1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. 26 जनवरी पर लगा देशवासियों को झटका, दिल्‍ली में पेट्रोल हुआ 86.05 रुपये प्रति लीटर

26 जनवरी पर लगा देशवासियों को झटका, दिल्‍ली में पेट्रोल हुआ 86.05 रुपये प्रति लीटर

तेल मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने पिछले हफ्ते कहा था कि साऊदी अरब द्वारा कच्चे तेल के उत्पादन में कटौती करने से तेल की कीमतों में बढ़ोतरी हो रही है लेकिन एक्साइज ड्यूटी में कटौती पर उन्होंने कुछ नहीं कहा।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: January 26, 2021 11:34 IST
Petrol crosses Rs 86 mark in Delhi, diesel above Rs 83 in Mumbai- India TV Paisa
Photo:FILE PHOTO

Petrol crosses Rs 86 mark in Delhi, diesel above Rs 83 in Mumbai

नई दिल्‍ली। राष्‍ट्रीय राजधानी में मंगलवार को 72वें गणतंत्र दिवस वाले दिन पेट्रोल की कीमत 86 रुपये प्रति लीटर के स्‍तर को पार गई और डीजल भी 76 रुपये से अधिक हो गया। पिछले एक साल में पेट्रोल-डीजल का यह सबसे ऊंचा स्‍तर है। सार्वजनिक तेल विपणन कंपनियों ने मंगलवार को पेट्रोल और डीजल की कीमत में 35-35 पैसे प्रति लीटर की बढोतरी की है। इसके बाद दिल्‍ली में पेट्रोल की कीमत बढ़कर 86.05 रुपये प्रति लीटर और मुंबई में 92.62 रुपये प्रति लीटर हो गई। राष्‍ट्रीय राजधानी में डीजल की कीमत बढ़कर 76.23 रुपये लीटर और मुंबई में 83.03 रुपये प्रति लीटर हो गई।

ईंधन की कीमत, स्‍थानीय बिक्री कर या वैट के आधार पर अलग-अलग राज्‍यों में भिन्‍न-भि‍न्‍न है। वर्तमान में देश में दोनों ईंधन की कीमत रिकॉर्ड ऊंचाई पर है। इससे सरकार पर अब उपभोक्‍ताओं को राहत देने के लिए एक्‍साइज ड्यूटी में कटौती का दबाव बढ़ता जा रहा है।

तेल मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने पिछले हफ्ते कहा था कि साऊदी अरब द्वारा कच्‍चे तेल के उत्‍पादन में कटौती करने से तेल की कीमतों में बढ़ोतरी हो रही है ल‍ेकिन एक्‍साइज ड्यूटी में कटौती पर उन्‍होंने कुछ नहीं कहा। कच्‍चे तेल के सबसे बड़े उत्‍पादक देश साऊदी अरब ने फरवरी और मार्च में कच्‍चे तेल के उत्‍पादन में 10 लाख बैरल प्रति दिन की कटौती करने की घोषणा की है।

आईओसी, बीपीसीएल और एचपीसीएल ने एक माह के लंबे विराम के बाद 6 जनवरी से दोबारा ईंधन कीमतों की दैनिक समीक्षा शुरू की है। तब से पेट्रोल की कीमत में 2.34 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत में 2.36 रुपये प्रति लीटर का इजाफा हो चुका है।

इससे पहले 4 अक्‍टूबर, 2018 को ईंधन की कीमतों ने रिकॉर्ड ऊंचाई को छुआ था। उस समय सरकार ने मुद्रास्‍फीति दबाव को कम करने और उपभोक्‍ता विश्‍वास को बढ़ाने के लिए पेट्रोल व डीजल पर एक्‍साइज ड्यूटी में 1.5 रुपये प्रति लीटर की कटौती की थी। इसके साथ ही सार्वजनिक तेल विपणन कंपनियों ने भी एक रुपये प्रति लीटर की कटौती की थी, जिसे उन्‍होंने बाद में वापस ले लिया।  

यह भी पढ़ें: व्‍हीकल स्‍क्रैप पॉलिसी को मिली मंजूरी, जानिए कब से और किन वाहनों के लिए होगी लागू

यह भी पढ़ें: आज लॉन्‍च होगी नई Tata Safari, Tata Motors ने किया लॉन्‍च कार्यक्रम LIVE देखने का खास इंतजाम

यह भी पढ़ें: सरकार ने BSNL-MTNL के विलय को टाला, BSNL को दी जमीन बेचने की मंजूरी

यह भी पढ़ें: Kia Motors ने किया कमाल...17 महीने में बेचे इतने लाख वाहन

Write a comment
X