1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. दिल्ली
  4. बीजेपी का बड़ा हमला, कहा- हनुमान मंदिर को तोड़कर केजरीवाल सरकार ने किया हिंदू विरोधी काम

बीजेपी का बड़ा हमला, कहा- हनुमान मंदिर को तोड़कर केजरीवाल सरकार ने किया हिंदू विरोधी काम

दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि चांदनी चौक के प्राचीन हनुमान मंदिर को तोड़ा जाना बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: January 05, 2021 22:02 IST
Hanuman Temple Kejriwal, Chandni Chowk Hanuman Temple, Hanuman Temple AAP- India TV Hindi
Image Source : PTI दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर बड़ा हमला बोला है।

नई दिल्ली: दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि चांदनी चौक के प्राचीन हनुमान मंदिर को तोड़ा जाना बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है। गुप्ता ने कहा, 'हम इसकी कड़ी निंदा करते हैं। प्राचीन हनुमान मंदिर को तोड़ने के लिए सिर्फ और सिर्फ मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जिम्मेदार हैं।' उन्होंने कहा कि केजरीवाल सरकार के अंतर्गत आने वाला PWD अक्टूबर में हाई कोर्ट गया था और कहा था कि दिल्ली पुलिस और नगर निगम उन्हें सहयोग नहीं कर रहा है इसलिए अदालत मंदिर को हटाने के लिए निर्देशित करे।

‘चांदनी चौक में मंदिर की जरूरत नहीं है’

दिल्ली बीजेपी द्वारा जारी किए गए एक बयान में गुप्ता ने कहा कि कोर्ट में केजरीवाल सरकार के स्टैंडिंग काउंसल नौशाद अली अहमद खान ने पक्ष रखते हुए कहा कि चांदनी चौक में हनुमान मंदिर, प्राचीन हनुमान मंदिर और पागल बाबा के मंदिर की आवश्यकता नहीं है और यह चांदनी चौक के सुंदरीकरण में बाधा उत्पन्न कर रहा है इसलिए हटा देना चाहिए। दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष ने कहा, ‘स्थानीय लोगों और मंदिर समितियों ने केजरीवाल से प्राचीन हनुमान मंदिर को बचाने की विनती की थी। विधानसभा चुनावों के समय केजरीवाल ने हर प्लेटफॉर्म पर भगवान हनुमान के नाम का जाप किया और खुद को हनुमान भक्त साबित किया था इसलिए लोगों को उम्मीद थी कि वह प्रचीन हनुमान मंदिर बचा लेंगे लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया।’

‘केजरीवाल सरकार ने हिंदू विरोधी काम किया है’
गुप्ता ने कहा, ‘अगर केजरीवाल सरकार की धार्मिक समिति कोर्ट में जाकर यह पक्ष रखती कि प्राचीन हनुमान मंदिर होने से विकास कार्यों मे कोई बाधा उत्पन्न नहीं हो रही है, योजना में मंदिर को भी समायोजित किया जा सकता है, तो उसे टूटने से बचाया जा सकता था। लेकिन धार्मिक समिति जिसके मुखिया सत्येंद्र जैन हैं, उन्होंने ऐसा कोई पक्ष नहीं रखा। प्राचीन हनुमान मंदिर को तोड़कर केजरीवाल सरकार ने हिंदू विरोधी काम किया है और दिल्ली ही नहीं बल्कि देश के करोड़ों लोगों की आस्था को ठेस पहुंचाई है। हमारी यह मांग है कि मंदिर को वहां पुन: स्थापित किया जाए।’

bigg boss 15