Haryana Board Exam: इस सत्र में बोर्ड परीक्षाओं को लेकर CM खट्टर ने लिया बड़ा फैसला, छोटे स्कूली बच्चों को राहत

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने घोषणा करते हुए सोमवार को कहा कि ‘5वीं और 8वीं कक्षा के लिए बोर्ड परीक्षा कराने का फैसला फिलहाल सीबीएसई एवं हरियाणा बोर्ड दोनों की तरफ से स्थगित कर दिया गया है। अब अगले सत्र से इन कक्षाओं के लिए बोर्ड परीक्षा आयोजित की जाएंगी।’

IndiaTV Hindi Desk Written by: IndiaTV Hindi Desk
Updated on: February 21, 2022 17:54 IST
Manohar Lal Khattar, Chief Minister, Haryana - India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO TWITTER Manohar Lal Khattar, Chief Minister, Haryana 

Highlights

  • 5वीं और 8वीं कक्षा में बोर्ड परीक्षाएं कराने के फैसले का अभिभावक कर रहे थे विरोध
  • छोटी कक्षा के बच्चों की इस शैक्षणिक सत्र में बोर्ड परीक्षाओं को लेकर बड़ी राहत
  • अगले सत्र से 5वीं और 8वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा चालू की जाएंगी

Haryana 5th, 8th Board Exams 2022 Postponed: हरियाणा की मनोहर लाल खट्टर सरकार ने मौजूदा सत्र में 5वी और 8वीं कक्षा के लिए बोर्ड परीक्षाओं को लेकर बड़ा फैसला लिया है। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने छोटी कक्षा के बच्चों की इस शैक्षणिक सत्र में बोर्ड परीक्षाओं को लेकर बड़ी राहत दी है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने घोषणा करते हुए सोमवार को कहा कि ‘5वीं और 8वीं कक्षा के लिए बोर्ड परीक्षा कराने का फैसला फिलहाल सीबीएसई एवं हरियाणा बोर्ड दोनों की तरफ से स्थगित कर दिया गया है। अब अगले सत्र से इन कक्षाओं के लिए बोर्ड परीक्षा आयोजित की जाएंगी।’

कोरोना के कारण स्कूलों में बच्चों की शिक्षा पहले ही प्रभावित हुई है और ऐसे में 5वीं और 8वीं कक्षा में बोर्ड परीक्षाएं शुरू करने के सरकार के फैसले का अभिभावक विरोध कर रहे थे। बच्चों और अभिभावकों के विरोध प्रदर्शन के बाद अब हरियाणा सरकार ने यह फैसला एक साल के लिए टाल दिया है। हरियाणा में अब इस शैक्षणिक सत्र में 1 साल के लिए पांचवीं, आठवीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं नहीं होंगी। 

मुख्यमंत्री खट्टर की ओर से दी गई सूचना के मुताबिक अगले सत्र से 5वीं और 8वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा चालू की जाएंगी। चालू सत्र में स्कूल स्कूल अपने स्तर पर ही परीक्षा लेंगे। बता दें कि, हरियाणा सरकार (Haryana Government) द्वारा कक्षा 5वीं और 8वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं करवाने के प्रस्ताव से अभिभावक खुश नहीं थे और सरकार के इस फैसले का विरोध कर रहे थे।

हरियाणा सरकार के इस फैसले को लेकर हरियाणा के स्कूलों के संगठनों ने 9 फरवरी को पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट में एक याचिका दायर की थी, जिसमें बोर्ड परीक्षा लेने के निर्णय को चुनौती दी गई है। 10 फरवरी को इस मामले की सुनवाई हुई थी, जिसमें कोर्ट ने 4 अप्रैल को होने वाली अपनी सुनवाई तक फैसला सुरक्षित रखा है। वहीं मामले को बढ़ता देख राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर 25 फरवरी को इस मुद्दे पर स्कूलों संघों के साथ बैठक करने वाले हैं। 

Latest Education News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Exams News in Hindi के लिए क्लिक करें एजुकेशन सेक्‍शन