1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Google ने भारत में लॉन्च किया न्यूज शोकेस, जानिए कैसे 50 हजार पत्रकारों, छात्रों का होगा फायदा

Google ने भारत में लॉन्च किया न्यूज शोकेस, जानिए कैसे 50 हजार पत्रकारों, छात्रों का होगा फायदा

गूगल ने मंगलवार को भारत में 30 समाचार संगठनों के साथ अपने न्यूज शोकेस की पेशकश की है। इन 30 संगठनों में इंडिया टीवी भी शामिल है।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: May 18, 2021 14:05 IST
Google ने भारत में लॉन्च...- India TV Hindi News
Photo:AP

Google ने भारत में लॉन्च किया न्यूज शोकेस, जानिए कैसे 50 हजार पत्रकारों, छात्रों का होगा फायदा 

नयी दिल्ली। गूगल ने मंगलवार को भारत में 30 समाचार संगठनों के साथ अपने न्यूज शोकेस की पेशकश की है। इन 30 संगठनों में इंडिया टीवी भी शामिल है। इसका मकसद गूगल के समाचार और सर्च प्लेटफॉर्म पर गुणवत्तापूर्ण सामग्री प्रदर्शित करने के लिए प्रकाशकों को प्रोत्साहित करना और समर्थन देना है। इसके साथ ही गूगल भारत में अगले तीन वर्षों के दौरान समाचार संगठनों और पत्रकारिता विद्यालयों के 50,000 पत्रकारों और पत्रकारिता के छात्रों को डिजिटल हुनर सिखाएगा। 

गूगल के उपाध्यक्ष (उत्पाद प्रबंधन) ब्रैड बेंडर ने कहा, ‘‘हम अब प्रकाशकों की मदद के लिए न्यूज शोकेस पेश कर रहे हैं, ताकि लोगों को भरोसेमंद खबर मिल सके, विशेष रूप से इस महत्वपूर्ण समय में जब कोविड संकट जारी है। समाचार शोकेस दल प्रकाशकों की पसंद के अनुसार लेखों को बढ़ावा देता है, और उन्हें खबर के साथ अतिरिक्त संदर्भ देने की अनुमति भी देता है, ताकी पाठकों में इस बात की बेहतर समझ बन सके कि उनके आसपास क्या हो रहा है।’’ 

इंडिया टीवी सहित देश के 30 न्यूज प्लेटफॉर्म शामिल

गूगल न्यूज शोकेस भारत में 30 राष्ट्रीय, क्षेत्रीय और स्थानीय समाचार संगठनों के साथ शुरू किया गया है और आने वाले दिनों में इस संख्या में बढ़ोतरी की जाएगी। इन संगठनों में आपका विश्वसनीय प्लेटफॉर्म इंडिया टीवी भी शामिल है। गूगल की यह सेवा जर्मनी, ब्राजील, कनाडा, फ्रांस, जापान, यूके, ऑस्ट्रेलिया, चेकिया, इटली और अर्जेंटीना सहित एक दर्जन से अधिक देशों में उपलब्ध है। भारत में गूगल के कंट्री हेड और उपाध्यक्ष संजय गुप्ता ने कहा कि प्रिंट, टेलीविजन और डिजिटल में समाचारों की खपत बढ़ रही है, वहीं उपभोक्ता आदतों में बदलाव भी आ रहा है, जिसमें अधिक युवा उपभोक्ता समाचार के लिए डिजिटल पहुंच का इस्तेमाल कर रहे हैं। गुप्ता ने कहा कि कंपनी अगले तीन वर्षों में 50,000 से अधिक पत्रकारों और पत्रकारिता के छात्रों को प्रशिक्षित करेगी और इसके तहत खबरों के सत्यापन, फेक न्यूज से निपटने के उपायों और डिजिटल उपकरणों के इस्तेमाल पर खासतौर से ध्यान केंद्रित किया जाएगा।

Latest Business News

Write a comment
navratri-2022