1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. कैपिटल हिल हिंसा मामला: दंगाइयों पर सोशल मीडिया, फोन से चीजें मिटाने का आरोप

कैपिटल हिल हिंसा मामला: दंगाइयों पर सोशल मीडिया, फोन से चीजें मिटाने का आरोप

अमेरिका के कैपिटल भवन (अमेरिकी संसद भवन) पर छह जनवरी को हमला करने वाली हिंसक भीड़ में शामिल अनेक लोगों ने पहले तो सोशल मीडिया पर अपनी हरकतों का प्रचार किया और जब उन्हें यह अहसास हुआ कि इससे वे कानूनी मुश्किल में फंस सकते हैं उन्होंने इसके सबूत मिटा दिए।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: July 03, 2021 21:42 IST
कैपिटल हिल हिंसा मामला: दंगाइयों पर सोशल मीडिया, फोन से चीजें मिटाने का आरोप - India TV Hindi
Image Source : AP FILE PHOTO कैपिटल हिल हिंसा मामला: दंगाइयों पर सोशल मीडिया, फोन से चीजें मिटाने का आरोप 

फीनिक्स (अमेरिका)। अमेरिका के कैपिटल भवन (अमेरिकी संसद भवन) पर छह जनवरी को हमला करने वाली हिंसक भीड़ में शामिल अनेक लोगों ने पहले तो सोशल मीडिया पर अपनी हरकतों का प्रचार किया और जब उन्हें यह अहसास हुआ कि इससे वे कानूनी मुश्किल में फंस सकते हैं उन्होंने इसके सबूत मिटा दिए। अधिकारियों ने यह बात कही।

अदालत के दस्तावेजों का आकलन करने के बाद एसोसिएटेड प्रेस ने पाया कि कम से कम 49 अभियुक्त ऐसे हैं, जिन पर अपराध में लिप्तता वाले फोटो, वीडियो या टेक्स्ट को फोन या सोशल मीडिया अकाउंट से हटाने का प्रयास करने का आरोप है, जो इसके सबूत हैं कि संसद भवन पर हमला करने वाली पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप समर्थक भीड़ का वे हिस्सा थे।

विशेषज्ञों का कहना है कि सोशल मीडिया खातों को छिपाने का प्रयास इस बात को दिखाता है कि जब आरोपियों को पता चला कि परेशानी बढ़ सकती है तो वे सबूतों से छेड़छाड़ के लिए बेकरार होने लगे। हिंसक हमले में उपद्रवियों की भूमिका को छिपाने की उनकी कोशिश अब अदालत में फिर उनके लिये परेशानी का सबब कन सकती है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment
टोक्यो ओलंपिक 2020 कवरेज
X