1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 6 पैसे बढ़कर 73.49 रुपये प्रति डॉलर पर बंद

अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 6 पैसे बढ़कर 73.49 रुपये प्रति डॉलर पर बंद

बाजार में घरेलू मुद्रा डॉलर के मुकाबले 73.52 रुपये के स्तर पर खुली। कारोबार आगे बढ़ने के साथ ही रुपया अधिकतम 73.47 रुपये की ऊंचाई तक गया, वहीं गिरावट दर्ज होने पर डॉलर के मुकाबले रुपया 73.61 रुपये के निचले स्तर तक भी फिसला।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: December 28, 2020 18:53 IST
डॉलर के मुकाबले...- India TV Paisa
Photo:GOOGLE

डॉलर के मुकाबले रुपये में मजबूती

नई दिल्ली। अमेरिकी डॉलर के कमजोर पड़ने और घरेलू शेयर बाजारों में तेजी जारी रहने से विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में सोमवार को डॉलर में बढ़त देखने को मिली है। हफ्ते के पहले कारोबारी सत्र में डॉलर के मुकाबले रुपया छह पैसे बढ़कर 73.49 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ। बाजार सूत्रों के अनुसार विदेशी मुद्रा प्रवाह लगातार जारी रहने से रुपये को समर्थन मिला।

दिन के कारोबार में रुपये में शुरुआती बढ़त देखने को मिली, वहीं कारोबार के दौरान इसमें सीमित दायरे में ही उतार-चढ़ाव देखने को मिला। अंतर बैंकिंग विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में घरेलू मुद्रा डॉलर के मुकाबले 73.52 रुपये के स्तर पर खुली। कारोबार आगे बढ़ने के साथ ही रुपया अधिकतम 73.47 रुपये की ऊंचाई तक गया, वहीं गिरावट दर्ज होने पर डॉलर के मुकाबले रुपया 73.61 रुपये के निचले स्तर तक भी फिसला। यानि आज के कारोबार में घरेलू करंसी में डॉलर के मुकाबले 15 पैसे के दायरे में ही कारोबार देखने को मिला। दिन के अंत में रुपया 73.49 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ। यह दर पिछले बंद भाव के मुकाबले छह पैसे ऊंची रही।

बीते सप्ताह बृहस्पतिवार को डॉलर के मुकाबले रुपया 73.55 रुपये पर बंद हुआ था। शुक्रवार को क्रिसमस के अवसर पर बाजार में अवकाश रहा। इस बीच दुनिया की छह प्रमुख मुद्राओं के समक्ष डॉलर की मजबूती को दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.25 प्रतिशत गिरकर 89.99 पर आ गया। शेयरखान बाय बीएनपी पारिबा के रिसर्च एनालिस्ट सैफ मुकादम ने कहा, ‘‘शेयर बाजार में तेजी और डॉलर के कमजोर पड़ने से भारतीय रुपये में मजबूती आई है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा 2,300 अरब डॉलर के कोरोना वायरस राहत और व्यय पैकेज पर हस्ताक्षर कर दिये जाने से बाजार धारणा में सुधार रहा। इसके साथ ही ब्रिटेन और यूरोपीय संघ के बीच व्यापार समझौता होने का भी धारणा पर अनूकूल असर रहा। इस बीच ब्रेंट कच्चे तेल का वायदा भाव 1.31 प्रतिशत बढ़कर 51.96 डालर प्रति बैरल पर पहुंच गया।

Write a comment
टोक्यो ओलंपिक 2020 कवरेज
X