1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. बुलंदशहर में जूते पर लिखी थी जाति, मचा बवाल, जानिए फिर क्या हुआ

बुलंदशहर में जूते पर लिखी थी जाति, मचा बवाल, जानिए फिर क्या हुआ

उत्तर प्रदेश का बुलंदशहर जूते की जाति को लेकर हुए बवाल की वजह से सुर्खियों में आ गया है। जूते के दुकानदार परआरोप है कि वह जिस जूते को बेच रहा था उस पर जाति का उल्लेख था।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: January 06, 2021 12:42 IST
बुलंदशहर में जूते पर लिखी थी जाति, मचा बवाल, जानिए फिर क्या हुआ- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV बुलंदशहर में जूते पर लिखी थी जाति, मचा बवाल, जानिए फिर क्या हुआ

बुलंदशहर: उत्तर प्रदेश का बुलंदशहर जूते की जाति को लेकर हुए बवाल की वजह से सुर्खियों में आ गया है। जूते के दुकानदार परआरोप है कि वह जिस जूते को बेच रहा था उस पर जाति का उल्लेख था। आरोप के मुताबिक दुकानदार के जूते पर ठाकुर शब्द लिखा हुआ था। इसी बात पर बवाल हो गया और पुलिस ने दुकानदार को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया था। दुकानदार का नाम नासिर है। हालांकि नासिर को पुलिस ने देर रात छोड़ दिया और हिदायत दी है कि ज़रूरत पड़ने पर उसे फिर थाने बुलाया जा सकता है। 

जानकारी के मुताबिक दुकान पर जो जूता बिक रहा था उसके सोल पर लिखा ठाकुर लिखा हुआ था। अचानक एक ग्राहक की नज़र जूते के उस सोल पर पड़ गई और उसने पुलिस में शिकायत कर दी। शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने धार्मिक भावना भड़काने के आरोप में नासिर को हिरासत में ले लिया। जूते को लेकर जिस शख्स ने शिकायत दर्ज कराई है वह बजरंग दल का कार्यकर्ता है। 

बुलंदशहर के गुलावटी इलाके में टाउन स्कूल के पास नासिर स्कूल बेच रहा था और कुछ लोग खरीदारी कर रहे थे, इस दौरान जूते के तले पर ठाकुर लिखा हुआ दिखा।  जिस युवक ने शिकायत दर्ज कराई वह नासिर के पास जूते खरीदने गया था और उसने देखा कि उसकी दुकान के कई जूतों के नीचे जातिसूचक शब्द लिखा हुआ था। पुलिस ने बताया कि विशाल चौहान नाम के व्यक्ति ने सूचना दी थी कि नासिर नाम के एक व्यक्ति जो अपनी दुकान पर जूते बेच रहा है और जूते के नीचे जातिसूचक शब्द लिखा हुआ है। इस सूचना के आधार पर कार्रवाई की गई है और आगे जो साक्ष्य सामने आएंगे उनके लिहाज से कार्रवाई की जाएगी। हालांकि बाद में पुलिस की ओर से ट्वीट कर इस मामले पर सफाई भी दी गई है।

उधर, नासिर को जब पुलिस पकड़कर ले गई तो उसके परिवार के सदस्यों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। नासिर पहले बग्घी चलाने का काम करता था और खाली समय में सड़क पर जूते बेचता था, फिलहाल पुलिस सबसे पहले उस कंपनी की तलाश में है जो इस जूते का उत्पादन कर रही है। नासिर अपने घर का अकेला कमाने वाला है और उसके परिवारवालों का कहना है कि उसे ये भी नहीं पता कि जूते पर क्या लिखा है। 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment