Monday, May 27, 2024
Advertisement

400 पार के लक्ष्य को पाने के लिए BJP को जीतनी होंगी ये 32 सीटें, नेहरू का रिकॉर्ड हो सकता है ब्रेक

बीजेपी के लिए ये 32 सीटें काफी अहम हैं क्योंकि 2019 के चुनाव में बीजेपी ने पहली बार इन पर जीत हासिल की थी। इन सीटों में सबसे ज्यादा सीटें पश्चिम बंगाल से हैं। 3-3 सीटें हरियाणा, कर्नाटक और ओडिशा से भी हैं।

Reported By : Varun Sharma Edited By : Rituraj Tripathi Updated on: April 11, 2024 7:46 IST
PM Modi - India TV Hindi
Image Source : PTI पीएम मोदी

नई दिल्ली: लोकसभा चुनावों का बिगुल बज चुका है। 19 अप्रैल से सात चरणों में लोकसभा चुनाव होने हैं, जो एक जून तक चलेंगे। चुनावों के नतीजे 4 जून को घोषित किए जाएंगे। एक तरफ बीजेपी तीसरी बार चुनावों में जीत हासिल करने की कोशिश में लगी हुई है, वहीं दूसरी तरफ इंडी गठबंधन भी बीजेपी को हराने की पुरजोर कोशिश कर रहा है। 

अगर बीजेपी तीसरी बार भी लोकसभा चुनाव जीत जाती है तो पीएम मोदी, देश के पहले पीएम पंडित जवाहर लाल नेहरू के उस रिकॉर्ड की बराबरी कर लेंगे, जिसमें उन्होंने लगातार तीन लोकसभा चुनाव जीते थे। नेहरू ने 1951-52, 1957 और 1962 में लगातार तीन लोकसभा चुनाव जीते थे।

पीएम मोदी पहले ही ये भरोसा जता चुके हैं कि इस बार NDA को 400 से ज्यादा सीटें मिलेंगी और बीजेपी को कम से कम 370 सीटें मिलेंगी। हालांकि, इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए ये बात अहम है कि भगवा पार्टी उन 32 लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज करे जो उसने 2019 में पहली बार जीती थीं।

कौन-कौन सी हैं ये 32 सीटें?

इसमें 16 सीटें पश्चिम बंगाल से हैं, 3 सीटें हरियाणा, 3 सीटें कर्नाटक, 3 सीटें ओडिशा, 2 तेलंगाना और 2 त्रिपुरा से हैं। एक सीट असम से, एक सीट महाराष्ट्र से और एक सीट मणिपुर से है।

पश्चिम बंगाल की 16 सीटें कौन सी हैं?

2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने पश्चिम बंगाल में पहली बार 16 सीटें जीतीं थीं। इन सीटों में कूचबिहार, अलीपुरद्वार, जलपाईगुड़ी, रायगंज, बालुरघाट, मालदाहा उत्तर, राणाघाट, बनगांव, बैरकपुर, हुगली, झाड़ग्राम, मेदिनीपुर, पुरुलिया, बांकुरा, बिष्णुपुर और बर्धमान-दुर्गापुर शामिल है। पार्टी ने 2019 के चुनावों में दार्जिलिंग और आसनसोल सहित 18 सीटें जीतीं थीं।

हरियाणा, कर्नाटक और ओडिशा की सीटें कौन सी हैं?

  • भगवा पार्टी ने 2019 के लोकसभा चुनाव में अपने इतिहास में पहली बार हरियाणा में सिरसा, हिसार और रोहतक सीटें जीतीं थीं। 2019 के चुनाव में पार्टी ने राज्य की सभी 10 सीटें जीतीं थीं।
  • भगवा पार्टी ने 2019 के लोकसभा चुनाव में अपने चुनावी इतिहास में पहली बार कर्नाटक में चामराजनगर, चिकबल्लापुर और कोलार सीटें जीतीं थीं। 2019 के चुनाव में पार्टी ने राज्य में 25 सीटें जीतीं।
  • भाजपा ने 2019 में पहली बार ओडिशा में बारगढ़, संबलपुर और भुवनेश्वर सहित तीन सीटें जीतीं थीं। पार्टी ने 2019 के चुनावों में राज्य में 8 सीटें जीतीं।

अन्य राज्यों में कौन सी सीटें हैं?

  • पार्टी ने 2019 में पहली बार तेलंगाना में आदिलाबाद और निज़ामाबाद में जीत हासिल की। ​​पार्टी ने 2019 के चुनावों में करीमनगर और सिकंदराबाद सहित 4 सीटें जीतीं।
  • 2019 में त्रिपुरा पश्चिम और त्रिपुरा पूर्व दोनों लोकसभा सीटों पर जीत हासिल कर बीजेपी पहली बार त्रिपुरा में अपना खाता खोलने में सफल रही।
  • भगवा पार्टी ने 2019 में पहली बार असम में स्वायत्त जिला सीट जीती। पार्टी ने 2019 के चुनावों में राज्य में 9 सीटें जीतीं।
  • पार्टी ने 2019 में पहली बार महाराष्ट्र में माधा जीता। पार्टी ने 2019 के चुनावों में राज्य में 23 सीटें जीतीं।
  • इनर मणिपुर सीट जीतकर बीजेपी ने 2019 में पहली बार मणिपुर में अपना खाता खोला।

ये भी पढ़ें: 

मुख्तार अंसारी की कब्र पर कड़ी सुरक्षा में फातिहा पढ़ने पहुंचा बेटा अब्बास अंसारी, फिर ले जाया गया जेल 

जेल में बढ़ गया अरविंद केजरीवाल का वजन, कैसी है सेहत? तिहाड़ जेल से सामने आई जानकारी 

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement