1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. एजुकेशन
  4. न्‍यूज
  5. दिल्ली में हॉकर्स को फिर व्यवसाय शुरू करने की अनुमति

दिल्ली में हॉकर्स को फिर व्यवसाय शुरू करने की अनुमति

दिल्ली सरकार रेहड़ी-पटरी, फेरीवालों और हॉकर्स को व्यवसायों को फिर से शुरू करने की अनुमति देगी। कोरोना महामारी और इसके क्रमिक लॉकडाउन के चलते बड़े पैमाने पर छोटे स्तर के व्यवसाय प्रभावित हुए हैं, जिसमें रेहड़ी पटरी विक्रेता सबसे अधिक प्रभावित समूहों में से एक थे।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: July 28, 2020 11:02 IST
hawkers, vendors in delhi allowed to resume business- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO hawkers, vendors in delhi allowed to resume business

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार रेहड़ी-पटरी, फेरीवालों और हॉकर्स को व्यवसायों को फिर से शुरू करने की अनुमति देगी। कोरोना महामारी और इसके क्रमिक लॉकडाउन के चलते बड़े पैमाने पर छोटे स्तर के व्यवसाय प्रभावित हुए हैं, जिसमें रेहड़ी पटरी विक्रेता सबसे अधिक प्रभावित समूहों में से एक थे। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, "'दिल्ली सरकार एक आदेश पारित करेगी, जिसके माध्यम से स्ट्रीट वेंडर और फेरीवाले दिल्ली में अपने काम और आजीविका को फिर से शुरू कर सकते हैं।

स्ट्रीट हॉकर्स को प्रतिदिन सुबह 10 बजे से रात 8 बजे तक काम करने की अनुमति दी जाएगी और कोविड-19 के प्रसार से बचने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग और अन्य सभी ऐहतियाती उपायों को सुनिश्चित करना होगा।" मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, "दिल्ली में रेहड़ी-पटरी वालों को लेकर कुछ असमंजस की स्थिति थी और उन्हें काम करने की अनुमति नहीं दी जा रही थी। इस संबंध में दिल्ली सरकार रेहड़ी-पटरी वालों के लिए विशेष आदेश जारी कर रही है कि रेहड़ी पटरी वालों और हॉकर को भी आज से अपना काम शुरू करने दिया जाएगा।"

इससे पहले, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, "दिल्ली के दो करोड़ लोगों की मेहनत, सूझबूझ और सावधानी की वजह से पिछले कुछ हफ्तों से कोरोना की स्थिति में कुछ सुधार हुआ है। आज दिल्ली मॉडल की चर्चा पूरे देश और दुनिया में हो रही है कि दिल्ली के लोगों ने मिल कर किस तरह से कोरोना की स्थिति को नियंत्रित किया है। एक तरफ, जहां देश और दुनिया भर में कोरोना के केस लगातार बढ़ते जा रहे हैं। वहीं, दिल्ली में कोरोना के केस में लगातार गिरावट आ रही है।"

 

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। News News in Hindi के लिए क्लिक करें एजुकेशन सेक्‍शन
Write a comment
X