ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. इराक के बसरा शहर में भीषण विस्फोट, मोटरसाइकिल के उड़े परखच्चे, कई लोगों की मौत

इराक के बसरा शहर में भीषण विस्फोट, मोटरसाइकिल के उड़े परखच्चे, कई लोगों की मौत

खबर लिखे जाने तक यह पूरी तरह साफ नहीं हो पाया था कि मोटरसाइकिल पर बम लगाया गया था या यह आत्मघाती हमला था।

IndiaTV Hindi Desk Edited by: IndiaTV Hindi Desk
Published on: December 07, 2021 20:40 IST
Basra Explosion, Basra Blast, Iraq Explosion, Iraq Blast- India TV Hindi
Image Source : AP REPRESENTATIONAL इराक के दक्षिणी शहर बसरा के मध्य हिस्से में सोमवार को हुए एक विस्फोट में कई लोग मारे गए।

Highlights

  • सोमवार को बसरा में हुए धमाके के बाद आसमान में काले धुएं का गुबार छा गया।
  • बसरा के गवर्नर ने घटनास्थल पर बताया कि एक मोटरसाइकिल में विस्फोट हुआ।
  • सरकार ने बसरा में हुए इस विस्फोट का आरोप दाएश (इस्लामिक स्टेट) पर लगाया है।

बसरा: इराक के दक्षिणी शहर बसरा के मध्य हिस्से में सोमवार को हुए एक विस्फोट में कम से कम 4 लोग मारे गए और 4 अन्य घायल हो गए। इराकी सुरक्षाबलों ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि सोमवार को हुए इस धमाके के बाद आसमान में काले धुएं का गुबार छा गया। स्थानीय खबरों में शुरुआत में कहा गया कि यह एक कार बम था लेकिन बसरा के गवर्नर असद अल-इदानी ने घटनास्थल पर बताया कि एक मोटरसाइकिल में विस्फोट हुआ।

बसरा में काफी समय बाद हुआ ऐसा ब्लास्ट

खबर लिखे जाने तक यह पूरी तरह साफ नहीं हो पाया था कि मोटरसाइकिल पर बम लगाया गया था या यह आत्मघाती हमला था। गवर्नर ने कहा कि विस्फोट से 2 कारें जल गईं। इराक के सुरक्षा मीडिया प्रकोष्ठ ने एक बयान में कहा कि मोटरसाइकिल के पास की 2 कारें जल गईं जिससे 4 लोगों की मौत हो गई और 4 अन्य घायल हो गए। इसने कहा कि फॉरेंसिक दल घटनास्थल पर है और जांच पूरी होने के बाद विस्फोट की प्रकृति के बारे में अधिक जानकारी जारी की जाएगी। हाल के वर्षों में बसरा में विस्फोट नहीं हुए हैं, खासकर 2017 में सुन्नी आतंकवादी इस्लामिक स्टेट समूह की हार के बाद से।

शिया बहुल है तेल समृद्ध शहर बसरा
तेल के भंडारों से भरा हुआ बसरा मुख्य रूप से शिया बहुल है। विस्फोट की तत्काल किसी ने जिम्मेदारी नहीं ली है, हालांकि सरकार ने इसका आरोप दाएश (इस्लामिक स्टेट) पर लगाया है। बगदाद में इराकी अधिकारियों की ओर से तत्काल कोई टिप्पणी नहीं की गई। इराक में 10 अक्टूबर को हुए संसदीय चुनाव के बाद राजनीतिक अस्थिरता बढ़ी है, जिसमें शिया धर्मगुरु मुक्तदा अल-सद्र सबसे बड़े विजेता के रूप में उभरे थे। ईरान के प्रति वफादार शिया सशस्त्र गुटों ने अपनी संसदीय सीट का लगभग दो तिहाई हिस्सा खो दिया और धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए चुनाव के परिणामों को खारिज कर दिया।

elections-2022