1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. मनोज तिवारी ने केजरीवाल से पूछा: क्या आपको विज्ञापनों पर खर्च करने के लिए केंद्रीय धनराशि की जरूरत

मनोज तिवारी ने केजरीवाल से पूछा: क्या आपको विज्ञापनों पर खर्च करने के लिए केंद्रीय धनराशि की जरूरत

भाजपा की दिल्ली प्रदेश इकाई ने कोरोना वायरस संकट के दौरान विज्ञापनों पर पैसा खर्च करने के लिए आम आदमी पार्टी (आप) सरकार की रविवार को निंदा की। 

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: May 31, 2020 19:01 IST
Delhi CM Arvind Kejriwal- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO Delhi CM Arvind Kejriwal

नई दिल्ली. भाजपा की दिल्ली प्रदेश इकाई ने कोरोना वायरस संकट के दौरान विज्ञापनों पर पैसा खर्च करने के लिए आम आदमी पार्टी (आप) सरकार की रविवार को निंदा की। पार्टी ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से पूछा कि क्या वह अपने प्रचार खर्चों को पूरा करने के लिए केंद्र से 5,000 करोड़ रुपये की मांग कर रहे है।

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने दिल्ली सरकार के कर्मचारियों के वेतन भुगतान और कार्यालय के खर्चों को पूरा करने के लिए पांच हजार करोड़ रुपये की तत्काल सहायता मांगी है। दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने केजरीवाल से पूछा कि क्या उनकी सरकार को विज्ञापनों पर खर्च करने के लिए धन की आवश्यकता है। उन्होंने सिसोदिया की मांग को गलत साबित करने के लिए केंद्र सरकार की योजनाओं का भी हवाला दिया।

तिवारी ने ट्वीट किया, ‘‘जनधन खातों में सीधे 790 करोड़ रुपये, 836 करोड़ रुपये के मुफ्त सिलेंडर, दिव्यांग, विधवाओं और वरिष्ठ नागरिकों को दिए जाने वाले 243 करोड़ रुपये, 768 करोड़ रुपये का राशन, जो आप बांट न पाए। तो क्या आप विज्ञापन खर्च के लिए पैसे की मांग कर रहे हैं अरविंद केजरीवाल जी? मुख्यमंत्री ने केन्द्र सरकार से संकट के समय में दिल्ली के लोगों की मदद करने का भी अनुरोध किया था। भाजपा के नेता गौतम गंभीर ने भी केजरीवाल सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि क्या वह 5,000 करोड़ रुपये से समाचार पत्रों की प्रिंटिंग प्रेस खरीदना चाहते है।’’

गंभीर ने केन्द्रीय मदद पर केजरीवाल के अनुरोध को रिट्वीट करते हुए लिखा, ‘‘हर समाचार पत्र में मुखपृष्ठ के विज्ञापनों पर प्रतिदिन दिखाई दे रहे हैं, क्या लोगों के नाम पर 5000 करोड़ रुपये से समाचार पत्रों की प्रिंटिंग प्रेस खरीदी जाएगी।’’

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment