1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. लद्दाख में नापाक साजिश रच रही चीनी सेना, पैंगोंग झील पर बना रही दूसरा पुल

Chinese army plotting in Ladakh: लद्दाख में नापाक साजिश रच रही चीनी सेना, पैंगोंग झील पर बना रही दूसरा पुल

लद्दाख में नापाक साजिश रच रही चीनी सेना पैंगोंग झील पर बड़ा पुल बना रही है। यह चीन की तरफ पैंगोंग झील पर बना दूसरा पुल होगा, जिसका इस्तेमाल भारतीय सीमा के बेहद करीब टैंक, बख्तरबंद वाहनों जैसे भारी युद्ध वाहनों के परिवहन के लिए किया जाएगा।

Shashi Rai Edited by: Shashi Rai @km_shashi
Updated on: May 18, 2022 14:35 IST
लद्दाख में नापाक साजिश रच रही चीनी सेना- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO लद्दाख में नापाक साजिश रच रही चीनी सेना

Highlights

  • पैंगोंग झील पर दूसरा पुल बना रही चीनी सेना
  • चीन द्वारा बनाया जा रहा पहला पुल अब पूरा हो गया है
  • चीन के नए पुल का निर्माण तीन हफ्ते पहले देखा गया

Chinese army plotting in Ladakh: चीन अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। खबर है कि लद्दाख में नापाक साजिश रच रही चीनी सेना पैंगोंग झील पर बड़ा पुल बना रही है। यह चीन की तरफ पैंगोंग झील पर बना दूसरा पुल होगा, जिसका इस्तेमाल भारतीय सीमा के बेहद करीब टैंक, बख्तरबंद वाहनों जैसे भारी युद्ध वाहनों के परिवहन के लिए किया जाएगा। चीन इस दूसरे पुल का निर्माण ऐसे समय में कर रहा है जब लद्दाख में गतिरोध तीन साल जारी है। चीन द्वारा बनाया जा रहा पहला पुल अब पूरा हो गया है।

नया पुल पूर्व में बने पुल के ठीक बगल में है

सूत्रों के मुताबिक पहले ब्रिज को दूसरे ब्रिज के निर्माण के लिए सर्विस ब्रिज के तौर पर इस्तेमाल किया जाएगा। रिपोर्ट में रक्षा सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि चीन पहले पुल का इस्तेमाल अपनी क्रेन लगाने और अन्य निर्माण सामग्री लाने के लिए कर रहा है। नया पुल पूर्व में बने पुल के ठीक बगल में है। यह नया ब्रिज पहले से काफी बड़ा और चौड़ा है। सूत्र ने बताया कि चीन के नए पुल का निर्माण तीन हफ्ते पहले देखा गया है।

भारतीय सेना ने पैंगोंग झील के दक्षिणी किनारे पर स्थित चोटियों पर कब्जा कर लिया था

सूत्र ने कहा कि चीन की ओर से पैंगोंग झील के दोनों ओर नए पुल का निर्माण किया जा रहा है। चीन ने अपना पहला पुल पहले से बने ढांचे को फिट करके बनाया था ताकि वह भारतीय सेना के किसी भी आक्रामक ऑपरेशन का जवाब दे सके। इससे पहले भारतीय सेना ने पैंगोंग झील के दक्षिणी किनारे पर स्थित चोटियों पर कब्जा कर चीन को बैकफुट पर ला दिया था। चीन का मकसद भविष्य में इस तरह की कार्रवाई को रोकना है। अब खुर्नक से रुडोक के बीच का रास्ता चीन के पुल से 40 से 50 किमी कम हो गया है। पैंगोंग झील 135 किमी लंबी है जो चारों तरफ से जमीन से घिरी हुई है। यह झील लद्दाख से तिब्बत तक फैली हुई है।