1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. लाइफस्टाइल
  4. हेल्थ
  5. सावधान! जिम के बाद लेते हैं प्रोटीन शेक तो शरीर पर हो सकते हैं ये साइड इफेक्ट्स

सावधान! जिम के बाद लेते हैं प्रोटीन शेक तो शरीर पर हो सकते हैं ये साइड इफेक्ट्स

आज की खराब लाइफस्टाइल और खानपान की वजह से मोटापा आम समस्या है। मोटापा एक बार बढ़ जाए तो उसके बाद जिम जाना, वर्कआउट कई तरह की चीजें हम शुरु करते हैं। लेकिन इसके फायदे शायद ही दिखते हैं। लेकिन आज हम आपको ऐसे नायाब तरीके बताएंगे जिसका अगर आप लगातार यूज करेंगे तो आसानी से मोटापा से निजात पा सकते हैं।

India TV Lifestyle Desk India TV Lifestyle Desk
Published on: May 15, 2019 8:55 IST
gym- India TV
gym

आज की खराब लाइफस्टाइल और खानपान की वजह से मोटापा आम समस्या है। मोटापा एक बार बढ़ जाए तो उसके बाद जिम जाना, वर्कआउट कई तरह की चीजें हम शुरु करते हैं। लेकिन इसके फायदे शायद ही दिखते हैं। लेकिन आज हम आपको ऐसे नायाब तरीके बताएंगे जिसका अगर आप लगातार यूज करेंगे तो आसानी से मोटापा से निजात पा सकते हैं। जब बात होती है डाइट कि तो जिम जाने वाले ज्यादातर प्रोटीन शेक पीते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि ज्यादा प्रोटीन शेक पीने से आपको कितना नुकसान हो रहा है। आगे की स्लाइड्स में पढ़ें। 

बहुत ज्यादा प्रोटीन शेक का सेवन करने से मोटापे के साथ-साथ समय से पहले मौत का खतरा भी बढ़ जाता है। ऐसा हम नहीं कह रहे बल्कि हाल ही में हुई एक नई स्टडी में इस बात का दावा किया गया है। 

प्रोटीन शेक में मौजूद BCCA का असर 

यूनिवर्सिटी ऑफ सिडनी के चार्ल्स पेरकिन्स सेंटर के अनुसंधानकर्ताओं ने एक जांच पता लगाया है कि प्रोटीन पाउडर में मौजूद ब्रांच्ड चेन अमिनो ऐसिड यानी BCCA का बहुत ज्यादा सेवन करने से शरीर पर इसका क्या प्रभाव पड़ता है। BCCA सप्लिमेंट्स पाउडर के रूप में मिलते हैं जिन्हें पानी में मिलाकर शेक के रूप में तैयार कर इसका सेवन किया जाता है। 

मोटापे के साथ समय से पहले मौत का खतरा 
नेचर मेटाबॉलिज्म नाम के जर्नल में प्रकाशित इस स्टडी के नतीजे बताते हैं कि BCCA भले ही मसल्स को बनाने में मदद करता हो लेकिन इसका व्यक्ति के शरीर पर नकारात्मक असर भी पड़ता है। इससे न सिर्फ वजन बढ़ने का खतरा रहता है बल्कि समय से पहले मौत का खतरा भी कई गुना बढ़ जाता है। स्टडी में अनुसंधानकर्ताओं ने यह भी पाया कि खून में BCCA का लेवल अगर अधिक हो जाए तो यह नींद में मदद करने वाले हैपी हॉर्मोन सेरोटोनिन के लेवल को कम कर देता है जिससे व्यक्ति की नींद भी कम हो जाती है। 

अमीनो ऐसिड का बैलेंस बनाए रखना जरूरी 
इस स्टडी की शोधकर्ता सामान्था सोलोन के अनुसार, इस नई रिसर्च ने यह दिखाने की कोशिश की है हमारे शरीर में अमीनो ऐसिड का बैलेंस बनाए रखना जरूरी है। लिहाजा यह जरूरी है कि आप अलग-अलग स्त्रोतों से प्रोटीन को हासिल करें ताकि शरीर में अमीनो ऐसिड का बैलेंस बना रहे। लिहाजा सिर्फ प्रोटीन शेक पर निर्भर रहने की बजाए चिकन, फिश, अंडा, बीन्स, दाल और नट्स का सेवन करना चाहिए ताकि इन अलग-अलग सोर्सेज से प्रोटीन मिल सके। 

प्रोटीन के अच्छे स्रोत 
काबुली चने प्रोटीन का अच्छा सोर्स हैं, इसका आटा रोज की डाइट में शामिल करें। 

चीज कैल्शियम का अच्छा सोर्स होने के साथ प्रोटीन से भी भरपूर होता हे। 

राजमा में प्रोटीन की मात्रा काफी ज्यादा होती है। 

दही कैल्शियम के साथ-साथ प्रोटीन से भी भरपूर होता है। इसमें कैलरी भी कम होती है। 

एक कप कद्दू के बीज में एक अंडे से दोगुना प्रोटीन होता है। साथ ही इसमें आयरन और जिंक भी भरपूर होता है। 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Health News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन
Write a comment
bigg-boss-13