1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. फायदे की खबर
  5. ट्रेन सफर के दौरान आप जांच सकेंगे मोबाइल नेटवर्क कनेक्‍टीविटी, RailYatri.in ने लॉन्‍च किया नया फीचर

ट्रेन सफर के दौरान आप जांच सकेंगे मोबाइल नेटवर्क कनेक्‍टीविटी, RailYatri.in ने लॉन्‍च किया नया फीचर

RailYatri.in ने अपनी एप पर एक नया फीचर लॉन्‍च किया है। इसकी मदद से यात्रीगण अपनी यात्रा मार्ग पर मोबाइल नेटवर्क कनेक्टिविटी की जांच कर सकते हैं।

Abhishek Shrivastava Abhishek Shrivastava
Published on: April 04, 2017 15:50 IST
ट्रेन सफर के दौरान आप जांच सकेंगे मोबाइल नेटवर्क कनेक्‍टीविटी, RailYatri.in ने लॉन्‍च किया नया फीचर- India TV Paisa
ट्रेन सफर के दौरान आप जांच सकेंगे मोबाइल नेटवर्क कनेक्‍टीविटी, RailYatri.in ने लॉन्‍च किया नया फीचर

नई दिल्‍ली। लंबे रेल सफर में यात्रियों के लिए उनका मोबाइल ही मनोरंजन और जानकरी का सबसे बड़ा साधन होता है। लेकिन रेल मार्ग पर मोबाइल नेटवर्क कनेक्टिविटी अभी भी बेहतर नहीं है। ऐसे में RailYatri.in ने अपनी एप पर एक नया फीचर लॉन्‍च किया है। इसकी मदद से यात्रीगण अपनी यात्रा मार्ग पर मोबाइल नेटवर्क कनेक्टिविटी की जांच और विभिन्‍न सर्विस प्रोवाइडर्स के बीच तुलना कर सकते हैं।

इस फीचर की मदद से रेलयात्री यह पहले ही जान सकेंगे कि यात्रा के दौरान कहां मोबाइल कनेक्टिविटी बेहतर रहेगी और कहां कमजोर। RailYatri.in के सीईओ और सह-संस्‍थापक मनीष राठी ने कहा कि लंबे रेल सफर के दौरान एक भारतीय व्‍यक्ति औसतन 4-5 एप का उपयोग करता है। यात्रियों के लिए रेल सफर में इंटरनेट कनेक्टिविटी एक खुशगवार अनुभव का महत्‍वपूर्ण अंग बन गया है। यात्रीगण अब नेटवर्क कवरेज फीचर के साथ यह जान सकते हैं कि रेल मार्ग पर कहां-कहां नेटवर्क कवरेज कमजोर रहेगा। इस जानकारी के माध्‍यम से वे पहले ही कॉल कर सकते हैं या बाद में देखने या पढ़ने के लिए कोई मूवी या बुक डाउनलोड करने का फैसला कर सकते हैं।

रेलयात्री डॉट इन ने अपनी रिसर्च में पाया है कि दिल्‍ली-हावड़ा (कोलकाता) मार्ग पर पूरे सफर के दौरान सबसे ज्‍यादा 88 प्रतिशत नेटवर्क कवरेज उपलब्‍ध होता है। इसकी तुलना में मुंबई-बेंगलुरू मार्ग पर कवरेज का अनुपात 58 प्रतिशत है।

राठी का कहना है कि हालांकि रेलवे स्‍टेशनों पर हाई स्‍पीड वाईफाई कनेक्‍शन उपलब्‍ध कराया जा रहा है, लेकिन रेलयात्री के आंकड़े बताते हैं कि लंबी दूरी के रेल मार्गों पर मोबाइल कनेक्टिविटी में काफी उतार-चढ़ाव होता रहता है। कुछ मार्गों पर 70-80 प्रतिशत तक तेज नेटवर्क कनेक्टिविटी मिलती है, वहीं कई जगह पर इनका स्‍तर 20 प्रतिशत तक पहुंच जाता है। रेलयात्री के आंकड़ों में स्‍टेशनों के बीच अलग-अलग सेवा प्रदाता के कवरेज को भी सम्मिलित किया गया है। इससे रेल यात्रियों को सही समय पर सही निर्णय लेने में सुविधा हो रही है।

Write a comment
Click Mania
Modi Us Visit 2021