1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. दिल्ली
  4. जहांगीरपुरी में बुलडोजर चलने पर राहुल गांधी भड़के, बीजेपी को दी नसीहत

जहांगीरपुरी में बुलडोजर चलने पर राहुल गांधी भड़के, बीजेपी को दी नसीहत

चीफ जस्टिस एनवी रमण की अध्यक्षता वाली पीठ ने मौजूदा हालात में यथास्थिति बनाए रखने के निर्देश दिए।

Vineet Kumar Edited by: Vineet Kumar @JournoVineet
Updated on: April 20, 2022 15:39 IST
Jahangirpuri, Jahangirpuri Rahul Gandhi, Jahangirpuri Bulldozer- India TV Hindi
Image Source : PTI Congress Leader Rahul Gandhi.

Highlights

  • जहांगीरपुरी में अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाए जाने पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भारतीय जनता पार्टी को नसीहत दी है।
  • गरीबों और अल्पसंख्यकों पर निशाना साधने की बजाय बीजेपी को अपने दिल में नफरत पर बुलडोजर चलवाना चाहिए: राहुल

नई दिल्ली: दिल्ली के हिंसा प्रभावित इलाके जहांगीरपुरी में बुधवार को अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाए जाने पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भारतीय जनता पार्टी को नसीहत दी है। राहुल ने कहा है कि गरीबों और अल्पसंख्यकों पर निशाना साधने की बजाय बीजेपी को अपने दिल में पल रही नफरत पर बुलडोजर चलवाना चाहिए। बता दें कि बीजेपी शासित उत्तरी दिल्ली नगर निगम (NDMC) ने जहांगीरपुरी में 2 दिवसीय अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाए जाने की घोषणा की थी, और बुधवार को कार्रवाई शुरू भी कर दी। हालांकि सुप्रीम कोर्ट द्वारा यथास्थिति बरकरार रखने के आदेश के बाद कार्रवाई रोक दी गई है।

‘अपने दिल में मौजूद नफरत पर बुलडोजर चलाए बीजेपी’

कांग्रेस नेता राहुल गांधी जहांगीरपुरी इलाके में अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाए जाने से खासे नाराज दिखे। अपनी नाराजगी जाहिर करने के लिए उन्होंने ट्विटर का सहारा लिया और बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। संविधान का हवाला देते हुए पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्वीट किया, ‘यह भारत के संवैधानिक मूल्यों का विध्वंस है। यह गरीबों और अल्पसंख्यकों को राज्य द्वारा निशाना बनाया जाना है। बीजेपी को इसकी बजाय अपने दिलों में मौजूद नफरत पर बुलडोजर चलाना चाहिए।’ बता दें कि बुधवार को एनडीएमसी ने कुछ घंटों तक अतिक्रमण विरोधी कार्रवाई की थी।


सुप्रीम कोर्ट ने दिए यथास्थिति बनाए रखने के निर्देश
इस बीच सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को प्रशासन के इस अतिक्रमण रोधी अभियान पर रोक लगा दी। कोर्ट ने दंगे के आरोपियों के खिलाफ कथित तौर पर लक्षित नगर निकायों की कार्रवाई को चुनौती देने वाली याचिका भी सुनवाई के लिए स्वीकार कर ली। चीफ जस्टिस एनवी रमण की अध्यक्षता वाली पीठ ने मौजूदा हालात में यथास्थिति बनाए रखने के निर्देश दिए। उसने कहा कि याचिका को उचित पीठ के समक्ष सूचीबद्ध किया जाएगा। वरिष्ठ अधिवक्ता दुष्यंत दवे ने NDMC और PWD सहित अन्य नगर निकायों के विशेष अतिक्रमण रोधी अभियान के खिलाफ दायर एक याचिका का जिक्र किया।

‘2 बजे की बजाय 9 बजे शुरू कर दी गई कार्रवाई’
दवे ने कहा कि ‘निर्माण ढहाने के लिए पूरी तरह से अनधिकृत और असंवैधानिक’ आदेश दिया गया है। दवे ने आरोप लगाया कि निर्माण ढहाने की कार्रवाई बुधवार दोपहर 2 बजे शुरू होनी थी, लेकिन यह सुबह 9 बजे से ही प्रारंभ कर दी गई और कथित उल्लंघनकर्ताओं को इस बाबत कोई अनिवार्य नोटिस नहीं दिया गया है। जहांगीपुरी में बीते शनिवार को हुनमान जयंती के जुलूस के दौरान 2 समुदायों के बीच हिंसक झड़कें हुई थीं। इस दौरान 8 पुलिसकर्मी और एक स्थानीय निवासी घायल हो गया था।