ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. सिनेमा
  4. टीवी
  5. सिद्धार्थ शुक्ला को याद कर शहनाज ने कहा- 'उनकी शक्ल बदली है, लेकिन वो फिर आ चुके हैं'

सिद्धार्थ शुक्ला को याद कर शहनाज ने कहा- 'उनकी शक्ल बदली है, लेकिन वो फिर आ चुके हैं'

शहनाज गिल और स्पिरिचुअल टीचर बीके शिवानी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया है। इस वीडियो में शहनाज गिल स्पिरिचुअल बातें करती दिख रही हैं।

India TV Entertainment Desk Written by: India TV Entertainment Desk
Published on: January 05, 2022 11:17 IST
शहनाज गिल- India TV Hindi
Image Source : INST/SHEHNAAZGILL शहनाज गिल

बिग बॉस 13 के विनर सिद्धार्थ शुक्ला के निधन के बाद से ही उनकी खास दोस्त शहनाज गिल कापी टूट गईे थी, लेकिन अब धीरे-धीरे वो इससे उबरने की कोशिश कर रही हैं।शहनाज गिल सिद्धार्थ की मौत के पांच महीने के बाद पहली बार शहनाज ने खुलकर बात की है। शहनाज गिल और स्पिरिचुअल टीचर बीके शिवानी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया है। इस वीडियो में शहनाज गिल स्पिरिचुअल बातें करती दिख रही हैं।

शहनाज गिल ने अपने यूट्यूब चैनल पर करीब एक घंटे का एक वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो में शहनाज ने बीके शिवानी से बात करते हुए कहा, ‘मैं सिद्धार्थ शुक्ला से कई बार कहती थीं कि मुझे बहन शिवानी (ब्रह्माकुमारी बी.के. शिवानी) से मिलना है। मुझे वह बहुत पसंद हैं, तब वो हमेशा कहते थे, बिलकुल एक दिन जरूर मिलेगी, चिल कर और वो हुआ। मैं आपसे मिली। आपसे मिलने का मेरा हमेशा से इरादा था और वह शायद किसी तरह आप तक पहुंचा, तो फिर हम जुड़े।

सिद्धार्थ शुक्ला को याद करते हुए शहनाज ने कहा, ‘मैं अक्सर सोचती हूं कि उस आत्मा ने मुझे इतना ज्ञान कैसे दे दिया। मैं पहले लोगों का विश्लेषण नहीं कर पती थी। मैं उस समय वाकई मासूम थी, लेकिन उस आत्मा ने मुझे जीवन में बहुत कुछ सिखाया। भगवान ने मुझे उस आत्मा से मिलवाया और हमें दोस्त की तरह साथ रखा ताकि वह मुझे जीवन में कुछ सिखा सके।'

शहनाज ने कहा, ‘किसी न किसी का कोई न कोई चला ही जाता है। हमें हमेशा ये नहीं सोचना चाहिए कि हमें और रहना था। अभी मेरा ये नहीं पूरा हुआ... मैं भी पहले बॉडी को लेकर ज्यादा सहज थी, लेकिन अब मैं आत्मा को लेकर ज्यादा सहज हूं।’

उन्होंने कहा, ‘पिछले डेढ़-दो सालों में मैंने बहुत कुछ सीखा है। मेरा रास्ता ईश्वर की ओर जाने वाला था और शायद इसीलिए वो आत्मा मेरे जीवन में आई। उन्होंने मुझे बहुत कुछ सिखाया। उसने मुझे आप जैसे लोगों से मिलवाया। अब मैं सब कुछ मजबूती से संभाल सकती हूं, मैं अब बहुत मजबूत हूं’।

शहनाज गिल आगे कहती हैं, ‘हमारा सफर अभी जारी है, उनका सफर पूरा हो चुका है। उनका कपड़ा बदल हो चुका है, लेकिन वो कही न कही आ चुके हैं। उनकी शक्ल बदल गई है, लेकिन वो दोबारा इस रूप में आ चुके हैं। उनका अकाउंट मेरे साथ अभी के लिए बंद हो गया है, फिर शायद कभी जारी होगा।’ शहनाज आगे कहती हैं कि किसी के जाने पर रोने से केवल दर्द बढ़ेगा, कम नहीं होगा।

elections-2022