1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. SBI के ATM से पैसे निकालने के नियम बदले, बड़ी रकम निकालने के लिए ध्यान रखें ये बात

SBI के ATM से पैसे निकालने के नियम बदले, बड़ी रकम निकालने के लिए ध्यान रखें ये बात

18 सितंबर से एसबीआई के सभी एटीएम से बड़ी रकम निकालने के लिए सिर्फ पिन काफी नहीं होगा। ग्राहकों की रकम को सुरक्षित रखने और धोखाधड़ी को कम करने के लिए बैंक ने ओटीपी आधारिक कैश निकालने की सेवा का दायरा बढ़ा दिया है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: September 15, 2020 20:27 IST
sbi एटीएम से कैश...- India TV Paisa
Photo:FILE

sbi एटीएम से कैश निकालने के नियम बदलें

नई दिल्ली। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने बैंक के एटीएम से पैसे निकालने के तरीकों में अहम बदलाव किया है। बैंक ने 10 हजार रुपये से ज्यादा की निकासी के लिए ओटीपी आधारित रकम निकासी का दायरा बढ़ा दिया है। यानि अब ग्राहक सिर्फ पासवर्ड की मदद से 10 हजार रुपये से ऊपर की निकासी नहीं कर सकेंगे। बैंक के मुताबिक नया बदलाव 18 सितंबर से लागू होगा।

क्या है नया नियम

नए नियम के मुताबिक बैंक के एटीएम से डेबिट कार्ड के जरिए 10 हजार रुपये से ज्यादा की निकासी करने के लिए SBI ग्राहक को वन टाइम पासवर्ड भी देना होगा। एटीएम पर रकम निकासी की एंट्री करने पर बैंक की तरफ से खाते के साथ रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी भेजा जाएगा। ग्राहक को एटीएम पिन के साथ ये ओटीपी भी देना होगा। स्टेट बैंक के मुताबिक फिलहाल ये नियम एसबीआई के एटीएम पर रात 8 बजे से सुबह 8 बजे तक लागू था अब इसे बढ़ाकर पूरे दिन भर के लिए किया जा रहा है। .यानि एटीएम से बड़ी रकम निकालने के लिए अब पिन के साथ ओटीपी भी जरूरी होगा

क्या रखें सावधानी

अगर आप एटीएम बिना मोबाइल फोन के जाते हैं, या फिर ऐसे किसी नंबर के साथ जाते हैं जो रजिस्टर्ड नहीं है, या फिर आपको अपना रजिस्टर्ड फोन नंबर याद नहीं है तो आपको पैसा निकालने में काफी मुश्किल आएगी। ऐसी स्थिति में या तो आप पैसा नहीं निकाल सकेंगे, या फिर आपको कम रकम के साथ वापस आना होगा। ध्यान रहे कि एसबीआई के एटीएम से पैसे निकालते वक्त आप अपना मोबाइल फोन अपने साथ ही रखें। और ये मोबाइन नंबर वही हो जिसे आपने अपने बैंक में रजिस्टर करवाया हो।

क्यों हुआ नियमों में बदलाव

बैंक के मुताबिक धोखाधड़ी पर लगाम लगाने और ग्राहकों के जमा को अतिरिक्त सुरक्षा देने के लिए ये कदम उठाया गया है। बैंक के मुताबिक ऐसा कई बार देखने में आया है कि जालसाज किसी बहाने से पिन और डेबिट कार्ड की जानकारी हासिल कर लोगों की रकम हड़प लेते हैं, हालांकि अब नए नियम की मदद से इसमें रोक लग सकेगी। क्योंकि बड़ी रकम तब निकलेगी जब पासवर्ड के साथ ओटीपी भी  दिया जाएगा।

Write a comment
X