1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. बैंकों ने क्रेडिट गारंटी योजना के तहत MSME को बांटे 50 हजार करोड़ रुपये से अधिक के कर्ज

बैंकों ने क्रेडिट गारंटी योजना के तहत MSME को बांटे 50 हजार करोड़ रुपये से अधिक के कर्ज

सर्वाधिक 1,910 करोड़ रुपये का आवंटन अहमदाबाद क्षेत्र में किया गया

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: July 03, 2020 22:15 IST
- India TV Paisa
Photo:GOOGLE

Bank disburse over 50000 crore loans to MSME 

नई दिल्ली। वित्त मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा कि बैंकों और अन्य वित्तीय संस्थानों ने आपातकालीन ऋण सुविधा गारंटी योजना के तहत एक जुलाई तक एमएसएमई को 52,255 करोड़ रुपये के कर्ज वितरित किये हैं। एक जून से शुरू शत प्रतिशत गारंटी वाली इस योजना के तहत बैंकों और अन्य वित्तीय संस्थानों ने अभी तक 1.10 लाख करोड़ रुपये के कर्ज की मंजूरी दी है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कोरोना वायरस महामारी से प्रभावित अर्थव्यवस्था को सहारा देने के लिये पिछले महीने 20 लाख करोड़ रुपये के आत्मनिर्भर भारत पैकेज की घोषणा की थी। इस पैकेज का सबसे बड़ा हिस्सा सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उपक्रमों (एमएसएमई) के लिये घोषित तीन लाख करोड़ रुपये की आपातकालीन ऋण सुविधा गारंटी योजना है।

आपातकालीन ऋण सुविधा गारंटी योजना के तहत जारी इन आंकड़ों में 12 सरकारी बैंकों, 20 निजी बैंकों और नौ गैर बैंकिंग वित्तीय संस्थानों (एनबीएफसी) के द्वारा आवंटित व वितरित किये गये ऋण शामिल हैं। वित्त मंत्री ने एक ट्वीट में कहा, "एक जुलाई 2020 तक सरकारी बैंकों और निजी बैंकों ने 100 प्रतिशत आपातकालीन ऋण सुविधा गारंटी योजना के तहत 1,10,348 करोड़ रुपये के कर्ज को मंजूरी दी है। इनमें से 52,255 करोड़ रुपये के कर्ज का वितरण किया गया है।" इस दौरान सरकारी बैंकों ने 63,235 करोड़ रुपये के ऋण का आवंटन तथा 33,349 करोड़ रुपये के ऋण का वितरण किया है। निजी क्षेत्र के बैंकों के द्वारा अभी तक इस योजना के तहत 47,108 करोड़ रुपये का आवंटन और 18,906 करोड़ रुपये का वितरण किया गया है।

वित्त मंत्री ने कहा, ‘‘30 जून तक के आंकड़ों से पता चलता है कि एक हफ्ते में योजना के तहत एमएसएमई को दिये गये कर्ज तथा फायदा पाने वाली इकाइयों की संख्या में तेज वृद्धि हुई है।’’ उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, ‘‘सरकारी बैंकों ने 30 जून तक शत प्रतिशत आपात ऋण सुविधा गारंटी योजना के तहत 27 राज्यों व केंद्रशासित प्रदेशों में 71 एमएसएमई हब को 15,674 करोड़ रुपये के कर्ज को मंजूरी दी है। इनमें से 9,074 करोड़ रुपये बांटे जा चुके हैं।’’

तीस जून तक के आंकड़ों के आधार पर सर्वाधिक 1,910 करोड़ रुपये का आवंटन अहमदाबाद क्षेत्र में किया गया है। इसके बाद सूरत क्षेत्र में 1,602 करोड़ रुपये के कर्ज मंजूर किये गये हैं। भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने 26 जून तक 20,281 करोड़ रुपये के कर्ज मंजूर किये हैं, जबकि लगभग 12,855 करोड़ रुपये के कर्ज बांटे हैं। इसके बाद पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) ने एक जुलाई तक 7,957 रुपये के कर्ज की मंजूरी दी है और 2404 करोड़ रुपये के कर्ज का वितरण किया है। राज्यों के हिसाब से एक जुलाई तक 6,578 करोड़ रुपये के आवंटन तथा 3,310 करोड़ रुपये के वितरण के साथ महाराष्ट्र शीर्ष पर है। इसके बाद तमिलनाडु का स्थान है, जहां बैंकों के द्वारा इस दौरान 6,390 करोड़ रुपये के कर्ज मंजूर किये गये हैं, जबकि 3,695 करोड़ रुपये के कर्ज बांटे जा चुके हैं।

Write a comment
X