवा मेडल, उत्तम युद्ध सेवा मेडल, अति विशिष्ट सेवा मेडल, सेना मेडल और विशिष्ट सेवा मेडल से भी सम्मानित किया गया।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन