Wednesday, February 28, 2024
Advertisement

सीएम पर सस्पेंस: मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ की इन सियासी घटनाओं के क्या मायने?

तीनों राज्यों में सीएम चेहरे को लेकर बीजेपी का मंथन जारी है। पीएम मोदी ने बुधवार को भी अमित शाह के साथ की बैठक है। वहीं चुनाव लड़ने वाले 10 सांसदों ने इस्तीफा दे दिया है। इस्तीफा सौंपने के बाद सांसदों ने पीएम से मुलाकात की है। वहीं पूर्व सीएम वसुंधरा राजे भी बीती रात दिल्ली पहुंची हैं।

Swayam Prakash Edited By: Swayam Prakash @swayamniranjan_
Published on: December 07, 2023 9:25 IST
chief minister suspense - India TV Hindi
Image Source : PTI केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और प्रह्लाद सिंह पटेल और लोकसभा से इस्तीफा देने वाले अन्य भाजपा सांसदों के साथ बैठक में पीएम मोदी

मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री को लेकर अभी तक फैसला नहीं हुआ है। पीएम मोदी खुद अमित शाह और जेपी नड्डा के साथ अगले सीएम को लेकर मंथन कर रहे हैं। बुधवार को भी अमित शाह के साथ पीएम मोदी ने करीब डेढ़ घंटे इस पर मंथन किया। इस बीच विधानसभा चुनाव लड़ने वाले 10 सांसदों ने कल अपना इस्तीफा जेपी नड्डा को सौंपकर पीएम मोदी से मुलाकात की। वहीं राजस्थान की पूर्व सीएम वसुंधरा राजे भी दिल्ली पहुंच चुकी है। ऐसे में ये सवाल हर किसी के दिल में चल रहा है कि बीजेपी इन तीन राज्यों की जिम्मेदारी किस-किस को देने वाली है।

राजे के शक्ति प्रदर्शन से पार्टी हाईकमान नाखुश

विधानसभा चुनाव के नतीजे आए पांच दिन बीत चुके हैं, लेकिन मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में सीएम का चेहरा साफ नहीं हो पाया है। पीएम मोदी ने भी लगातार दूसरे दिन बैठक कर मुख्यमंत्री के नामों को लेकर मंथन किया। मंगलवार को बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा और गृहमंत्री अमित शाह ने प्रधानमंत्री के साथ चार घंटे तक बैठक की थी और बुधवार को अमित शाह ने पीएम के साथ लंबा मंथन किया। लेकिन सवाल कायम है कि तीनों राज्यों में कौन बनेगा सीएम? इस बीच राजस्थान की पूर्व सीएम वसुंधरा राजे बुधवार देर रात को दिल्ली पहुंचीं। माना जा रहा है कि आज वो बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात कर सकती हैं। लेकिन उनसे जब दिल्ली आने के बारे में एयरपोर्ट पर पूछा गया तो उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। सिर्फ इनता कहा कि वो अपनी बहू से मिलने दिल्ली आई हैं।

  
वसुंधरा ने दिल्ली आने पर तो कुछ नहीं बोला, लेकिन जयपुर में रहते हुए पिछले तीन दिनों से वो शक्ति प्रदर्शन जरूर कर रहीं थीं। वो लगातार विधायकों से मिल रहीं थीं। हालांकि सूत्र बताते हैं कि वसुंधरा का ये अंदाज पार्टी के सीनियर लीडर्स को रास नहीं आया है।

इस्तीफा देकर पीएम से मिले 10 सांसद

मुलाकातों और बैठकों के दौर के बीच सीएम पद को लेकर सस्पेंस तब और ज्यादा बढ़ गया, जब तीनों राज्यों में विधानसभा चुनाव जीतने वाले 10 सांसदों और केंद्रीय मंत्रियों ने अपने पद से इस्तीफा देकर पीएम मोदी से मुलाकात की। राजस्थान से सांसद दीया कुमारी, राज्यवर्धन सिंह राठौर और किरोड़ी लाल मीणा ने इस्तीफा दे दिया। जबकि एमपी से दो केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और प्रह्लाद पटेल समेत पांच सांसदों ने इस्तीफा दिया। पीएम से मिलने वालों में राजस्थान से दीया कुमारी, राज्यवर्धन सिंह राठौर, किरोड़ी लाल मीणा, जबकि मध्य प्रदेश से उदय प्रताप सिंह, राकेश सिंह, नरेद्र सिंह तोमर, प्रह्लाद पटेल और रीति पाठक हैं। इनके अलावा छत्तीसगढ़ से अरुण साव और गोमती साय ने भी इस्तीफा देने के बाद पीएम से मुलाकात की। पीएम मोदी से मिलने वाले इन सांसदों में कई ऐसे हैं जो अपने अपने राज्य में मुख्यमंत्री पद के दावेदार हो सकते हैं। हालांकि कोई भी खुद को सीएम का दावेदार नहीं बता रहा। 

रमन सिंह और रेणुका सिंह को फैसले का इंतजार

छत्तीसगढ़ से सांसद रेणुका सिंह भी आज सांसद पद से इस्तीफा देकर पार्टी आलाकामान से मुलाकात कर सकती हैं। रेणुका का नाम भी लगातार सीएम की रेस में है। लेकिन उन्होंने सीएम पद की रेस से खुद को बाहर बताया। उधर, पूर्व सीएम रमन सिंह ने भी यही कहा कि उन्हें भी बाकी लोगों की तरह आलाकमान के फैसले का इंतजार है। 

खुद को साधारण कार्यकर्ता बता रहे शिवराज

राजस्थान और छत्तीसगढ़ जैसा सस्पेंस मध्य प्रदेश में भी बना हुआ है। बीजेपी ने वहां भी अभी सीएम को लेकर पत्ते नहीं खोले हैं। शिवराज सिंह चौहान विधानसभा चुनाव के नतीजे के बाद 2024 को लेकर जनसंपर्क अभियान में जुट गए हैं। उन्होंने छिंदवाड़ा में लाड़ली बहनों के पैर धोए और आदिवासी परिवार के घर खाना खाया। जब उनसे अगले सीएम के बारे में पूछा गया तो उन्होंने खुद को पार्टी का साधारण कार्यकर्ता बता दिया। विधानसभा में प्रचंड जीत को लेकर बीजेपी सांसद आज संसदीय दल की बैठक में पीएम मोदी का सम्मान करने वाले हैं। उम्मीद की जा रही है कि एक दो दिन में सीएम के नाम का एलान हो सकता है और आखिरी फैसला पीएम मोदी ही करेंगे।

ये भी पढ़ें-

बीएड डिग्री धारक प्राइमरी स्कूल में टीचर के योग्य नहीं, अदालत ने सुनाया बड़ा फैसला

"अध्यादेश फाड़ना कांग्रेस की ताबूत में आखिरी कील," राहुल गांधी को लेकर पूर्व राष्ट्रपति की बेटी ने किताब में बहुत कुछ लिखा

 

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement