Friday, July 19, 2024
Advertisement

अब यूक्रेन से लेकर यूरोप और पश्चिम की हर साजिश होगी नाकाम, पुतिन ने FSB को सौंपा ये काम

रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने फेडरल सुरक्षा एजेंसी (एफएसबी) को यूक्रेन युद्ध के मद्देनजर अधिक सक्रिया रहने को कहा है। साथ ही रूसियों से कहा है कि अपने बीच में गद्दारों से बचने और उनकी पहचान करने का प्रयास करें।

Written By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Updated on: March 01, 2023 6:08 IST
व्लादिमिर पुतिन, रूस के राष्ट्रपति- India TV Hindi
Image Source : PTI व्लादिमिर पुतिन, रूस के राष्ट्रपति

नई दिल्लीः रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने फेडरल सुरक्षा एजेंसी (एफएसबी) को यूक्रेन युद्ध के मद्देनजर अधिक सक्रिया रहने को कहा है। साथ ही रूसियों से कहा है कि अपने बीच में गद्दारों से बचने और उनकी पहचान करने का प्रयास करें। पुतिन ने कहा कि “उन लोगों की अवैध गतिविधियों की पहचान करना और उन्हें रोकना आवश्यक है जो अलगाववाद, राष्ट्रवाद, नव-नाजीवाद और जेनोफोबिया को हथियार के रूप में इस्तेमाल करने के लिए हमारे समाज को विभाजित करने और कमजोर करने का प्रयास कर रहे हैं। राष्ट्रपति ने कहा कि रूस ने हमेशा ऐसी गतिविधि का अनुभव किया है।

पुतिन ने कहा कि ऐसे देशद्रोही हमारी जमीन पर ऐसी गंदगियों को सक्रिय करने के प्रयास में हैं। उन्होंने एफएसबी सुरक्षा सेवा को पश्चिमी जासूसी एजेंसियों के खिलाफ अपना खेल बढ़ाने (जाल बिछाने) के लिए कहा। पुतिन ने मंगलवार को एफएसबी घरेलू सुरक्षा सेवा से कहा कि वह यूक्रेन और पश्चिम द्वारा रूस के खिलाफ बढ़ती जासूसी और तोड़फोड़ का मुकाबला करने के लिए अपनी गतिविधियों को आगे बढ़ाएं। उन्होंने कहा कि एफएसबी को यूक्रेन से रूस में घुसने वालों, "तोड़फोड़ करने वाले समूहों" को रोकना, बुनियादी ढांचे की सुरक्षा को बढ़ाना और पश्चिमी सुरक्षा सेवाओं को पुनर्जीवित करने से रोकना है, जिसे वे रूस के अंदर आतंकवादी या चरमपंथी सेल कहते हैं।

पश्चिमी खुफिया एजेंसियों को उन्हीं के अंदाज में दें जवाब

रूसी राष्ट्रपति ने कहा कि पश्चिमी खुफिया सेवाएं परंपरागत रूप से रूस में हमेशा सक्रिय रहती हैं। अब उन्होंने हमारे ऊपर अतिरिक्त कर्मियों, तकनीकी और अन्य संसाधनों को लगाया है। हमें उसी के अनुसार जवाब देने की जरूरत है। राष्ट्रपति ने कहा कि एफएसबी को अपनी सभी काउंटर-इंटेलिजेंस गतिविधि को मजबूत करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि वह स्वयं भी एक बार इसका नेतृत्व कर चुके हैं। एजेंसी को संबोधित करते कहा कि "हमारे सैन्य और कानून प्रवर्तन संरचनाओं, रक्षा उद्योग उद्यमों, महत्वपूर्ण प्रौद्योगिकियों और व्यक्तिगत डेटा के नियंत्रण प्रणालियों के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी को मज़बूती से संरक्षित किया जाना चाहिए। पुतिन ने नवीनतम रूसी हथियारों और उपकरणों के बारे में गोपनीयता के महत्व पर बल दिया। इस दौरान राष्ट्रपति ने किसी विशिष्ट खुफिया विफलताओं का उल्लेख नहीं किया, लेकिन उनकी टिप्पणियों में संभावित कमजोरियों के बारे में चिंता निहित थी।

अपने गुरु अलेक्जेंडर की बेटी की हत्या पर जताया दुख
पुतिन ने कहा कि जब हमने यूक्रेन पर आक्रमण शुरू किया तो इस दौरान हमारे क्षेत्र पर भी ड्रोन हमले हुए, सरकार समर्थक मीडिया की हैकिंग हुई और युद्ध का समर्थन करने वाले एक प्रमुख राष्ट्रवादी की बेटी की पिछले अगस्त में हत्या कर दी गई। उन्होंने कहा कि हमारे सैन्य कर्मियों की आवाजाही को भी बाधित करने के लिए हमारे रेलवे के बुनियादी ढांचों पर भी दर्जनों हमले किए गए हैं। इसका विवरण सत्यापित करना कठिन है, लेकिन एफएसबी ने कहा कि इस महीने उसने उराल क्षेत्र में रेलवे के बुनियादी ढांचे पर "आतंकवादी कृत्यों" में शामिल तीन रूसियों को उसने हिरासत में भी लिया था। साइबर व्यवधान के नवीनतम उदाहरण में आपातकालीन मंत्रालय ने कहा कि हैकर्स ने मंगलवार को क्षेत्रीय प्रसारकों को बम आश्रयों में लोगों को कवर करने के लिए झूठे अलर्ट जारी करने को वजह बताया। इस दौरान पुतिन ने बार-बार रूसियों को अपने बीच के गद्दारों से बचने का आग्रह किया।

यह भी पढ़ें

पूरब में उदय ना हुआ जेलेंस्की के संघर्ष का "सूर्य" तो पश्चिम में अस्त हो सकता है यूक्रेन, रूसी सेना हो रही हावी

अब आस्ट्रेलिया जाकर पढ़ने का सपना होगा साकार, जानें आपके लिए क्या करने जा रही सरकार?

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement