1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. आर्थिक आंकड़े और प्रमुख कंपनियों के तिमाही नतीजे अगले हफ्ते तय करेंगे शेयर बाजार की चाल

आर्थिक आंकड़े और प्रमुख कंपनियों के तिमाही नतीजे अगले हफ्ते तय करेंगे शेयर बाजार की चाल

कंपनियों के तिमाही नतीजों के आंकड़े, घरेलू और वैश्विक व्यापक आर्थिक आंकड़े, वैश्विक बाजारों के रुझान, FPI और DII के रुख अगले हफ्ते तय करेंगे बाजार की चाल।

Manish Mishra Manish Mishra
Published on: May 28, 2017 12:45 IST
आर्थिक आंकड़े और प्रमुख कंपनियों के तिमाही नतीजे अगले हफ्ते तय करेंगे शेयर बाजार की चाल- India TV Paisa
आर्थिक आंकड़े और प्रमुख कंपनियों के तिमाही नतीजे अगले हफ्ते तय करेंगे शेयर बाजार की चाल

नई दिल्ली। शेयर बाजारों में अगले सप्ताह उतार-चढ़ाव का दौर जारी रहने की उम्मीद है। कंपनियों के तिमाही नतीजों के आंकड़े, घरेलू और वैश्विक व्यापक आर्थिक आंकड़े, वैश्विक बाजारों के रुझान, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक (FPI) और घरेलू संस्थागत निवेशकों (DII) के रुख, डॉलर के मुकाबले रुपये की चाल और कच्चे तेल की कीमतें शेयर बाजार की दिशा तय करेंगी। इस सप्ताह जिन प्रमुख कंपनियों के नतीजों पर निवेशकों की नजर होगी। BPCL, कोल इंडिया, NTPC, लार्सन एंड टूब्रो, पॉवर फाइनेंस कॉरपोरेशन (PFC) और पॉवर ग्रिड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया अपनी तिमाही नतीजे सोमवार को जारी करेंगी। हिंडाल्को इंडस्ट्रीज और महिद्रा एंड महिंद्रा अपनी चौथी तिमाही के नतीजे मंगलवार को जारी करेगी। वाहन कंपनियां अपनी बिक्री के आंकड़े गुरुवार को जारी करेंगी।

यह भी पढ़ें :Big Relief : अब PF जमा पर नहीं चलेगी कैंची, EPFO ने खारिज किया योगदान घटाने का प्रस्‍ताव

वहीं, सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनियों पर भी नजर रहेगी, क्योंकि वे तेल की कीमतों की समीक्षा करेंगी। तेल कंपनियां महीने के बीच में और अंत में हर पखवाड़े कच्चे तेल की अंतर्राष्ट्रीय कीमतों के आधार पर तेल कीमतों की समीक्षा करती हैं। साथ ही जेट ईंधन की कीमतों की मासिक समीक्षा भी इस हफ्ते होगी, जिसके कारण विमानन कंपनियों के शेयरों पर नजर बनी रहेगी। जेट ईंधन की कीमतें सीधे तौर पर अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों से जुड़ी हैं। विमानों के परिचालन लागत में अकेले ईंधन का खर्च 50 फीसदी से अधिक होता है।

मॉनसून के दौरान बारिश की प्रगति पर भी निवेशकों की नजर होगी। दक्षिण-पश्चिमी मॉनसून के दक्षिणी केरल के तट पर 30-31 मई तक पहुंचने की उम्मीद है। भारतीय मौसम विभाग ने मॉनसून सामान्य रहने का पूर्वानुमान लगाया है। भारतीय कृषि का एक बड़ा हिस्सा पूरी तरह से मॉनसून पर ही निर्भर है। व्यापक आर्थिक आंकड़ों के मोर्चे पर सरकार मार्च में समाप्त तिमाही के जीडीपी (सकल घरेलू उत्पाद) आंकड़े बुधवार को जारी करेगी। दिसंबर में खत्म हुई तिमाही में जीडीपी की दर 7 फीसदी रही थी। वहीं, साल 2016 की दिसंबर तिमाही में यह 7.4 फीसदी थी।

यह भी पढ़ें :पेट्रोलियम पदार्थों को GST से बाहर रखने पर ऑयल कंपनियों को होगा नुकसान : ONGC

मार्केट इकोनॉमिक्स इंडिया मैन्‍युफैक्चरिंग परचेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स (PMI) के मई के आंकड़े गुरुवार को जारी करेगी। निक्केई मैन्‍युफैक्चरिंग पीएमआई अप्रैल में 52.5 अंक पर थी और मार्च में भी यही आंकड़ा था। वैश्विक मोर्चे पर चीन की काइसिन मैनुफैक्चरिंग PMI का मई माह का आंकड़ा गुरुवार को जारी किया जाएगा। अमेरिका का मार्केट मैनुफैक्चरिंग PMI का मई महीने का आंकड़ा भी गुरुवार को ही जारी किया जाएगा।

Write a comment
Click Mania
Modi Us Visit 2021